कराची बाढ़ के बचाव अभियान में दिख रही ये सबमरीन फर्जी है जिसे वीडियो में एडिट कर जोड़ा गया है।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Karachi floods.jpg

पाकिस्तान स्थित कराची में इन दिनों मुसलाधार बरसात होने के कारण शहर में कई जगह भारी जलभराव हो गया है और इसी के चलते कराची में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। कराची बाढ़ से सम्बंधित सोशल मंचों पर कई तस्वीरें, मैसेज व वीडियो वाईरल हो रहे हैं, ऐसा ही एक वीडियो सोशल मंचों पर चर्चा का विषय है जिसमें एक फ्लाईओवर दिख रहा है और उसके नीचे काफी पानी भरा हुआ है नज़र आ रहा है। लोगों का आवागमन जारी है, कई लोग वाहनों पर जाते हुए नज़र आ रहे है, कई लोग पैदल जाते हुए नज़र आ रहे है और भारी संख्या में लोग फ्लाईओवर पर खड़े होकर नीचे हुए जलभराव को देख रहे हैं। इस वीडियो में आपको सबमरीन जैसी दिखने वाला एक वाहन पानी में एक ओर से दुसरी ओर जाते हुए नज़र आएगा।

वीडियो के साथ जो शीर्षक वाईरल हो रहा है उसमें लिखा है,

पाक नौसेना ने बाढ़ पीड़ितों के बचाव के लिए कराची की सड़कों पर सबमरीन पीएनएस खालिद को तैनात किया। जनरल बाजवा ने कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं और कराची नगर निगम को सभी सीवेज गटर खोलने के लिए कहा है ताकि सबमरीन बाढ़ से प्रभावित शहर में पहुंच सके।“

आर्काइल लिंक

इस पोस्ट को सोशल मंचों पर काफी साझा किया गया है। सोशल मंच उपभोक्ताओं ने पाकिस्तान सेना पर तंज कसते हुये इस वीडियो को पोस्ट व साझा किया है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Karachi floods6.jpg

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरूवात में हमने इस वीडियो की खोज इन्वीड टूल के माध्यम से रीवर्स इमेज सर्च के ज़रिये कर के की, व तद्पश्चात हमने कीवर्ड सर्च के माध्यम से कराची में लोगों के बचाव के लिए तैनात की गयी सबमरीन के बारे में समाचार लेख ढूंढे, लेकिन हमें कोई पुख्ता जानकारी हासिल नहीं हुई, हालाँकि हमें ये ज्ञात हुआ कि पाकिस्तान के सिंध क्षेत्र में खास करके पाकिस्तान की आर्थिक राजधानी में 70 से ज़्यादा सेना के नौजवान व सिंध रेन्जर्स रेस्क्यू टीम को बाढ़ के पीडितों के बचाव के लिये तैनात किया गया है। 

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Karachi floods9.jpg
गल्फ न्यूज़आर्काइव लिंक
द एक्सप्रेस ट्रिब्यूनआर्काइव लिंक

इसके बाद हमें एक ट्वीट हैंडल मिला जहाँ यह वीडियो वायरल हो रहे शीर्षक के साथ पोस्ट किया गया था। 

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमने इस ट्वीटर उपभोक्ता के बारे में अधिक जानकारी हासिल करने के लिए उसके ट्वीटर हैंडल की जाँच की तो उसके बायो में लिखा था, 

“सभी ट्वीट्स मज़ाक के तौर पर है, 100% नकली व काल्पनिक हैं, मृत या जीवित किसी भी व्यक्ति से समानता विशुद्ध रूप से संयोग है। ग्रेटर पाकिस्तानी, जनरल क़मर बाजवा के निजी सलाहकार।”

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Karachi floods5.jpg

अगर आप इनके कराची में लोगों के बचाव के लिये तैनात की गयी सबमरीन वाले पोस्ट के नीचे नज़र आ रहे कमेन्ट्स पर नज़र डालेंगे तो वहाँ आपको दिखेगा कि कई लोगों ने इस पोस्ट को मज़ाक के तौर पर लिया है।

तत्पश्चात हमने इस ट्वीटर उपभोक्ता से संपर्क किया। उसने बताया कि, 

“वाईरल हो रहा वीडियो डिजिटली एडिट किया हुआ है। इस वीडियो को मैंने एडिट किया है। मेरे एक फोलोवर ने मुझे मूल वीडियो भेजा था और उसको मैंने डिजिटली एडिट करके उसमें तैरती हुई सबमरीन डाल दी है। वास्तव में यह प्रसंग कराची के नगन चौरंगी का है और यह वीडियो 27 अगस्त को लिया गया है।“

इसके बाद हमने उस उपभोक्ता से वास्तविक वीडियो मंगवाया। वास्तविक वीडियो में आपको सबमरीन नहीं दिखाई देगी। आपको इस वीडियो में एडवेन्चर नाम का एक लोगो भी दिखाई देगा जो वाईरल हो रहे वीडियो में ब्लर किया गया था।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत पाया है। वाईरल हो रहा वीडियो एक ट्वीटर उपोभोक्ता के द्वारा डिजिटली एडिट किया हुआ है।

Avatar

Title:कराची बाढ़ के बचाव अभियान में दिख रही ये सबमरीन फर्जी है जिसे वीडियो में एडिट कर जोड़ा गया है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply