प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ लक्ष्मणराव इनामदार की तस्वीर को अन्ना हज़ारे की तस्वीर बता वायरल किया जा रहा है।

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वर्तमान में दिल्ली के विभिन्न राज्य बोर्डरों पर लगभग चालीस दिनों से चल रहे किसान आंदोलनों को लेकर वयोवृद्ध सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हज़ारे द्वारा कोई ठोस टिप्पणी नहीं दी गई है, इसी के चलते सोशल मंचो पर लोग उनपर तंज कस हुए अपना आक्रोश जता रहे हैं। इसी सब के बीच इंटरनेट पर एक तस्वीर तेज़ी से वायरल हो रही है, तस्वीर में आपको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक शख्स नज़र आएंगे। इस तस्वीर को देखने पर आपको समझ आएगा कि ये तस्वीर काफी पुरानी है। इस तस्वीर के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ तस्वीर में अन्ना हज़ारे मौजूद है।

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ दी गयी जानकारी में लिखा है, 

याराना बहुत पुराना है, नहीं समझे? तो समझ लो यह तस्वीर बताती है अन्ना हज़ारे आजकल चुपचाप क्यों बैठा है। अन्ना तुम देश में फैली अफरा- तफरी और हर मुसीबत के लिए एकमात्र जिम्मेदार हो देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही तस्वीर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ संघ के कार्यकर्ता लक्ष्मणराव इनामदार है। इस तस्वीर का अन्ना हजारे से कोई संबन्ध नहीं है।

सबसे पहले हमने वायरल हो रही तस्वीर की जाँच गूगल रीवर्स इमेज सर्च के ज़रिये की, नतीजन हमें द इकोनोमिक टाइम्स का एक समाचार लेख मिला जिसमें यही तस्वीर प्रकाशित की गयी थी। यह लेख 22 सितंबर 2017 को प्रकाशित किया गया है। तस्वीर में दी गयी जानकारी में लिखा है, “संघ के पुराने दिनों में नरेंद्र मोदी के साथ लक्ष्मणराव इनामदार।” 

यह समाचार लेख मुख्य रूप से नरेंद्र मोदी और लक्ष्मणराव इनामदार के संबंधों पर आधारित है। समाचार लेख में लिखा है, 

लक्ष्मणराव इनामदार, लोकप्रिय रूप से संघ के कार्यकर्ताओं में वकील साहब के रूप में जाने जाते हैं। गुजरात में आर.एस.एस के संस्थापन में उन्होंने मुख्य भूमिका निभाई है। वे नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शक थे, उन्होंने हर क्षेत्र में नरेंद्र मोदी को मार्गदर्शन दिया है। नरेंद्र मोदी उन्हें पिता के समान मानते थे।

आर्काइव लिंक

इससे हमें यह समझ आ गया कि वायरल हो तस्वीर में प्रधानमंत्री नरेंद्र के साथ संघ के कार्यकर्ता लक्ष्मणराव इनामदार है। इसके पश्चात उपरोक्त जानकारी को ध्यान में रखकर हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया तो हमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया एक ट्वीट मिला, उस ट्वीट में लिखा है, “श्री लक्ष्मणराव इनामदार के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की।“ 

ट्वीट में आपको एक तस्वीर भी प्रकाशित की हुई मिलेगी जिसमें नरेंद्र मोदी के साथ लक्ष्मणराव इनामदार के परिवार के लोग दिख रहे है। यह ट्वीट 21 सितंबर 2017 को किया गया था।

आर्काइव लिंक

तदनंतर और अधिक शोध करने पर हमें 21 सितंबर 2017 का ही एक और ट्वीट मिला जहाँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लक्ष्मणराव इनामदार को श्रद्धांजली दे रहे है और ट्वीट में लिखा है, 

“श्री लक्ष्मणराव इनामदार को श्रद्धांजलि अर्पित की, एक विशिष्ट व्यक्तित्व जिनके साथ मेरा बहुत करीबी संपर्क था और मैंने जीवन में उनसे बहुत अधिक सिखा है।“

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया है कि उपरोक्त दावा गलत है। वायरल हो रही तस्वीर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ संघ के कार्यकर्ता लक्ष्मणराव इनामदार है। इस तस्वीर का अन्ना हजारे से कोई संबन्ध नहीं है। 

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :
१. भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय एक काल्पनिक चरित्र हैं और इनका कोई वास्तविक अस्तित्व नहीं है!

२. वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा के वीडियो को कैप्टेन दीपक वी साठे का बता फैलाया जा रहा है |

३. क्या अमिताभ बच्चन कोरोनावायरस संक्रमण से मुक्त होने के बाद दरगाह गये थे ? जानिये सत्य..

Avatar

Title:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ लक्ष्मणराव इनामदार की तस्वीर को अन्ना हज़ारे की तस्वीर बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply