पीएम मोदी और बाइडेन की बैठक के दौरान दीवार पर महाभारत की पेंटिंग वाली तस्वीर एडिटेड है।

Misleading Political

हाल ही में हुए जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी और जो बाइडेन की बैठक वाली एक तस्वीर वायरल की जा रही है। जिसमें तस्वीर में कुर्सियों के पीछे धार्मिक ग्रंथ ‘महाभारत’ से जुड़ी एक तस्वीर दिखाई दे रही है। जिसे शेयर करते हुए सोशल मीडिया यूजर ने गीता की पंक्तियों का प्रयोग किया है। साथ ही मोदी सरकार को हिंदू धर्म का रक्षक बताकर उनकी तारीफ की है।

वायरल पोस्ट के साथ यूजर ने लिखा है- यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत। अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्।।”

फेसबुक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

पड़ताल की शुरुआत में हमने पहले प्रधानमंत्री के सोशल मीडिया अकाउंट को खंगालना शुरू किया। जहां पर हमें पीएम नरेंद्र मोदी के आधिकारिक फेसबुक अकाउंट पर 8 सितंबर को अपलोड कुछ तस्‍वीरें मिलीं। 

इसमें पीएम मोदी और अमेरिकी राष्‍ट्रपति की मुलाकात की तस्‍वीरें अपलोड की गई थी। 

यह मुलाकात प्रधानमंत्री आवास 7 लोक कल्याण मार्ग में हुई थी। इन्‍हीं तस्‍वीरों में हमें वायरल तस्वीर की मूल तस्‍वीर भी मिली, जिसके साथ छेड़छाड़ करके बैकग्राउंड में महाभारत की पेंटिंग को जोड़ा गया है।

बैठक का वीडियो- 

पीएम मोदी और जो बाइडेन के बीच हुई द्विपक्षीय बैठक का वीडियो पीएमओ इंडिया के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर भी शेयर किया गया है। इस बैठक से जुड़े वीडियो में भी साफ देखा जा सकता है कि पीएम मोदी और जो बाइडेन के पीछे की दीवार पर महाभारत की कोई भी तस्वीर नहीं लगी है।

वायरल तस्‍वीर और असली तस्‍वीर के विश्लेषण को नीचे देखा जा सकता है। इसमें साफ देखा जा सकता है कि किस प्रकार से असली तस्‍वीर के साथ छेड़छाड़ करके वायरल तस्‍वीर को तैयार किया गया है।

निष्कर्ष- 

तथ्य-जांच के बाद, हमने पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल ये तस्वीर पूरी तरह से संपादित है। असली तस्‍वीर में दोनों नेताओं के पीछे वाली दीवार पर महाभारत की कोई पेंटिंग नहीं थी।

Avatar

Title:पीएम मोदी और बाइडेन की बैठक के दौरान दीवार पर महाभारत की पेंटिंग वाली तस्वीर एडिटेड है।

Written By: Saritadevi Samal 

Result: Misleading