गांधीनगर रेलवे स्टेशन के वीडियो को अयोध्या में नवनिर्मित रेलवे स्टेशन का बताकर शेयर किया जा रहा है |

False Social

सोशल मीडिया पर एक नवनिर्मित रेलवे स्टेशन के वीडियो को साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो उत्तर प्रदेश के अयोध्या में नवनिर्माणित अयोध्या रेलवे स्टेशन का है जहाँ हम मंदिरों की रुपरेखा को देख सकते है | 

सोशल मीडिया यूजर्स ने रेलवे स्टेशन पर निर्माण को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी तारीफ की है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि 

“अयोध्या स्टेशन बन कर तैयार हो गया है। योगी जी/मोदी जी आपको सादर दण्डवत प्रणाम | इन लोगों को कभी खोना मत हिन्दुओं | हरगिज़ मत खोना.” जबकि यूज़र दूसरे ट्वीट में वायरल क्लिप शेयर किया है |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

यह वीडियो फेसबुक पर काफी बरे पैमाने पर साझा किया जा रहा है |

अनुसंधान से पता चलता है कि….

फैक्ट क्रेसेंडो ने पड़ताल के बाद पाया कि गांधीनगर में नवनिर्मित रेलवे स्टेशन के वीडियो को सोशल मीडिया पर अयोध्या का बताकर शेयर किया गया है |

जाँच की शुरुवात हमने इन्विड वी वेरीफाई टूल में मैगनीफायर का इस्तेमाल करते हुए हमने इस वीडियो बारीकी से देखा, परिणाम से हमें रेलवे स्टेशन पर एक बोर्ड नज़र आया जिसमे लिखा गया है कि PLATFORM– 1” | यह शब्द हिंदी, अंग्रेजी और गुजराती में लिखा गया है | उत्तर प्रदेश के रेलवे स्टेशन पर गुजराती भाषा में लिखे हुए साईन बोर्ड का होना थोड़ा अजीब लगता है | 

आगे वायरल वीडियो को जांचते हुए हमें एक उपयोगकर्ता द्वारा अपलोड किया गया वीडियो मिला जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “यह गांधीनगर स्टेशन का वीडियो है | मैं जहाँ रहता हूँ यह स्टेशन वहां से 4 किलोमीटर दूर स्थित है | जय श्री राम |”

आर्काइव लिंक 

इस बात को ध्यान में रखते हुए हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च के माध्यम से गांधीनगर रेलवे स्टेशन के अन्य वीडियो को ढूँढा, जिसके परिणाम से हमें १३ जून २०२१ को उपलोड किया गया एक यूट्यूब वीडियो मिला जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “गांधीनगर राजधानी रेलवे स्टेशन : गांधीनगर स्टेशन पर रेलवे का पुनर्विकास स्टेशन पर आगमन |”

यूट्यूब पर उपलब्ध वीडियो में 3.25 मिनट के निशान पर, हमें वायरल वीडियो के समान डिज़ाइन वाले खंभे मिले | नीचे आप वायरल वीडियो और यूट्यूब पर उपलब्ध वीडियो की तुलना देख सकते हो | इससे यह स्पष्ट होता है कि दोनों वीडियो एक ही जगह के है | वायरल वीडियो भी गांधीनगर रेलवे स्टेशन का है | गांधीनगर गुजरात में स्थित है | 

आगे हमने गूगल मैप्स पर गांधीनगर स्टेशन की तस्वीरों को खंगाला जिसके परिणाम से इस स्टेशन की कई तस्वीरें मिले | गूगल मैप पर उपलब्ध तस्वीर में हम प्लेटफार्म 1 को भी देख सकते है जो कि वायरल वीडियो में भी देखा जा सकता है | हमें गूगल मैप्स पर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो जैसे सदृश्य वीडियो मिला जिसे आप यहाँ देख सकते है |

आगे जाँच करने पर हमें पता चला कि साल 2018 में जब गांधीनगर रेलवे स्टेशन का काम शुरू हुआ था, तब एरियल व्यू से ली गई तस्वीर को गांधीनगर रेलवे एंड अर्बन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ने शेयर किया था | तस्वीर गांधीनगर महात्मा मंदिर प्रदर्शनी हॉल में भी देखी जा सकती है | इस ट्वीट को आप नीचे देख सकते हैं |

आर्काइव लिंक 

जहाँ तक अयोध्या रेलवे स्टेशन की बात है, हमें अपनी जाँच में ये पता चला कि अयोध्या में एक स्टेशन के लिए निर्माण कार्य चल रहा है जिसे 2017-18 में 104 करोड़ रुपये की लागत की मंजूरी दी गई थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्टेशन को राम जन्मभूमि मंदिर के निकट तैयार किया गया है |

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त वीडियो के माध्यम से किये गये दावे को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो गांधीनगर में नवनिर्मित रेलवे स्टेशन के वीडियो का है ना कि अयोध्या का |

हमारे द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:-

1. सिलीगुड़ी में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा उनके भाषण में कहे “चोरी सम्बंधित” वक्तव्य को सन्दर्भ से बाहर फैलाया जा रहा है |

2. उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का भा.ज.पा से बगावत कर कांग्रेस में शामिल होने की ख़बर फर्जी है |

3. मोदी को दोबारा वोट न देने के सन्देश वाली पेट्रोल पम्प की रसीद फर्जी है |

Avatar

Title:गांधीनगर रेलवे स्टेशन के वीडियो को अयोध्या में नवनिर्मित रेलवे स्टेशन का बताकर शेयर किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •