मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष कुंवर आज़म खान के वक्तव्य को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म खान का बता वायरल किया जा रहा है ।

False Politics
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Azam Khan Story 1.jpg

अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदीर का भूमी पूजन 5 अगस्त 2020, बुधवार को होने जा रहा है। कोरोनावायरस महामारी के मद्दे- नज़र राम मंदीर भूमी पूजन के कार्यक्रम में सिर्फ 150 लोगों को न्योत दिया जायेगा और कुल मिलाकर 200 लोग ही इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे। इसी संदर्भ में एक खबर सोशल मंचों पर वायरल हो रहीं है जिसका दावा है कि समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान ने ऐलान किया है कि अगर उन्हें राम मंदिर के भूमी पूजन पर नहीं बुलाया गया तो वे जल-समाधि ले लेंगे।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

वाईरल हो रहे फेस्बुक पोस्ट में लिखा है, “रामपुर लोकसभा सीट से सांसद आज़म खान ने कहा है कि वो भगवान राम के भक्त हैं। साथ ही उन्होंने मंदिर निर्माण आंदोलन में भी अहम भूमिका निभाई है। ऐसे में भूमि पूजन समारोह में उन्हें न्योता नहीं भेजा गया, तो वो उसी दिन सरयू नदी में जल-समाधि ले लेंगे। आज़म खान ने कहा कि भगवान राम और लक्ष्मण ने भी इसी सरयू नदी में जल-समाधि ली थी। और ना बुलाए जाने पर वो भी इसी नदी में जल-समाधि ले लेंगे।“

इस पोस्ट में दिया गया मैसेज अंग्रेज़ी व हिंदी दोनों ही भाषाओं में लिखा है। इस मैसेज को कई लोगों ने फेसबुक और ट्वीटर पर शेयर किया हैं।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

फेसबुक | आर्काइव लिंक

कुछ फेसबुक यूज़र ने वाईरल मैसेज के साथ सांसद आज़म खान की तस्वीर भी पोस्ट की है।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

वाईरल हो रहे मैसेज के संबन्ध में आसान सा कीवर्ड सर्च करने से पता चला की समाजवादी पार्टी के सांसद आज़म खान द्वारा ऐसा कोई ऐलान नहीं किया गया है अपितु कुछ न्यूज़ वैबसाइट ने ये लिखा है कि मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष कुंवर आज़म खान ने ऐलान किया है कि अगर उन्हें अयोध्या में बन रहे राम मंदीर के भूमी पूजन में आमंत्रित नहीं किया गया तो वे जल-समाधि ले लेंगे। 

अधिक जाँच करने पर हमें यूट्यूब पर एक वीडियो मिला जिसमें मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष कुंवर आज़म खान मीडिया से बात करते नज़र आ रहें हैं। मीडिया को बाईट देते हुए कुंवर आज़म खान ने जल-समाधि लेने के संदर्भ में बात की, वीडियो में उन्होंने कहा, “श्री रामचंद्र और लक्ष्मण जी की तरह जल-समाधि ले लेंगे और अपने जीवन को त्याग देंगे जिने से बेहतर है मर जाना अगर इस पूजन में हम शामिल नहीं हुए। मेरा यह मानना है कि अगर मैं पूजन में शामिल नहीं हुआ तो ये पूजा अधूरी है, ये शिला पूजन अधूरी है, सारा कार्यक्रम पूरा नहीं माना जाएगा क्योंकि देश के एक वर्ग को नज़र-अंदाज़ किया जा रहा है। मै कितना खतरों से…मेरे उपर कितना हमला हुआ। कई बार हम पर हमला हुआ हम बच गएं, राम की वजह से हम बचें, उन्हीं का आशिर्वाद था कि हम बचें।“ 

इस वीडियो में शुरूआत से लेकर 0.27 सेकंड तक आप उपर दिया गया बयान सुन सकते है।

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमनें समाजवादी पार्टी के सांसद आज़म खान के सम्बन्ध में रामपुर के सामाजवादी पार्टी के जिल्हाध्यक्ष अखिलेश कुमार से संपर्क किया तो पता चला की आज़म खान इस समय जेल में है। हमने वाईरल हो रहे मैसेज के संदर्भ में बात की तो उन्होंने कहा, “आज़म खान जी अभी जेल में है और उन्होंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है बल्कि ऐसा कहने वाले एक अन्य व्यक्ति हैं जिनका संयोगवश नाम आज़म खान है और इन दोनों का आपस में कोई सम्बन्ध नहीं है ।“ 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत पाया है। समाजवादी पार्टी के सासंद आज़म खान नहीं बल्की मुस्लिम कारसेवक मंच के कुंवर आज़म खान ने ये वक्तव्य दिया है कि अगर उनको राम मंदिर के भूमी पूजन पर आमंत्रित नहीं किया गया तो वे जल-समाधि ले लेंगे।

Avatar

Title:मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष कुंवर आज़म खान के वक्तव्य को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म खान का बता वायरल किया जा रहा है ।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •