FAKE NEWS: आई.एफ.एस स्नेहा दुबे के नाम से वायरल हो रहा है फर्जी ट्वीट ।

Political

हालही में आई.एफ.एस स्नेहा दुबे ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGC) में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को करारा जबाब दिया, उनके द्वारा दिए गए भाषण को बहुत सराहा गया है और स्नेहा दुबे की पूरे देश में बहुत प्रशंसा की जा रही है। इस बीच इंटरनेट पर आज तक न्यूज़ चैनल की एंकर अंजना ओम कश्यप और आई.एफ.एस स्नेहा दुबे का वीडियो वायरल हो रहा है। उसमें आप देख सकते है कि एंकर अंजना ओम कश्यप स्नेहा दुबे से सवाल पुछ रही है और स्नेहा दुबे ने हाथ से इशारा कर उन्हें बाहर जाने को कह रही हैं। इस संबन्ध में इंटरनेट पर एक ट्वीट की तस्वीर वायरल हो रही है। उसमें लिखा है कि, 

देश के पत्रकारों को विदेश में भारत का मान रखना सीखना होगा। हर जगह अपना माइक लेकर नहीं जाया जा सकता है।“ 

इसके साथ दावा किया जा रहा है कि यह ट्वीट आई.एफ.एस स्नेहा दुबे ने किया है।

वायरल हो रहे पोस्ट में यूज़र ने लिखा है, 

“देश की जांबाज बेटी स्नेहा दुबे जी का भारत के पत्रकारों को नसिहत। अंजना कश्यप को अपने दफ्तर से हाथ झटक कर बाहर भगाने के बाद स्नेहा दुबे जी भारत के बत्तमीज मिडिया को तुरंत ट्वीट कर के भारत की मान रखने का निर्देश दीइसके पहले भी अमेरिका के पत्रकार ने भारत के मिडिया की निंदा की थी और कहा। मै भारत का डरपोक और बिका हुआ पत्रकार नहीं हूँ। अगर थोड़ी भी शर्म बची है तो अब से टीआरपी के लिए चापलूसी करना और दंगा करवाना बंद कर दो और जनता को गुमराह मत करिये सही खबरे दिखाइये। या तो चुल्लू भर पानी में डूब मरो दलालो। यहाँ तो अपनी नाक कटवा ही लिए थे विदेश में भी जाकर भारत की नाक कटा कर आ गयी अंजना तिवारी कश्यप जी।“

(शब्दशः)

फेसबुक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान इस ट्वीट को फर्ज़ी पाया है। आई.एफ.एस स्नेहा दुबे ने अपने आधिकारिक हैंडल से ऐसा कोई ट्वीट नहीं किया है। 

जाँच की शुरुवात हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च की, परिणाम में हमें ऐसा कोई भी विश्वसनीय समाचार लेख नहीं मिला जिसमें ये जानकारी दी गयी हो कि आई.एफ.एस स्नेहा दुबे ने भारत के पत्रकारों के संबन्ध में ऐसा कोई ट्वीट किया हो।

हमने पाया कि जिस अकाउंट से ट्वीट से ये ट्वीट किया गया है उसका नाम @SnehaDubey_ है। इसके बाद हमने इस ट्वीटर हैंडल को खोजने की कोशिश की। नतीजन हमें यह ट्वीटर हैंडल मिला और वहाँ हमने लिखा हुआ पाया, यह खाता मौजूद नहीं है। 

आर्काइव लिंक

यह देखकर हमें समझ आया कि यह आई.एफ.एस स्नेहा दुबे का आधिकारिक ट्वीटर हैंडल नहीं है। इसके पश्चात हमने स्नेहा दुबे के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल का शोध किया। हमें उनका ट्वीटर हैंडल मिला व उसका आई.डी @snehadube है।

आर्काइव लिंक

हमने उनके ट्वीटर हैंडल को खंगाला व वहाँ हमें ऐसा कोई भी ट्वीट नहीं मिला जिसमें उनके द्वारा देश के पत्रकारों के विषय में टिप्पणी की गई है, जिस ट्विटर हैंडल से स्नेहा दुबे बन ट्वीट किया गया है उस हैंडल को ट्विटर से हटा दिया गया है और यह हैंडल स्नेहा दुबे के नाम से बनाया गया था जो कि जाली था । 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रही तस्वीर के साथ किया गया दावा गलत है। तस्वीर में दिख रहा ट्वीट फर्ज़ी है। आई.एफ.एस स्नेहा दुबे ने अपने आधिकारिक हैंडल से ऐसा कोई ट्वीट नहीं किया है।

तालिबान के अफ़ग़ानिस्तान पर कब्ज़े से संबंधित अन्य फैक्ट चेक को आप नीचे पढ़ सकते है|

Avatar

Title:आई.एफ.एस स्नेहा दुबे के नाम से वायरल हो रहा है फर्जी ट्वीट ।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply