क्या केरल में ‘अगर गो मांस खाना है तो कांग्रेस को लाना है’ लिखा बैनर लगा है?

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१६ अप्रैल २०१९ को ‘फैक्ट क्रेसेंड़ो’ को हमारे एक विजिटर की ओर से एक बैनर साझा किया गया व हमसे आग्रह किया गया की इसके तथ्य की जांच की जाए | इस बैनर में एक आदमी किसी होटल में खाना खाते हुए नजर आ रहा है | उपर कांगेस का चुनाव चिन्ह है और खाना खाते हुए आदमी के बाजू में मलयालम भाषा में कुछ लिखा है | नीचे राहुल गांधी का फोटो है और उसके बाजू में भी मलयालम में कुछ लिखा है | एक कोने में UDF का लोगों है | बैनर के कैप्शन में लिखा है कि- ‘#कांग्रेस का #पोस्टर केरल में पोस्ट पर लिखा है….अगर #गौ_मांस खाना है तो कांग्रेस को लाना है?  

हमने इस अनुरोध को स्वीकार किया एवं फैक्ट चेक की शुरुआत की |

इस दावे को जब हमने अन्य सोशल मीडिया मंचों पर ढूंढा, तो हमें फेसबुक पर एक पोस्ट भी मिला, जो आप नीचे देख सकते है |

१६ अप्रैल २०१९ को फेसबुक पर Navin Prakash Tiwari’ नामक एक यूजर ने यह पोस्ट साझा की है | पोस्ट में यही बैनर दिया गया है व हैडलाइन में दावा किया गया है की-

जरा गौर फरमाईए …
अगर गो-मांस खाना है
तो कांग्रेस को लाना है “
# केरल

ARCHIVE POST

संशोधन से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने पोस्ट में साझा किये गए बैनर को रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें जो परिणाम मिले, वह आप नीचे देख सकते है |

इस संशोधन से हमें कुछ खास परिणाम नहीं मिलने पर हमने सर्च को ट्वीटर की ओर बढाया तो इसी विषय पर कुछ ट्वीट भी मिले, जो आप नीचे देख सकते है |

ARCHIVE TWEET

ARCHIVE TWEET

ARCHIVE TWEET

इन सभी ट्वीट में तक़रीबन एक ही दावा किया जा रहा है | चूँकि बैनर में मलयालम भाषा का प्रयोग किया गया है, तो हमने हमारे भाषा विशेषज्ञ से बैनर पर लिखे सामग्री का हिंदी में सरल अनुवाद करवाया | यह अनुवाद पढने के बाद असल कहानी समझ में आती है |

अब आप भी पढ़िए क्या लिखा है-

लाल रिवर्स पट्टी पर लिखा है- ‘मैं जानना चाहता हूं’

उसके नीचे बड़े अक्षरों में लिखा है – ‘खाने के नाम पर हत्याइस देश मेंइस ज़माने में?

उसके नीचे छोटे अक्षरों में लिखा है – ‘हमें ऐसी असभ्य राजनीति नहीं चाहिए. ऐसे लोगों को चुनें जो भेदभाव न करते हो’

इसके बाद राहुल गांधी के फोटो के बाजू में एक पंच लाइन है, जिसमे लिखा है- ‘हम इस देश को फिर से हासिल करेंगे’

इसका सीधा मतलब यह है कि मलयालम में जो लिखा है, वह हिंदी में गलत तरीके से भाषांतरण कर साझा किया जा रहा है |

जांच का परिणाम :  इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा कि, ‘#कांग्रेस का #पोस्टर केरल में पोस्ट पर लिखा है….अगर #गौ_मांस खाना है तो कांग्रेस को लाना है? सरासर गलत है | बैनर पर मलयालम में ऐसा नहीं लिखा है |

Avatar

Title:क्या केरल में ‘अगर गो मांस खाना है तो कांग्रेस को लाना है’ लिखा बैनर लगा है?

Fact Check By: Rajesh Pillewar 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •