क्या यह विडियो भारत में मुसलमानों द्वारा हिन्दू के मोब लिंचिंग का है?

False International
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२५ जून २०१९ को राजकिरण स्वदेशी नामक एक फेसबुक यूजर ने एक विडियो पोस्ट किया | विडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि क्या ये लिंचिंग नहीं है मरने वाला हिन्दू और मारने वाला मुसलमान है शायद इसलिए बुद्धिजीवी की नजर में ये लिंचिंग नहीं है | मरेगे एक दिन हिन्दू, जातियो में और उच नीच में बंटे रहो | हमारे साथ जिस दिन ऐसा होंगा, उस दिन 100% से ज्यादा को पहले कब्रिस्तान पहुंचाएगे तब सांसें बंद होगी |”

विडियो में हम कुछ लोगों को एक आदमी को बड़ी बेरहमी से मारते हुए देख सकते है | इस घटना को मोब लिंचिंग कहा जा रहा है | इस विडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि यह विडियो मुसलमानों द्वारा हिन्दू व्यक्ति के मोब लिंचिंग का है इसलिए कोई इसके खिलाफ आवाज़ नहीं उठाने वाला है | इस विडियो को एक सांप्रदायिक मुद्दे का रूप दिया जा रहा है | हालही में मुसलमानों के साथ हुई घटना के संदर्भ में इस विडियो को वायरल किया गया है | फैक्ट चेक किये जाने तक यह विडियो २०८ व्यूज प्राप्त कर चुकी थी | 

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव विडियो 

इस विडियो को फेसबुक पर एक और कथन से साथ ६ महीने पहले भी साझा किया गया है | १२ जनवरी २०१९ को ज़ी न्यूज़ फैन क्लब नामक एक फेसबुक पेज ने इस विडियो को साझा करते हुए दावा किया था कि यह विडियो बंगाल के बिगड़े हालात को दर्शाता है | लिखा गया है कि बंगाल में मुसलमानों की भीड़ ने हिन्दू को पत्थर से कुचला | 

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव विडियो 

क्या वास्तव में मुसलमानों के भीड़ ने एक हिन्दू आदमी पर इतना अत्याचार किया ? हमने इस विडियो की सच्चाई जानने की कोशिश की |

संशोधन से पता चलता है कि…

जांच की शुरुआत हमने इस विडियो को इनविड टूल का इस्तेमाल करते हुए छोटे कीफ्रेम्स में तोडा | इन कीफ्रेम्स को हमने गूगल रिवर्स इमेज सर्च करते हुए विडियो को ढूँढा | परिणाम से हमें २ अप्रैल २०१७ को प्रसारित यू-ट्यूब विडियो मिला | इस विडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “देखिये कैसे !!! मुनीर चेयरमैन की हत्या करने वाले आरोपी को काटकर हत्या की गई है !!! |” विडियो के विवरण में लिखा गया है कि यह घटना बांग्लादेश में कॉमिला नामक शहर की है | कहा गया है कि जिरकंडी संघ के चेयरमैन मोनिर होस्सन की हत्या के पश्चात कुछ बदमाशों ने मोनिर होस्सन के हत्या के आरोपी, अबू सईद और मोहम्मद अली पर हमला किया | इस घटना के चलते अबू सईद मारे गए और मोहम्मद अली बुरी तरह से घायल हुए |

इसके पश्चात हमने इस घटना से जुडी खबरों को ढूँढा | ८ नवंबर २०१६ को ढाका ट्रिब्यून के अनुसार संघ परिषद के चेयरमैन, मोनिर होस्सन को कोमिला में हमलावरों ने गोली मार दी थी |

ढाका ट्रिब्यून | आर्काइव लिंक 

हमें बांग्लादेशी समाचार पोर्टलों से समाचार रिपोर्ट मिली, जिन्होंने घटना की सूचना दी | खबरों के अनुसार संघ परिषद के अध्यक्ष मोनीर होस्सन की हत्या के एक आरोपी २८ वर्षीय अबू सईद को दाउदकंडी उपजिला में अज्ञात लोगों द्वारा काट दिया गया, जबकि एक अन्य आरोपी ३५ वर्षीय मोहम्मद अली गंभीर रूप से घायल हो गए थे | 

आर्काइव लिंक | आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों के जांच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | इस विडियो को एक सांप्रदायिक रंग दिया जा रहा था जबकि यह विडियो बांग्लादेश में एक ही सुमदाय के लोगों के बीच के झड़प का है | साथ ही यह विडियो दो साल पुराना है | 

Avatar

Title:क्या यह विडियो भारत में मुसलमानों द्वारा हिन्दू के मोब लिंचिंग का है?

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply