जापान में इस पुल का निर्माण २४ घंटे में नहीं किया गया था |

False International
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यू-आकार की सड़क की एक तस्वीर इस दावे के साथ साझा की जा रही है कि जापान में २४ घंटे के भीतर भूस्खलन के बाद यातायात के प्रवाह को बनाए रखने के लिए एक आपातकालीन सड़क का निर्माण किया गया है |

१३ अक्टूबर २०१९ को “डोंटगेटसीरियस” नामक फेसबुक पेज ने एक तस्वीर अपलोड की जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “जापान में एक बड़ी आपदा के बाद २४ घंटे के भीतर आपातकालीन सड़क का निर्माण किया गया है ताकि मुख्य भूस्खलन से कवर होने के बाद यातायात का प्रवाह बनाए रखा जा सके |” फैक्ट चेक किये जाने तक यह तस्वीर २३९ प्रतिक्रियाएं प्राप्त कर चुकी थी |

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि… 

जाँच की शुरुआत हमने इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट लेकर गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसके परिणाम से हमें १३ अक्टूबर २०१९ को एफ्फी सहरुदीन नामक ट्विटर यूजर द्वारा की गयी ट्वीट मिली, इस तस्वीर को अपलोड करते हुए उन्होंने लिखा है कि “गलत शीर्षक- २०१८  में फुकुई शहर, फुकुई प्रान्त में एक भूस्खलन के बाद 2 महीने में इस सड़क का निर्माण किया गया था | २०८ मीटर का पुल अस्थायी है और इस साल पुराने सड़क के पुनर्निर्माण के बाद इसे हटा दिया जाएगा |”

साथ इस ट्वीट में दी गयी जानकारी का सोर्स- फुकुइंप नामक वेबसाइट का लिंक  भी दिया गया है | 

आर्काइव लिंक 

१ नवंबर २०१८ को फुकुइंप  की वेबसाइट पर प्रकाशित लेख में कहा गया कि जापान के फुकुई शहर में स्थित अस्थायी सड़क को भारी बारिश के कारण मुख्य सड़क पर भूस्खलन होने के चार महीने बाद यातायात के लिए खोला गया था | ५ और ८  जुलाई, २०१८ के बीच, फुकुई प्रान्त में कई राजमार्गों और सड़कों पर भूस्खलन के कारण यातायात बंद हो गया था | 

आर्काइव लिंक

१ नवंबर, २०१८  के लेख के अनुसार, ३१ अक्टूबर २०१८  को यह अस्थायी सड़क को यातायात के लिए खोला गया है | यह वो ही तस्वीर है जिसे हम वायरल तस्वीर में देख सकते है | 

जापानी मीडिया संगठन Fbc Ojama ने अपने आधिकारिक ट्विटर से इस खबर को प्रकाशित करते हुए लिखा है कि “[आज की खबर] फुकुई शहर में कोशित्सु क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या ३०५ के समुद्र के किनारे ४५ मीटर यू-आकार की अस्थायी सड़क बनकर तैयार हो गई है, जो जुलाई में भूस्खलन के कारण बंद हो गई थी | वीडियो के लिए यहां क्लिक करें |”

आर्काइव लिंक 

इस ट्वीट में अपलोड की गयी तस्वीर के साथ वायरल तस्वीर का तुलनात्मक विश्लेषण आप नीचे देख सकते है | 

३० अक्टूबर २०१८ को एक अन्य जापानी समाचार एजेंसी ‘योमिउरी  शिंबुन’ द्वारा किए गए एक ट्वीट में जानकारी है कि जुलाई में भूस्खलन के कारण अवरुद्ध राष्ट्रीय राजमार्ग-३०५  को नए ‘यू’ आकार वाले पुल के माध्यम से ३१ अक्टूबर २०१८ को यातायात के लिए खोल दिया गया है | उस ट्वीट में उस नवनिर्मित पुल के एरियल व्यू तस्वीरें भी थे |

आर्काइव लिंक

९ अगस्त २०१८ को प्रकाशित “फुकुई शिंबुन” द्वारा प्रकाशित  लेख में इस बात की जानकारी है कि फुकुई प्रांत के अधिकारी कैसे राजमार्ग-३०५ पर एक पुल के निर्माण की योजना पर विचार कर रहे हैं जो भूस्खलन तलछट के कारण अवरुद्ध हो गया था |

आर्काइव लिंक 

फुकुई शिंबुन ने २ अगस्त २०१८ को इस भूस्खलन का एक वीडियो भी अपलोड किया था | वीडियो के विवरण में लिखा गया है कि “फुकुई प्रान्त में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या ३०५ जहां पश्चिमी जापान में भारी बारिश से भूस्खलन हुआ था |”

इस सड़क की वीडियो नीचे देख सकते है | ५ नवंबर २०१८ को अपलोड किये गये वीडियो के विवरण में लिखा गया है कि “फुकुई प्रान्त में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या ३०५, २०१८ में पश्चिम जापान में भारी बारिश से क्षतिग्रस्त हो गया और बंद हो गया था, लेकिन अक्टूबर के अंत में अस्थायी रूप से एक सड़क बना दिया गया |

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | हालांकि अस्थायी सड़क के निर्माण की समय अवधि स्पष्ट नहीं है, लेकिन खबरों के मुताबिक, निर्माण भूस्खलन के हफ्तों और महीनों बाद ख़तम हुआ था, जो स्पष्ट रूप से इंगित करता है कि इसका निर्माण रातोंरात नहीं किया गया था | उस पूरी परियोजना को पूरा होने में लगभग ४  महीने लगे और पुल के निर्माण में लगभग २ महीने लगे | हमने पाया कि इस अस्थायी सड़क को चार महीने के बाद यातायात के लिए खोला गया था, नाही २४ घंटे में जैसा की सोशल मीडिया पर दावा किया गया है |

Avatar

Title:जापान में इस पुल का निर्माण २४ घंटे में नहीं किया गया था |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply