तथ्य की जांच: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बोले- “जो घर नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा?”

Misleading Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इन दिनों सोशल मीडिया पर नितिन गडकरी के द्वारा कहे गए कुछ वाक्य “जो घर नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा” काफ़ी बार साझा गया है | गडकरी जी ने यह बात अपनी नागपुर मे एबीवीपी के पूर्व कार्यकर्ताओं की सम्मलेन के दौरान कही है |

यह चित्र हमने आउटलुक इंडिया के वेबसाइट से प्रतिनिधित्व के हेतु लिया है । इस चित्र का निचे दिए लेख के साथ कोई सम्बन्ध नहीं है ।

राहुल गांधी ने नितिन गडकरी द्वारा दिए गए बयान, “जो घर नहीं संभाल सकता ,वह देश क्या संभालेगा” को ट्वीट करते हुए नितिन गडकरी को यह कहकर शाबाशी दी है कि वह अकेले तमाम भारतीय जनता पार्टी मे एक है जिनके पास हिम्मत है | राहुल गांधी के इस ट्वीट को भिंन भिंन सोशल मीडिया पर साझा किया गया है | उन्होंने नितिन जी से राफेल घोटाले और अनिल अंबानी, किसानो का संकट, संस्थानों का बंटाधार जैसे विषयों पर भी टिप्पणी करने को कहा है |

राहुल गांधी द्वारा किये गए ट्वीट का हिंदी मे अनुवाद- “ गडकरी जी अभिनंदन | पूरी बीजेपी में सिर्फ आप ही हैं जिसमें थोड़ी हिम्मत बची है | प्लीज इन मुद्दों पर कुछ कमेंट कीजिए – राफेल घोटाला और अनिल अंबानी, किसानों का संकट, संस्थानों का बंटाधार | ”

इस ट्वीट का जवाब गडकरी जी ने यह कहकर जवाब दिया कि उनको राहुल गांधी जी के द्वारा दिए गए सर्टिफिकेट की कोई ज़रूरत नही है | उन्होंने यह भी कहा कि उनको यह देखके आश्चर्य हो रहा है कि एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष होने के बाद भी राहुल गांधी को  उनकी सरकार पर हमला करने के लिए मीडिया द्वारा ट्वीट की गयी खबरों का सहारा ले रहे है |

सोशल मीडिया पर प्रचलित विविध कथन:
यह पोस्ट एबीपी न्यूज़ के फेसबुक पेज पर करीब ३००० बार साझा किया गया है व १००० के करीब कमेंट प्राप्त किया है |

कुछ लोगो को एसा लगा कि राहुल गांधी गडकरी जी के कंधे पर बंदूक रखकर मोदी पर निशाना साध रहे थे | TheLallantop.com पर क्लिक करे |

कुछ मीडिया रिपोर्टो मे नितिन गडकरी के इस कथन को उनके द्वारा एबीवीपी के कामगारों के लिए एक सलाह भी लगा है |  यहा क्लिक करे (scroll.in) |

हमारे द्वारा किये गए तथ्यों के जांच का परिणाम:

  • नितिन गडकरी के द्वारा कहे गए वाक्य सच है परंतु उनके शब्दों को अलग स्थिति मे रखके इस्तमाल किया गया है | वास्तविकता में गडकरी जी ने कहा, “मैं कई लोगों से मिला हूं जिन्होंने कहा है कि हम भाजपा, देश के लिए अपना जीवन समर्पित करना चाहते हैं. मैं (ऐसे लोगों से) कहता हूं, आप क्या कर रहे हैं और आपके परिवार में और कौन लोग हैं | वह बताता है कि मैंने अपनी दुकान बंद कर दी है क्योंकि वह ठीक से नहीं चल रही थी… घर में पत्नी, बच्चे हैं |” साथ ही उन्होंने कहा, ‘मैं (उनसे) कहता हूं, पहले अपने घर की देखभाल करें, क्योंकि जो अपना घर नहीं संभाल सकता, वह देश नहीं संभाल सकता | ऐसे में पहले अपना घर संभालें और अपने बच्चे, संपत्ति देखने के बाद पार्टी और देश के लिए काम करें.” | उनके द्वारा दिए गए इस कथन को अलग अलग तरीके से पेश किया गया है | नितिन गडकरी के द्वारा कही गयी इस बात को सुनने के लिए यहा क्लिक करे |

    नितिन गडकरी के द्वारा कहा गया इस वाक्य को दुसरे मीडिया संगठनो ने पुष्टि किया है | उन्हें पढ़ने के लिए निचे क्लिक करे |
न्यूज़ 18NDTVदी इंडियन एक्सप्रेसहिंदुस्तान टाइम्स फिनान्सिअल एक्सप्रेस

निष्कर्ष:

हमारे विश्लेषण के बाद हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे है कि नितिन गडकरी जी द्वारा कहा गया यह तथ्य सही है | यह वाक्य नितिन गडकरी ने एबीवीपी के पूर्व कार्यकर्ताओं की सभा के दौरान नागपुर मे कार्यकर्ताओं से चर्चा के दौरान हुई बात-चीत मे कही थी | इस बात को सोशल मीडिया मे भ्रामक तरीके से प्रस्तुत किया गया है |

MisleadingTitle: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बोले- “जो घर नहीं संभाल सकता, वह देश क्या संभालेगा?”
Fact Check By: Drabanti Ghosh 
Result: Misleading

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •