क्या वायरल वीडियो में कमलनाथ कांग्रेस के लिये मुस्लिमों का साथ मांग रहे है?

Altered Political

यह दावा गलत है। इस वीडियो को डिजिटली एडिट किया गया है। इसमें आलग से आवाज़ डाली गयी है।

कांग्रेस नेता कमलनाथ का एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। उसमें आप उन्हें लोगों से बात करते हुये देख सकते है। जिसमें वो कह रहे हैं,“ये बात यहाँ से बाहर नहीं जानी चाहिये, हमें आपकी सबसे ज़्यादा चिंता और फिक्र है। इसलिये कांग्रेस चाहती है, आप मुस्लिम भाई हमारा साथ दें ताकि आगे चलकर हम आपके पक्ष में फैसले लें। मैं आपको आश्वासन देता हूँ, साथ बानाके रखिये आपको आपकी मस्जिद वाली जगह भी दिलवा देंगे और 370 भी देखा जायेगा। देखो मैं हर बात खुलकर नहीं बोल सकता।“

दावा किया जा रहा है कि ये कमलनाथ का लीक वीडियो है और वो कांग्रेस के लिये मुस्लिमों का साथ मांग रहे है।

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ यूज़र ने लिखा है, “यें देखो कॉग्रेस का हाथ देश भक्तों के साथ ये कोंग्रेसी लोग हैं क्या देशभक्त सुन लीजिए इसकी बात जो अभी तक कोई नही दिखा सका,- अमर आकाश न्यूज़ आगरा।”

फेसबुक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस वीडियो की जाँच हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च कर की। यही वीडियो हमें 14 नवंबर 2018 को अजित प्रसाद नामक एक फेसबुक पेज पर शेयर किया हुआ मिला। इस पोस्ट को आप नाचे देख सकते है।

इसमें आप देख सकते है कि कमलनाथ कह रहे है, “आज इनके आर.एस.एस वोटर क्या कर रहे है? आर.एस.एस के कार्यकर्ता है वो क्या कर रहे है? आप, मुझे जानकारी है, आर.एस.एस के लोग इन्होंने फैलाये हुये है, मैं तो छिंदवाड़ा की बात करूँ, मुझे तो लोग आकर बता देते है, उनके आर.एस.एस क्योंकि नागपुर से जुड़ा हुआ है, वहां तो उनके लिये सुबह आओ, रात को चले जाओ और बड़ा आसान है। वो उनका एक ही स्लोगन है, अगर हिंदू को वोट देनी है तो हिंदू शेर मोदी को वोट दो, अगर मुसलमान को वोट देनी है कांग्रेस को वोट दो। केवल दो लाइन, और कोई पाठ पढ़ाये नहीं जाते, ये इनकी रणनीति है। और इसमें आप सबको बड़ा सतर्क रहना पडेगा, आपको उलझाने की कोशिश करेंगे। हम निपट लेंगे इनसे बाद में, लेकिन मतदान के दिन तक आपको सब-कुछ सहना पड़ेगा।“ 

इसमें कमलनाथ ऐसा कुछ नहीं कह रहे है जैसा वायरल वीडियो में बताया गया है। वे आर.एस.एस के बारे में बात कर रहे है।

वनइंडिया हिंदी के वैरिफाइड यूट्यूब चैनल पर 14 नवंबर 2018 को आप इसी वीडियो को देख सकते है। इसमें बताया गया है कि यह वीडियो पिछली बार मध्य प्रदेश में हुये विधानसभा के चुनाव के पहले लीक हुआ था। इसमें कमलनाथ आर.एस.एस और भाजपा के बारे में बात कर रहे है।

आर्काइव लिंक

इससे हम कह सकते है कि यह वीडियो डिजिटली एडिट किया गया है। आप नीचे दिये गये तुलनात्मक वीडियो में देख सकते है।

आपको बता दें कि वर्ष 2018 में जब यह वीडियो वायरल हुआ था तब भाजपा ने कमलनाथ के खिलाफ आवाज़ उठाई थी और काफी विवाद भी हुआ था। हालांकि अगर आप इसका पूरा वीडियो देखोगे तो वायरल वीडियो से पहले भाग में वे मुस्लिमों के वोट की बात कर रहे है। वे कह कि कांग्रेस को जीतने के लिये 90% मुस्लिम वोट की ज़रूरत है। परंतु वायरल वीडियो में जो आवाज़ है वह कमलनाथ की नहीं है। आप इस लीक वीडियो के पूरे वीडियो को नीचे देख सकते है।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। इस वीडियो को डिजिटली एडिट किया गया है। इसमें अलग से आवाज़ डालकर वायरल किया जा रहा है।

Avatar

Title:क्या वायरल वीडियो में कमलनाथ कांग्रेस के लिये मुस्लिमों का साथ मांग रहे है?

Written By: Samiksha Khandelwal 

Result: Altered