क्या अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मोदी के समर्थन में लोगों से वोट मांग रहे है?

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अमरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की एक तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है | १६ मई २०१९ को प्रेम चाँद साह नामक एक फेसबुक यूजर ने यह तस्वीर पोस्ट की है | तस्वीर के शीर्षक में लिखा गया है कि “भारत के इतिहास में यह पहली बार हुआ है कि एक शक्तिशाली देश का राष्ट्रपति मोदी जी के लिए वोट मांग रहा है । ‘Vote for Modi” Thank you Mr. Trump फिर एक बार मोदी सरकार |”

पोस्ट में हम डोनाल्ड ट्रंप के हाथों में एक पोस्टर देख सकते है जिसमें वे मोदी के समर्थन में वोट देने की अपील कर रहे हैं | तस्वीर के माध्यम से यह दावा किया जा रहा है कि अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप भारत के प्रधानमंत्री मोदी के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं | वे मोदी को वोट देने की अपील कर रहे हैं | यह तस्वीर सोशल मीडिया में काफ़ी चर्चा में है |

आर्काइव लिंक

क्या वास्तव में ट्रंप मोदी के लिए वोट मांग रहे है? जानिए सच |

संशोधन से पता चलता है कि..

जांच की शुरुआत हमने इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट लेकर गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने से की | परिणाम से हमें न्यूज़ एएफ के वेबसाइट का लिंक मिला | वेबसाइट में हमें पता चला की पहले भी ट्रंप की इस तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गयी है | इसी तस्वीर को फोटोशोप के माध्यम से एडिट करते हुए यह दिखाया गया है कि डोनाल्ड ट्रम्प ने अतीकू का समर्थन किया | डोनाल्ड ट्रम्प के हाथ के पोस्टर में लिखा गया है कि अतीकू नाइजीरिया की जरूरत है |

आर्काइव लिंक

द केबल के अधिकारिक ट्विटर अकाउंट द्वारा की गयी ट्वीट से भी हम स्पष्ट हो सकते है कि ट्रंप के हाथ में अतीकू का यह तस्वीर फोटोशोप के माध्यम से छेड़छाड़ की गयी है |

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमें ३ सितम्बर २०१५ को द स्लेट द्वारा प्रकाशित खबर मिली | इस खबर में मूल तस्वीर का उल्लेख करते हुए लिखा गया है कि डोनाल्ड ट्रम्प ने २०१६ के आम चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार का समर्थन करने के लिए एक प्रतिज्ञा पर हस्ताक्षर किया था | उनके हाथ में यह प्रतिज्ञा देख सकते है | इससे हम स्पष्ट हो सकते है कि मूल तस्वीर २०१५ की है |

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमें ३ सितम्बर २०१५ को द गार्डियन द्वारा प्रकाशित खबर मिली | इस खबर में ट्रम्प द्वारा इस प्रतिज्ञा का कवरेज किया गया है |

आर्काइव लिंक  

इस प्रतिज्ञा की तस्वीर डोनाल्ड ट्रंप ने अपने अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ३ सितम्बर २०१५ को पोस्ट की थी |

आर्काइव लिंक  

३ सितंबर २०१५ को सीएनएन ने एक वीडियो अपलोड किया जिसमें डोनाल्ड ट्रम्प को लॉयल्टी प्रतिज्ञा पर हस्ताक्षर करने की घोषणा करते हुए देखा जा सकता है |

नीचे हमने सोशल मीडिया पर वायरल की गयी तस्वीर के साथ मूल तस्वीर की तुलना की है | मूल तस्वीर में डोनाल्ड ट्रंप को उनके द्वारा साईन की गई प्रतिज्ञा को पकड़े हुए देखा जा सकता है |

निष्कर्ष: तथ्यों की जांच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | मूल तस्वीर २०१५ की है जिसके साथ फोटोशोप के माध्यम से छेड़छाड़ की गई है | मूल तस्वीर में हम डोनाल्ड ट्रंप को उनके द्वारा साईन की गयी प्रतिज्ञा को पकड़े हुए देख सकते है |

Avatar

Title:क्या अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मोदी के समर्थन में लोगों से वोट मांग रहे है?

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •