FactCheck: कर्नाटका के कोलार शहर की घटना को उत्तरप्रदेश का बता वायरल किया जा रहा है।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मंचो पर एक CCTV फुटेज काफी चर्चा में है, वीडियो में हम दो लड़कियों को सड़क पर चलते हुये देख सकते हैं, और फिर अचानक एक गाड़ी जो वहां से गुजरती है जिसमें से एक शख्स उतरता है और एक लड़की को जबरन गाड़ी में खींच कर वहां से रवाना हो जाता है, इस वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक वीडियो में दिखाई गयी घटना उत्तर प्रदेश की है।

वीडियो के शीर्षक में लिखा है, 

“उत्तर प्रदेश में दिनदहाड़े बेटियों को उठाया जा रहा है”

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Kolar Kidnap.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

इस वीडियो को सोशल मंचो पर काफी साझा किया जा रहा है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Kolar Kidnap4.png

अनुसंधान से पता चलता है कि…

घटना उत्तर प्रदेश से नहीं है, ये घटना कर्नाटक के कोलार शहर की है।

सबसे पहले हमने उपरोक्त वीडियो की जाँच कीवर्ड सर्च के माध्यम से की तो हमें उत्तर प्रदेश में हाल ही में लड़की के अपहरण की ऐसी कोई खबर नहीं मिली और ना ही वायरल हो रहा वीडियो मिला। इसके पश्चात हमने इनवीड टूल के माध्यम से रीवर्स इमेज सर्च के ज़रिये जाँच की तो हमें कई समाचार लेख मिले जिनमें लिखा था कि वीडियो में दिख रही घटना कर्नाटका के कोलार शहर की है।

समाचार लेखों के मुताबिक यह घटना 13 अगस्त 2020 की है। समाचार लेखों में लिखा है कि.. 

यह घटना दिन में लगभग 11.30 बजे की है, लड़की का अपहरण तीन लोगो ने मिलकर किया है। आरोपियों का नाम शिवशंकर, बालाजी और दीपक है। ऐसा बताया गया है कि इन अपराधियों में से  एक ने उस लड़की के सामने उससे विवाह करने का प्रस्ताव रखा था, परंतु उस लड़की ने उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया जिसके चलते उस लड़के ने उस लड़की का अपहरण कर लिया था।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Kolar Kidnap5.png
द न्यूज़ मिनटआर्काइव लिंक
टी.वी9 कन्नडाआर्काइव लिंक
मैंग्लोग टूडेआर्काइव लिंक

इस घटना का वीडियो द न्यूज़ मिनट ने अपने यूट्यूब चैनल पर भी प्रसारित किया है।

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमने कोलार के एस.पी कार्थिक रेड्डी से संपर्क किया तो उन्होंने हमें बताया कि, 

“वायरल हो रहा वीडियो कोलार शहर का है। ये घटना अगस्त में हुई थी। ये 22 वर्ष की लड़की है, वह अपनी बहन के साथ मंदिर जा रही थी। उसी दौरान तीन लड़को ने गाड़ी में आकर उस लड़की को रास्ते से अगवा कर लिया था। उन तीनों में से एक लड़के को इस लड़की से प्रेम था, जिसके चलते उस लड़के ने लड़की के परिवार वालों से शादी की बात की थी, परंतु उसके परिवार वालों ने उसके शादी के प्रस्ताव को ठुकरा दिया और इस वजह से लड़की ने भी उससे विवाह करने से इनकार कर दिया था। इस प्रकरण के बाद लॉकडाउन लग गया जिसके चलते वह लड़की कई दिनों तक घर से बाहर नहीं आई थी। उस दिन मंदिर से लौटते वक्त उस लड़के ने उसके साथियों सहित उस लड़की को अगवा कर लिया। उसके बाद 24 घंटों के अंदर हमने उस लड़की को तुमकुर शहर में ट्रैक किया। वहाँ वे लड़के उसे एक हॉटेल में ले जाकर शादी के लिए मना रहे थे। तुमकुर पुलिस व कोलार पुलिस ने मिलकर उन लड़को को पकड़ा फिर कोलार पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था और अब वे लड़के जुडिशियल कस्टडी में है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत पाया है। वाईरल हो रहा वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं बल्की कर्नाटका के कोलार शहर का है।

Avatar

Title:FactCheck: कर्नाटका के कोलार शहर की घटना को उत्तरप्रदेश का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply