मेक-अप किये अभिनेताओं के चार वर्ष पुराने वीडियो को वर्तमान फिलीस्तीनी लोगों की स्थिति का बता वायरल किया जा रहा है।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वर्तमान में फिलीस्तानियों व इजरायलियों के बीच तनाव पूर्ण माहौल व आपसी झगड़ों के चलते सोशल मंचों पर कई वीडियो व तस्वीरें वायरल होती चली आ रही है। फैक्ट क्रेसेंडो ने ऐसे कई वीडियो व तस्वीरों का अनुसंधान कर उनकी प्रमाणिता अपने पाठकों तक पहुंचाई है। ऐसा ही एक वीडियो इंटरनेट पर काफी तेज़ी से साझा किया जा रहा है, इस वीडियो में आप कई लोगों को घायलों का व मृतकों का मेक-अप करवाते हुये देख सकते है। इस वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक इजरायल को दुनिया भर में बदनाम करने के लिये फिलीस्तीनी लोग मेक-अप करवा कर घायल व मृतक होने का नाटक कर रहे हैं व उनके साथ कथित तौर पर हो रहे अत्याचार का बखान कर रहे है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

इजरायल को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बदनाम करने के लिये गाजा के ठुल्लों की नौटंकी देखिये, पेंटिंग और मेकअप करके घायल और मृतक तैयार कर रहे हैं।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहा वीडियो चार वर्ष पुराना है जिसमें फिलीस्तीनी अभिनेताओं का मेक-अप होते देखा जा सकता है। इस वीडियो का वर्तमान में हो रहे फिलीस्तानियों और इजरायल के लोगों के बीच झगड़े से कोई सम्बंध नहीं है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे वीडियो को बारीकी से देख कर की, परिणाम में हमें वीडियो में ऊपर की तरफ बायीं ओर गाजा पोस्ट लिखा हुआ दिखा। इसके बाद हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया तो परिणाम में हमें गाजा पोस्ट के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर 25 फरवरी 2017 को प्रसारित किया हुआ यही वीडियो मिला। इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “सिनेमा ट्रिक्स एक ऐसी कला है जो गाजा को दुनिया में एक अलग तरीके से दर्शाता है।“

आर्काइव लिंक

उपरोक्त जानकारी के मुताबिक यह वीडियो वर्ष 2017 में प्रसारित किया हुआ था, जिससे यह स्पष्ट होता है कि यह वीडियो वर्तमान का नहीं है व वर्तमान में इजरायल और फिलीस्तीनी में हो रहे झगड़े से सम्बंधित नहीं है। 

इसके पश्चात हमें यूट्यूब पर इससे सम्बंधित और अधिक कीवर्ड सर्च करने पर वायरल हो रहे वीडियो से सदृश्य वीडियो मिला। इस वीडियो में दिखाये गये कई दृश्य वायरल हो रहे वीडियो में देखे जा सकते है। यह वीडियो 2 मार्च 2017 को टी.आर.टी वर्लड के आधिकारिक यूट्यूब चैनल ने प्रसारित किया था। इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “फिलीस्तीनी फिल्म उद्योग | सिनेमा | प्रदर्शन और इसके नीचे दी गयी जानकारी में लिखा है, “गाजा में ज्यादा फिल्म निर्माण  नहीं होती हैं। लेकिन इस कारण ने मेकअप आर्टिस्ट मरियम सलाह को अपने सपने का पालन करने से नहीं रोका। उन्होंने पारंपरिक रूप से पुरुषों द्वारा चलाये जा रहे व्यवसाय में फ़िलिस्तीनी फ़िल्मों के लिये खुद से नकली खून बनाना सिखा।

इस वीडियो में फिलीस्तीनी मेकअप आर्टिस्ट मरियम सलाह को अभिनेताओं का मेक-अप करते हुये देखा जा सकता हैं। वीडियो में बताया गया है कि मरियम सलाह दुनिया में फ्रेंच चैरिटी डॉक्टरों द्वारा एक परियोजना में भाग ले रही है, जहाँ वे मेक- अप कर बुरी तरह से घायल लोगों को दर्शा रही हैं। फ्रेंच चैरिटी डॉक्टर इस परियोजना से गाजा निवासियों द्वारा झेले जा रहे खतरों के बारे में जागरूकता बढ़ा रहे है।

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि उपरोक्त दावा गलत है। वायरल हो रहा वीडियो चार वर्ष पुराना है व फिलीस्तीनी मेकअप आर्टिस्ट मरियम सलाह के द्वारा अभिनेताओं पर मेक-अप करने का है। इस वीडियो का वर्तमान में चल रहे इजरायल-फिलिस्तीनी संघर्ष से कोई सम्बंध नहीं है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. 7 साल पुराने वीडियो को इजरायल द्वारा अल अक्सा पर हुए हमला के नाम से फैलाया जा रहा है|

२. पाकिस्तान स्थित बालाकोट से आतंकी कैंप के एक पुराने वीडियो को पश्चिम बंगाल से जोड़ फैलाया गया है|

३. बंगाल में १२५ आर.एस.एस संचालित स्कूलों को प्रतिबंध करने की यह खबर तीन साल पुरानी है |

Avatar

Title:मेक-अप किये अभिनेताओं के चार वर्ष पुराने वीडियो को वर्तमान फिलीस्तीनी लोगों की स्थिति का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •