२०१८ में हुये एक प्रकरण को वर्तमान किसानों द्वारा किये गए विरोध का बता वायरल किया जा रहा है ।

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वर्तमान में कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसान आंदोलनों के चलते ऐसी कई खबरें आ रही है, जिनमें किसानों द्वारा नेताओं के साथ किए गये बर्ताव की जानकारी दी जा रही हैं। ऐसे में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की एक तस्वीर वर्तमान में सोशल मंचो पर वायरल होती दिख रही है जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि मनोहर लाल खट्टर का हरियाणा के रोहतक में किसानों ने विरोध कर उनपर कालिख पोत दी।

आपको बता दें कि हालही में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर रोहतक गये थे जहाँ उन्हें किसानों द्वारा किये गये विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा था और इस कालिख पोतने की तस्वीर को इसी विरोध के दौरान का बताया जा रहा है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है,

रोहतक में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर साहब कल की तस्वीर है। जय किसान, विजयी किसान, किसान एकता जिंदाबाद।“ 

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही तस्वीर वर्ष २०१८ की है जब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर हिसार में एक रोड़ शो के लिए गये थे, तब वहाँ पर उनके साथ ये घटना घटी थी। इस घटना का रोहतक या किसान आंदोलन से कोई संबन्ध नहीं है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे दावे को गूगल पर कीवर्ड सर्च किया, परिणाम में हमें अमर उजाला का समाचार लेख मिला जिसमें ये तस्वीर प्रकाशित की गयी थी। यह समाचार लेख 19 मई 2018 में प्रकाशित किया गया था। समाचार लेख के मुताबिक मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर वर्ष 2018 में हिसार एक रोड़ शो के लिए गये थे और उसी दौरान प्रवीण पहलवान नामक एक युवक ने उनके ऊपर काला तेल फेंका व जाट आरक्षण जिंदाबाद व देवी लाल ज़िंदाबाद के नारे लगाये थे।

उस युवक को पुलिस ने उसी समय में हिरासत में ले लिया था।

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात यूट्यूब पर और अधिक जानकारी के लिए हमने कीवर्ड सर्च किया तो हमें जी हिंदुस्तान द्वारा 17 मई 2018 को प्रसारित किया हुआ एक वीडियो मिला, जिसमें इस पूरी घटना की रिपोर्ट दिखायी गयी है। वीडियो के शीर्षक में लिखा है,“हिसार : हिसार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर काला तेल फेंका” व इसके नीचे दी गयी जानकारी में लिखा है, “हरियाणा के हिसार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर एक युवक ने काला तेल फेंक दिया। एक कार्यक्रम के सिलसिले में सीएम मनोहर लाल खट्टर पहुंचे थे। युवक ने देवीलाल ज़िंदाबाद के नारे भी लगाए.आरोपी युवक को हिरासत में ले लिया है।“

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात फैक्ट क्रेसेंडो ने रोहतक के एस.पी राहुल शर्मा से संपर्क किया व उनसे जानने की कोशिश की कि क्या रोहतक में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर काला तेल फेंका गया। उन्होंने साफ इनकार करते हुए हमसे कहा कि, “वायरल हो रहा दावा सरासर गलत है। मुख्यमंत्री जब रोहतक आए थे, तब उनके साथ ऐसी कोई भी घटना नहीं घटी थी। कुछ वर्षों पहले जब मुख्यमंत्री हिसार गये थे, तब उनके ऊपर काला तेल फेंका गया था। उनके ऊपर रोहतक में काला तेल फेंकने वाला दावा गलत है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि उपरोक्त दावा गलत है| वायरल हो रही तस्वीर वर्ष 2018 की है जब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर हिसार में एक रोड़ शो के लिए गये थे, तब वहाँ पर उनके साथ ये घटना घटी थी। इस घटना का वर्तमान से या फिर रोहतक या किसान आंदोलन से कोई संबद्ध नहीं है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. अमूल आइसक्रीम में सूअर की चर्बी इस्तेमाल होने के दावे फर्जी हैं |

२. 2016 में केलिफोर्निया के टर्लोक सीटी के एक गुरुद्वारे में हुई झडप को कनाडा व भारत से जोड़ वायरल किया जा रहा है।

३. क्या राकेश टिकैत पर गाजीपुर में लगे टेन्टों के किराये का भुगतान न करने पर उत्तरप्रदेश में एफ.आई.आर दर्ज की गई? जानिये सच…

Avatar

Title:२०१८ में हुये एक प्रकरण को वर्तमान किसानों द्वारा किये गए विरोध का बता वायरल किया जा रहा है ।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply