प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना की तीसरी लहर के चलते संपूर्ण देश में लॉकडाउन की घोषणा की खबर फर्जी है |

Coronavirus False Political

सोशल मीडिया पर कोरोनावायरस को लेकर पिछले साल से ही कई भ्रामक व फर्जी ख़बरें फैलाई जा रही है | वर्तमान में देश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर को लेकर कई अटकलें व अनुमान लगाये जा रहें हैं और इन सब के बीच सोशल मंचों पर एक वीडियो वायरल हो रहा है | इस वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि पीएम मोदी ने देश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर को देखते हुए एक बड़ा ऐलान करते हुए संपूर्ण देश में लॉकडाउन लगा दिया है |

फैक्ट क्रेसेंडो ने इस वीडियो की जाँच कर पाया है कि यह वीडियो एडिट कर गलत जानकारी फ़ैलाने के उद्देश्य से बनाया गया है | न्यूज़ चैनलों के वीडियो को जोड़कर व दुरुपयोग करते हुए यह फर्जी पोस्‍ट तैयार किया गया है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि 

“देश में लॉकडाउन का ऐलान, तीसरी लहर के मद्देनजर बड़ा फ़ैसला |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि

फैक्ट क्रेसेंडो ने इस वीडियो की जाँच कर पाया है कि यह वीडियो एडिट कर गलत जानकारी फ़ैलाने के उद्देश्य से बनाया गया है | न्यूज़ चैनलों के अलग अलग ख़बरों के वीडियो को जोड़कर व दुरुपयोग करते हुए यह फर्जी पोस्‍ट तैयार की गई है |

जाँच की शुरुवात हमने ने सबसे पहले वायरल हुए वीडियो को ध्‍यान से देखने से की, जिसके परिणाम से हमें पत्रकार निशांत चतुर्वेदी नजर आए | वे टीवी ९ भारतवर्ष से जुड़े हुए हैं, जबकि वायरल वीडियो के थंबनेल में न्‍यूज २४ का लोगो इस्‍तेमाल किया गया था | पूरा वीडियो देखने से हमें पता चला कि टीवी 9 भारतवर्ष की अलग-अलग खबरों को जोड़कर यह वीडियो बनाया गया है | इसके बाद न्‍यूज 24 का लोगो इस्‍तेमाल करके पूरी फेक पोस्‍ट तैयार की गई है | वीडियो को एडिट करने के साथ ही इसमें कई लाइनें अलग से जोड़ी गई हैं | 

पड़ताल के दौरान हमें टीवी 9 भारत वर्ष के यूट्यूब चैनल पर 29 जून 2021 को एक खबर प्रसारित मिली | इसमें यही सदृश्य क्लिप थी, जिसे वायरल वीडियो में देखा जा सकता है |

इस सम्बन्ध में फैक्ट क्रेसेंडो ने न्यूज २४ के एग्जीक्यूटिव एडिटर सुकेश रंजन से संपर्क किया जिन्होंने हमें बताया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो फर्जी है और उनके चैनल द्वारा ऐसी कोई भी कोरोना की तीसरी लहर से जुडी ख़बर जहाँ लॉकडाउन कि घोषणा की गई हो प्रसारित नहीं की गई है | साथ ही उन्होंने हमें बताया कि न्यूज 24 एक जिम्मेदार न्यूज चैनल है | वायरल हो रहा वीडियो तथ्यों से परे और भ्रमित करने वाला है |

तद्पश्चात फैक्ट क्रेसेंडो ने टीवी ९ भारतवर्ष  सीनियर एडिटर से वायरल हो रही पोस्ट को लेकर संपर्क किया | उन्‍होंने हमें बताया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्‍ट फर्जी है | किसी ने हमारे चैनल द्वारा रिलीज़ किये गए फुटेज को एडिट करके गलत दावे के साथ वायरल किया है | 

इस तस्वीर के बारे में पीआईबी ने ट्वीट कर लिखा- एक फर्जी तस्वीर में पीएम मोदी के हवाले से कोरोना की तीसरी लहर शुरू होने व लॉकडाउन लगाने का दावा किया गया है | पीएम द्वारा ऐसा कोई ऐलान नहीं किया गया है | कृपया ऐसे भ्रामक संदेशों को साझा न करें और कोरोना से बचाव के लिए कोविड उपयुक्त व्यवहार अवश्य अपनाएं |

पीआईबी ने लिखा कि पीएम मोदी ने कोरोना की तीसरी लहर शुरू होने और लॉकडाउन लगाने के संदर्भ में ऐसी कोई घोषणा नहीं की है |

आर्काइव लिंक 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त तस्वीर व वीडियो के माध्यम से किये गये दावे को गलत पाया है | सोशल मंचों पर वायरल हो रहा वीडियो अलग अलग ख़बरों के वीडियो को एडिट कर उनके हिस्सों को जोड़कर भ्रामक संदेश फ़ैलाने के उद्देश्य से बनाया गया है | कोरोना के तीसरी लहर को लेकर सम्पूर्ण भारत में लॉकडाउन की घोषणा होने की खबर फर्जी है |

हमारे द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:-

1. सिलीगुड़ी में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा उनके भाषण में कहे “चोरी सम्बंधित” वक्तव्य को सन्दर्भ से बाहर फैलाया जा रहा है |

2. श्रीनगर में डल झील के किनारे अतिक्रमण हटाने के वीडियो को रोहिंग्याओं मुस्लिमों की अवैध बस्तियों को ध्वस्त करने का बता फैलाया जा रहा है| 

3. 

Avatar

Title:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना की तीसरी लहर के चलते संपूर्ण देश में लॉकडाउन की घोषणा की खबर फर्जी है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •