तथ्य की जांच: क्या कोई कॉल करके गुमराह कर रहा है दिल्ली की जनता को?

National Political
  • 9
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    9
    Shares

पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में जन साधारण को विचित्र कॉल आ रहें हैं व उन्हें बोला जा रहा है कि उनका नाम मतदान सूचि (वोटर लिस्ट) से निकाल दिया है | जब लोग यह सुनकर परेशान हुए, तो उन्हें बोला गया कि उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि अरविंद केजरीवाल लोगों के नाम मतदान सूचि में जुड़वाने का काम कर रहे हैं। कुछ लोगों ने जब कॉल करने वाले को चुनौती देते हुए पुछा की कॉल करने वाला कहाँ से बोल रहें है, तो वक्ता ने कहा कि वो मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल के ऑफिस से बोल रहें हैं |

सोशल मीडिया पर प्रचलित विविध कथन:

विभ्भिन्न समाचार वेबसाइटों ने इस कहानी को कवर किया है | हैडलाइंस के बाद नीचे उनके लिंक दिए गए है |

TOIOutlookindia
Amarujala MoneyControl
Business-Standard ANINews
DevdiscourseNavbharattimes
India.com

हमारे द्वारा किये गए तथ्यों के जांच का परिणाम:

जब फैक्ट क्रिसेंडो ने नीचे दिए हुए पोस्ट से विश्वेन्द्र सिंह चौधरी जो कि ये कहते हैं की उन्होंने उस कॉल सेण्टर में काम किया से संपर्क साधा, जिस बातचीत को नीचे सुना जा सकता है|

इसके उपरांत हमने आम आदमी पार्टी की वेबसाइट से उनके दिए हुए संपर्क सूत्र पर बात करने की कोशिस की, पर सारी कॉल निरुत्तर रही|

हमने आप पार्टी को ईमेल पर संपर्क किया जिसके जबाब में उन्होंने लिखा “की वो देखेंगे की वो क्या कर सकते हैं”|

G:\Nita\अरविन्द केजरीवाल\Letter Comm.png

हमने आप पार्टी के श्री गोपाल राय जी से इस बारे मैं बात करने की कोशिश की पर हमें बताया गया की वो आज विधायकों की मिटिंग मैं व्यस्त हैं|

शाम को इसी प्रकरण में दिल्ली चुनाव आयोग द्वारा एक एडवाइजरी जारी की गयी, जिसे प्रमुख न्यूज़ पोर्टल्स ने शेयर किया|

India.com

Kejriwal retweeted.  1:32a.m. 9th Feb

Kejriwal retweeted.  1:35a.m. 9th Feb

Kejriwal retweeted 2:40a.m. 9th Feb

Kejriwal retweeted 3:06a.m. 9th Feb

Oneindia

ANINews

निष्कर्ष:
हमारे द्वारा किये गए तथ्यों की जाँच में हमने पाया कि इस प्रकार के कॉल जन साधारण तक जा रहे हैं | इस बात की जाँच अभी तक चल रही है कि ये सब करवा कौन रहा है, मगर दिल्ली चुनाव आयोग (दिल्ली इलेक्शन कमिशन ) ने एक प्रेस रिलीज़ के द्वारा यह सूचित किया है कि यह समाचार भ्रामक है | मतदान सूचि में कोई भी बदल करने का अधिकार सिर्फ़ निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के पास ही होता है, और किसी के पास नही |

यह कॉल कौन करवा रहा है ये स्पष्ट कर पाना अभी संभव नहीं है व यह प्रसासनिक जाँच पड़ताल द्वारा ही ज्ञात हो सकता है | फैक्ट क्रिसेंडो इस बात से सहमत है कि दिल्ली की जनता को चुनावी कॉल की जा रही है, पर किससे यह स्पष्ट नहीं हैं|

Misleading Title: तथ्य की जांच: क्या कोई कॉल करके गुमराह कर रहा है दिल्ली की जनता को?”
Fact Check By: Nita Rao 
Result: Real

  • 9
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    9
    Shares