क्या राजस्थान में हुई हिंसा के बाद अशोक गहलोत ने कहा – ‘हिंदुत्व के माहौल से डर गये है’?

Missing Context Political

यह वीडियो वर्तमान में हुई हिंसा के बाद का नहीं, बल्की एक साल पहले का है।

राजस्थान में हाल ही में कई जगहों पर दो समुदाय के बीच हिंसा हुई। जिसको लेकर इंटरनेट पर कई वीडियो व तस्वीरें साझा की गयी थी। इसको जोड़कर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का एक वीडियो सामने आ रहा है। 

उसमें आप उन्हें ये कहते हुये सुन सकते है कि “माहौल हिंदुत्व का बन गया है, हम भी घबरा गये है। वोट देंगे नहीं लोग, घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है, हमें दबंग होकर हमारी विचारधारा पर चलना है।“ दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो राजस्थान में वर्तमान में हुई हिंसा के बाद का है।

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ यूज़र ने लिखा है, “छद्म सेक्युलरिस्ट की सबसे बड़ी पीड़ा है कि देश में हिन्दुत्व का जागरण का होना है। राजस्थान में हिन्दूओ पर जगह जगह हमले होने कारण भी शायद यही है। “माहौल हिंदुत्व का बन गया है हम भी घबरा गये है” – अशोक गेहलोत की स्वीकृति” 

फेसबुक 

आर्काइव लिंक


Read Also: रूस के मॉस्को शहर में सड़क पर नमाज़ पढ़ रहे लोगों के वीडियो को फ्रांस का बता वायरल किया जा रहा है।


अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस वीडियो की जाँच हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च कर की। हमें इसका मूल वीडियो 9 अप्रैल 2021 को झी राजस्थान के आधिकारिक चैनल पर प्रसारित किया हुआ मिला। इस वीडियो में आप 29.39 मिनट से आगे तक वायरल हो रहे वीडियो को देख सकते है।

इसके साथ दी गयी जानकारी में बताया गया है कि भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (एन.एस.यू.आई) के स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीडियो कॉन्फरेंस के ज़रिये इस प्रोग्राम को संबोधित किया था।

आर्काइव लिंक

आगे बढ़ते हुये 9 अप्रैल 2021 को प्रकाशित हिंदुस्तान के लेख में हमने पाया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एन.एस.यू.आई के 51वें स्थापना दिवस पर राजस्थान के एन.एस.यू.आई कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम को ऑनलाइन संबोधित किया था। एन.एस.यू.आई के छात्रों को संबोधित करते हुये उन्होंने भाजपा, आर.एस.एस पर निशाना साधते हुये कहा था कि छात्रों को निडर होकर अपनी विचारधारा पर चलना है। 

उन्होंने यह भी कहा कि कामयाब वही होता है चो सच्चाई के रास्ते पर चलता है। उन्होंने कहा, “भाजपा और आर.एस.एस वाले सिर्फ हिन्दुत्व की बात करते है। तो माहौल हिन्दुत्व का बन गया है और हम भी घबरा गये है। वोट देंगे ही नहीं हमें लोग। घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है।“


Read Also: मेरठ में सड़क पर नमाज न पढ़ने का यह बैनर तीन साल पुराना; गलत दावे के साथ फिर से वायरल


निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। यह वीडियो वर्तमान का नहीं, बल्की पिछले साल का है। इसका हाल ही में राजस्थान में हुई हिंसा से कोई संबन्ध नहीं है।

Avatar

Title:क्या राजस्थान में हुई हिंसा के बाद अशोक गहलोत ने कहा – ‘हिंदुत्व के माहौल से डर गये है’?

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: Missing Context

Leave a Reply