COVID-19 से संबंधित अफवाहों के चलते पीएम मोदी ने इंटरनेट सुविधाओं को बंध करने की घोषणा नहीं की है |

Coronavirus False National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया COVID-19 से संबंधित कई भ्रामक वीडियो और तस्वीरें से भरा पड़ा हैं | ऐसी ही एक तस्वीर जो एक समाचार बुलेटिन का एक स्क्रीनशॉट है, का दावा है कि पीएम मोदी ने कोरोनावायरस के बारे में गलत जानकारी फैलाने के कारण आधी रात से भारत में इंटरनेट सुविधाओं को बंद करने की घोषणा की है | यह स्क्रीनशॉट एबीपी न्यूज़ के बुलेटिन का है |

https://i0.wp.com/lh3.googleusercontent.com/-o7FQQMvYN9w/Xn326bu5wjI/AAAAAAAAGEY/vFryTJnrDwcapgC1QRIqoA4JFKkQ630DwCK8BGAsYHg/s0/2020-03-27.jpg?w=640&ssl=1

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने उपरोक्त दावे से संबंधित समाचार रिपोर्ट को गूगल पर कीवर्ड्स के माध्यम से ढूँढने से की, जिसके परिणाम में हमें उपरोक्त दावे का समर्थन करने वाली कोई विश्वसनीय समाचार रिपोर्ट नहीं मिली |

इसके बाद हमने एबीपी न्यूज द्वारा प्रकाशित समाचार की खोज की | YouTube पर एक कीवर्ड खोज के साथ हमने पाया कि ABP न्यूज़ हिंदी द्वारा लाइव स्ट्रीम बुलेटिन को मूल रूप से २४ मार्च २०२०  को अपलोड किया गया था | यह वीडियो तबका है जब पीएम नरेंद्र मोदी ने COVID-19 के प्रकोप के कारण देशव्यापी २१ दिनों के लॉक डाउन की घोषणा की थी | वायरल स्क्रीनशॉट में और एबीपी न्यूज़ के समाचार रिपोर्ट में पीएम मोदी को एक ही पोशाक पहने देखा जा सकता है | हम यह भी देख सकते हैं कि यूट्यूब समाचार बुलेटिन और वायरल स्क्रीनशॉट का शीर्षक समान है |

नीचे आप एबीपी न्यूज हिंदी के ४८ मिनट के बुलेटिन को देख सकते हैं, लेकिन कहीं भी पूरे भाषण में पीएम ने घोषणा नहीं की कि वे कोरोनवायरस से संबंधित गलत अफवाहों के कारण इंटरनेट सेवाएं बंद कर रहे हैं | इसका मतलब है कि सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर को डिजिटली एडिट किया गया है |

हमें पीआईबी फैक्ट चैक द्वारा एक स्पष्टीकरण ट्वीट भी मिला, जिसमें लिखा गया था, “सोशल मीडिया पर यह दावा करते हुए कि इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है, # कोरोनोवायरसऑउटब्रेक के दौरान #Fake है! सरकार द्वारा ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है। सभी को सलाह दी जाती है कि वे अग्रेषित करने से पहले संदेश की सत्यता की जाँच करें! ”

Archive Link 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | कोरोनावायरस के संबंध में वायरल अफवाहों के कारण भारत सरकार ने इंटरनेट बंद करने की घोषणा नहीं की है। जनता के बीच दहशत पैदा करने के लिए मूल खबर के स्क्रीनग्रैब को एडिट कर वायरल किया जा रहा  है | हम सभी को यही सलाह देते हैं कि किसी भी मैसेज को आगे फॉरवर्ड करने से पहले कसी भी संदेश की सत्यता की जांच करें |

Avatar

Title:COVID-19 से संबंधित अफवाहों के चलते पीएम मोदी ने इंटरनेट सुविधाओं को बंध करने की घोषणा नहीं की है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •