CLIPPED VIDEO: – राकेश टिकैत के द्वारा दिए गये बयान के मूल वीडियो के एक हिस्से को काटकर सन्दर्भ के बाहर फैलाया जा रहा है |

Missing Context National

सोशल मीडिया पर किसान नेता राकेश टिकैत द्वारा मीडिया को दिए जा रहे बयान का एक ११ सेकंड का वीडियो वायरल हो रहा है | इस वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि किसान नेता राकेश टिकैत ने मीडिया संगठनों को खुले आम धमकी दी है और साथ ही उनके इस बयान को लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला बताया जा रहा है| 

इस ११ सेकेंड के वीडियो में राकेश टिकैत को कहते हुए सुना जा सकता है कि, “अगला टॉरगेट मीडिया हाउस है | आपको बचना है तो साथ दे दो, नहीं तो आप भी गये |” 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि 

राकेश टिकैत का अगला टारगेट मीडिया हाउस !! चौथे स्तंभ को खुलेआम चुनौती ?? 

(शब्दशः) 

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने शोध कर पाया है कि वायरल हो रहा वीडियो उनके द्वारा दिए गए बयान के मूल वीडियो के एक छोटे से हिस्से को काटकर सन्दर्भ के बहार फैलाया जा रहा है | मूल वीडियो में राकेश टिकैत मीडिया संगठनों को धमकी नही दे रहे है बल्कि केंद्रीय सरकार के बारें में बात करते हुये कह रहें हैं कि सरकार का अगला निशाना मीडिया हाउस होंगे |

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को इन्विड वी वेरीफाई टूल की मदद से छोटे कीफ्रेम्स में तोड़कर व गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने से किया | परिणाम से हमें २८ सितम्बर २०२१ को समाचार एजेंसी ए.एन.आई द्वारा प्रसारित ४३ सेकंड का वीडियो मिला | इस वीडियो के कैप्शन के अनुसार भारतीय किसान यूनियन के नेता ने यह बयान उनके रायपुर के दौरे के दौरान दिया था | 

इस वीडियो में हम राकेश टिकैत को कहते हुए सुन सकते है की “मेन तो दिल्ली की सरकार है जिसने कानून बनाकर आधा देश बेच दिया | उस पर भी ध्यान दो | मंडिया बेच दी मध्य प्रदेश की… १८२ मं​डी बेच दी | छत्तीसगढ़ भी अछूता नहीं रहेगा | अब तो ये है कि सब लोग साथ दो | अगला टॉरगेट मीडिया हाउस है | आपको बचना है तो साथ दे दो नहीं तो आप भी गए |”

वीडियो में राकेश टिकैत द्वारा कहे गये पुरे वाक्य को सुनने पर हमें समझ में आता है कि वायरल हो रहे वीडियो को मूल वीडियो से काटकर सन्दर्भ के बहार फैलाया जा रहा है | मूल वीडियो में वे मीडिया संगठनों को धमकी नही दे रहे है बल्कि वे केंद्रीय सरकार की आलोचना करते हुए बता रहे है कि उनका अगला निशाना मीडिया संगठन है और कह रहे हैं कि इस समय सबको एक जुट हो जाना चाहिए | 

यह बयान राकेश टिकैत ने छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में किसान महापंचायत को संबोधित करने के बाद दिया था | इस बयान को कई न्यूज़ रिपोर्ट ने रिपोर्ट किया था, जिनके मुताबिक टिकैत ने सभी वर्गों के लोगों से किसान आंदोलन के लिए समर्थन मांगते हुए कहा था कि सरकार का अगला निशाना मीडिया है |

निष्कर्ष:

तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त वीडियो के माध्यम से किये गये दावे को सन्दर्भ के बहार पाया है | सोशल मीडिया पर राकेश टिकैत के छत्तीसगढ़ दौरे के समय दिए गये बयान के मूल वीडियो को काटकर उनके मूल बयान के एक छोटे से हिस्से को साझा कर गलत रूप से सन्दर्भ के बाहर फैलाया जा रहा है | मूल वीडियो में राकेश टिकैत ने मीडिया संगठनों को धमकी नही दे रहे है बल्कि यह कह रहे थे कि केंद्रीय सरकार का अगला निशाना मीडिया हाउस है |

किसान आन्दोलन से संबंधित फैक्ट चेक को आप नीचे पढ़ सकते है |

Avatar

Title:राकेश टिकैत के द्वारा दिए गये बयान के मूल वीडियो के एक हिस्से को काटकर सन्दर्भ के बाहर फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: Missing Context

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply