शिवराज सिंह चौहान का शराब पर दिया वक्तव्य एडिटेड और फर्जी है |

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एक वीडियो को साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि मुख्‍यमंत्री ने आबकारी अमले पर भड़कते हुए कहा कि लोगों को इतनी दारू फैला दो कि पिएं और पड़े रहें | इस वीडियो से ऐसा प्रतीत होता है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्य में शराब की खपत को बढ़ावा देने के बारे में बोलते दिख रहे हैं |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “दारु इतनी फैला दो की पिए और पड़े रहे मध्यप्रदेश की शराबी सरकार |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो के सन्दर्भ में मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री  की प्रतिक्रिया जानने से की, जिसके लिये हम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर गए | परिणाम से हमने पाया कि १२ जनवरी को उन्होंने मूल वीडियो को साझा करते हुये कांग्रेस पर फर्जी खबरों को फ़ैलाने का आरोप लगाते हुये एक ट्वीट किया था, उन्होंने मूल वीडियो को साझा करते हुए लिखा गया है कि “कांग्रेस के डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट द्वारा जारी किए गए फेक वीडियो जो भी ट्वीट और व्हाट्सएप्प पर शेयर कर रहा है, उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जायेगी। यह ओरिजिनल वीडियो है। मध्य प्रदेश में ओछी राजनीति की कोई जगह नहीं!”

आर्काइव लिंक 

मूल वीडियो इस साल जनवरी का है जब कमलनाथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री थे। वीडियो के एक लंबे वर्शन में, चौहान को राज्य में कांग्रेस सरकार की शराब नीतियों के बारे में सवाल उठाते हुये देखा जा सकता है | शिवराज सिंह चौहान ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से इस वीडियो को साझा करते हुए लिखा है कि “चारों तरफ त्राहि – त्राहि मची है। किसानों की धान नहीं बिक रही, कर्जा माफ नहीं हो रहा, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता नहीं मिल रहा है। विकास के काम भी ठप्प हैं। ऐसे में शराब की उपदुकानें खोलकर सरकार युवा पीढ़ी को बर्बाद करने पर अमादा है। हम चुप नहीं रहेंगे, लड़ेंगे। #MP_मांगे_जवाब |”

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है रहे हैं, यह वीडियो एडिटेड है और इसे संदर्भ से बाहर साझा किया जा रहा है |

Avatar

Title:शिवराज सिंह चौहान का शराब पर दिया वक्तव्य एडिटेड और फर्जी है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply