शरीर का नाश करने वाली पांच चीजें विदेशों में हो चुकी हैं बैन लेकिन भारत की गली-गली में बिक रही हैं- क्या यह सच है?

Mixture
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२८ जनवरी २०१९ को अपनी खबरें के वेबसाइट द्वारा दिए गए खबर ने फेसबुक पर काफ़ी लोगों का ध्यान आकर्षित किया है । हैडलाइन में यह कहा गया है कि “शरीर का नाश करने वाली 5 चीजें विदेशों में हो चुकी हैं बैन लेकिन भारत की गली-गली में बिक रही हैं” । यह भी कहा गया है कि विदेशों में जिन चीजों का इस्तेमाल करना सख्त मना है, वह चीजें हमारे प्रगतिशील देश में बिना किसी रोक टोक के हर गली में बिकती नजर आ रही है । यह चीजें शरीर को बहुत नुकसान पहुचाती है। क्योंकि यह एक स्वास्थ्य से संबंधित खबर है इसलिए इसकी सच्चाई जानना जरुरी हो जाता है ।

आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

उपरोक्त खबर में अपनी खबरें वेबसाइट ने जो पांच वस्तुओं के बारे में लिखा है, जिन्हें विदेश में प्रतिबंधित किया गया है, लेकिन अभी भी भारत में उपयोग में हैं, उनमें दर्द निवारक गोलियां, अनपाश्चराइज्ड दूध, एनर्जी ड्रिंक, साबुन, जेली चॉकलेट शामिल है ।
आईए देखते है इन प्रतिबंधित वस्तुओं का सच क्या है।

खबर में कहा गया है कि दर्द निवारक गोलियां विदेशों में हमेशा के लिए बैन कर दी गई है, क्योंकि यह गोलिया भविष्य में कई भयंकर बीमारियों को जन्म दे सकती है। तथ्यों कि जांच करने पर हमने पाया कि विश्व एंटी-डोपिंग एजेंसी (वाडा) ने निषिद्ध सूची के तहत कुछ दर्द निवारक दवाएँ प्रतिबंधित की है, और कुछ दवाओं को अनुमति दी है । लिहाजा हम यह कह सकते है कि सभी दर्द निवारक गोलियां विदेश में प्रतिबंधित नहीं हुई है|

USADA.org

भारत में सभी दर्द निवारक गोलियां बीना रोक-टोक के नहीं बेची जाती है । निमिसुलाइड एक ऐसी दर्द निवारक दवा है जो आमतौर पर भारतीय लोगों द्वारा उपयोग में लाई जाती है परंतु यह भारत में प्रतिबंधित है। लेकिन यह टैबलेट अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कैनडा, ब्रिटेन जैसे अन्य देशों में भी प्रतिबंधित है । निमीसुलाईड पर भारत ने प्रतिबंध लगाने की बात की पुष्टि दिल्ली सरकार की वेबसाइट से की जा सकती है | भारत द्वारा प्रतिबंधित अन्य दवाओं के बारे में पढ़ने के लिए नीचे दिए गए वेबसाइट पर क्लिक करे |

delhi.gov

हमारे तथ्यों कि जांच करने पर हमने यह पाया कि यह मिश्रित तथ्य है |

खबर में यह भी कहा गया है कि अनपाश्चराइज्ड दूध में कई प्रकार के हानिकारक बैक्टीरिया मौजूद होते है। ये बैक्टीरिया शरीर के लिए बहुत हानिकारक और जानलेवा होते हैं । कई देशों में कई साल पहले ही अनपाश्चराइज्ड दूध पर बैन लगा दिया है।

milk.procon.org

उपरोक्त वेबसाइट में कही भी भारत का नाम का उल्लेख नहीं किया गया है| आज भी भारत में,लोग दूध वाले से ताज़ा तबेले का दूध खरीद के उसका उपयोग करते है |तथ्यों कि जांच करने पर हमने पाया कि अनपाश्चराइज्ड दूध पर कई देशों मे तो प्रतिबंध है लेकिन भारत में आज भी अनपाश्चराइज्ड दूध बेचा जा रहा है | यह तथ्य भी मिश्रित है |

खबर में तीसरा नाम एनर्जी ड्रिंक- रेडबुल का है| खबर का दावा है कि मार्केट में आसानी से मिलने वाली एनर्जी ड्रिंक रेड बुल सेहत के लिए बहुत ही जानलेवा है | तथ्यों कि जांच करने पर हमने पाया कि यह एनर्जी ड्रींक कुछ देशों जैसे डेनमार्क, नॉर्वे और चीन की सुपरमार्केट देलोवाया गज़ेटा में बैन है |

chessnews

परंतु भारत मे बेची जाती है| ऑनलाइन वेबसाइट मे दूंदने पर हमने कई वेबसाइट में रेडबुल बिकते हुए देखा |

उपरोक्त छवि हमने अमेज़न के वेबसाइट से लिया है |

उपरोक्त तथ्य को हमने मिश्रित पाया है|

खबर में यह भी कहा गया है कि लाइफबॉय साबुन (एंटी बैक्टीरियल सोप) हर देश में बैन है व यह साबुन त्वचा संबंधी बीमारियों को जन्म देता है । हमारे तथ्यों की जांच करने पर हमने पाया कि अमरिका की खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने सभी जीवाणुरोधी साबुन पर प्रतिबंध लगा दिया है |

fda.gov

परंतु भारत में आज भी इसका इस्तमाल होता है | ऑनलाइन वेबसाइट मे दूंदने पर हमने  कई वेबसाइट में लाइफबॉय साबुन बिकते हुए देखा |

उपरोक्त छवि हमने फ्लिप्कार्ट के वेबसाइट से लिया है|

इस तथ्य को हमने मिश्रित पाया है |

खबर में यह भी दावा किया गया है कि जेली चॉकलेट और किंडरजॉय भारत में बहुत ही भारी मात्रा में बिक रहा है और इस प्रोडक्ट को विदेशों में बैन कर दिया गया है । तथ्यों कि जांच करने पर हमने पाया कि अमेरिका मे फेडरल फूड, ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट कन्फेक्शनरी उत्पादों को प्रतिबंधित करता है, जिसमें “गैर-पोषक वस्तु” होती है, जब तक कि गैर-पोषक वस्तु का कार्यात्मक मूल्य नहीं होता है । अनिवार्य रूप से, यह अधिनियम ‘किसी भी कैंडी की बिक्री पर प्रतिबंध लगाता है जो इसमें एक खिलौना या ट्रिंकेट में एम्बेडेड है’ । चिली में भी यह प्रतिबंधित है |

wikipedia

भारत में यह अभी भी बेचा जाता है |

उपरोक्त छवि हमने बिग बास्केट के वेबसाइट से लिया है |

इस तथ्य को हमने मिश्रित पाया है |

निष्कर्ष : हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे है कि, फेसबुक पर वायरल पोस्ट में किया कथन हमने मिश्रित पाया है क्योंकी कथन में यह दावा किया जा रहा है कि उपरोक्त सभी आइटम को सब विदेशों में प्रतिबंधित किया गया है परंतु सिर्फ़ भारत में अभी भी बेचा जा रहा है | तथ्यों कि जांच करने पर हमने पाया कि यह पांच आइटम कुछ कुछ देशों में प्रतिबंधित किया गया है परंतु दावे के अनुसार हर देश में बैन नहीं किया गया है | सो यह खबर मिश्रित जानकारी (MIXTURE) देती है |

Avatar

Title:शरीर का नाश करने वाली पांच चीजें विदेशों में हो चुकी हैं बैन लेकिन भारत की गली-गली में बिक रही हैं- क्या यह सच है?

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: Mixture (मिश्रित जानकारी)


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •