झारखण्ड में लड़की पर हमला करने के एक पुराने वीडियो को लव जिहाद के नाम से फैलाया जा रहा है |

False National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया मंचों पर एक वीडियो काफी तेजी से फैलाया जा रहा है, जिसमें भीड़ को एक कथित अपराधी की पिटाई करते हुए दिखाया गया है | इस वीडियो को सोशल मीडिया पर फैलाते हुए दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहे युवक ने लव जिहाद के मामले में महिला को बहकाने की कोशिश जिसके कारण लोग उसे पीट रहे है | वीडियो में महिला के गाल और गर्दन से खून बहता हुआ देखा जा सकता है, जबकि भीड़ कथित अपराधी की पिटाई करती हुई दिख रही है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि…

 “#लव_जिहाद मैं #लड़की का गला काटने की कोशिश मे रंगे हाथ पकड़ा गया ऐसा लगता है आजकल #जिहादियो ने #हिंदू #जनसंख्या बढ़ने से रोकने के लिये हिंदू #महिला #जिहाद चला रखा है जो निकाह कर ले उससे जितने जिहादी पैदा हो उसके बाद मार दो और जो निकाह ना करे उसे भी मार दो #हिन्दू_ख़तरे_में_हैं |”

वीडियो के ऊपर लिखा गया है कि 

जिहादी के प्रेम जाल में फँसी हिन्दू लड़की का गला काट रहा था|”

आर्काइव लिंक
अनुसन्धान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने पाया कि वीडियो मूल रूप में झारखंड का है जहाँ एक व्यक्ति को उसकी महिला मित्र पर हमला करने के लिए भीड़ द्वारा पीटा गया है, इस घटना में कोई लव जिहादकोण नहीं है|

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को संबंधित कीवर्ड्स द्वारा ढूँढने से किया, जिसके परिणाम में हमें १६ सितंबर २०१९ को प्रभात खबर द्वारा प्रकाशित एक खबर प्राप्त हुई | इस ख़बर में वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट भी देखा जा सकता है | खबर के अनुसार लालपुर के एक कोचिंग में पढ़नेवाली चंदवा निवासी छात्रा के कथित प्रेमी अरविंद कुमार ने उस पर चाकू से हमला कर लहूलुहान कर दिया था| प्रेमी ने उसकी गर्दन पर वार किया था | आरोपी ने चाकू से छात्रा की गर्दन पर वार किया था, जिसके बाद छात्रा शोर मचाते हुए किसी तरह वहां से भागते हुए रोड पर आ गयी़, वहां से गुजर रहे लोगों ने छात्रा को शोर मचाते देखा तो रूक कर पूछताछ की | छात्रा ने लोगों को सारी बातें बतायी़ इसके बाद लोगों ने तुरंत पुलिस सूचना दी़ जिसके चलते पिठोरिया पुलिस वहां पहुंची और आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया़ | रिपोर्ट के अनुसार लड़के का नाम अरविंद कुमार है जिनके पिता का नाम महेंद्र साओ है |

आर्काइव लिंक
इसी घटना के बारें में इंडिया टुडे ने भी खबर प्रकाशित की है, ख़बर के अनुसार झारखंड के लातेहार जिले के चंदवा के रहने वाले अरविंद कुमार रांची में रहकर अपनी प्रेमिका से शादी करना चाहते थे | जब लड़की ने उससे शादी करने से इनकार कर दिया तो यह बात अरविंद को सहन नही हुई |

आर्काइव लिंक

तद्पश्चात फैक्ट क्रेसेंडो ने पिथोरिया पुलिस स्टेशन के एस.एच.ओ विनय कुमार से संपर्क किया जिन्होंने हमें बताया कि

 “यह घटना पिछले साल की है और इस घटना के साथ संप्रदायिकता का कोई सम्बन्ध नही है | यह किसी लव जिहाद का मामला नही है | इस मामले में संबंधित आरोपी (लड़का) मुसलमान नहीं है | वीडियो में दिख रहा लड़का वीडियो में दिख रही लड़की को पसंद करता था | दुर्भावनापूर्ण इरादों के साथ, अरविंद ने लड़की को डेट के लिए मना लिया, वे पिठोरिया घाटी गए |अचानक, अरविंद ने बहाना बनाते हुए लड़की को छोड़ दिया | जब अरविंद कुछ देर तक नहीं लौटा, तो लड़की उसे ढूंढने गई | लेकिन जिस क्षण वह इलाके में एक एकांत जगह में पहुंची, अरविंद ने उस लड़की पर धारदार हथियार से हमला कर दिया | जब लड़की ने हंगामा किया तो लोगों ने आसपास भीड़ जमाया और लड़के को पीटा | इस वीडियो को वर्तमान में लव जिहाद के साथ जोड़कर गलत विवरण दे फैलाया जा रहा है|”

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो से साथ संप्रदायिकता का कोई संबंध नही है | यह मामला लव जिहाद का नही है |

Avatar

Title:झारखण्ड में लड़की पर हमला करने के एक पुराने वीडियो को लव जिहाद के नाम से फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply