अमिताभ बच्चन के नानावटी अस्पताल में एडमिट होने को लेकर फैलाई गई अफवाएं |

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

११ जुलाई को, बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन ने ट्वीट किया कि वे कोरोनावायरस से संक्रमित हो चुके है | उन्हें मुंबई के नानावटी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में आइसोलेशन यूनिट में भर्ती कराया गया था | अगले दिन, अभिषेक बच्चन, ऐश्वर्या राय और आराध्या बच्चन भी कोरोनावायरस पॉजिटिव निकले | इसकी पृष्ठभूमि में, अमिताभ को लेकर सोशल मीडिया पर काफी अफवाहें फैलायी जा रहीं है जैसे कि अमिताभ बच्चन द्वारा नानावटी अस्पताल के कर्मचारियों को धन्यवाद देते हुए एक पुराने वीडियो को अमिताभ बच्चन के कोरोनावायरस से संक्रमित होने के बाद का वीडियो के नाम से फैलाया गया था |

इसके आलावा फैक्ट क्रेसेंडो को हमारे WhatsApp नंबर ९०४९०५३७७० पर एक तस्वीर सत्यता जांचने के लिए भेजी गयी | इस पोस्ट में लिखा गया है कि अमिताभ बच्चन, रेडिएंट ग्रुप के निदेशक और बोर्ड सदस्य  हैं, जो कंपनी नानावती अस्पताल की मालिक हैं | इस पोस्ट में यह भी दावा किया गया है कि बच्चन अपने घर में उपलब्ध सुविधाओं में आसानी से  “होम क्वारंटाइन” में रह सकते थे |

इस पोस्ट के माध्यम से तीन दावे किये गये है:

1. अमिताभ बच्चन एक एस्यम्प्तोमाटिक पेशेंट है |
2. अमिताभ बच्चन रेडिएंट लाइफ केयर प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक मंडल में हैं  |

3. अमिताभ बच्चन ने कोरोनावायरस से संक्रमित होने के बाद नानावटी हॉस्पिटल की तारीफ का एक नाटकीय वीडियो बना साझा किया है |

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने एस्यम्प्तोमाटिक पेशेंट से संबंधित गाइडलाइन को ढूँढने से की, जिसके परिणाम से हमें स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा २ जुलाई २०२० को जारी की गई माइल्ड / प्री स्यम्प्तोमाटिक / एस्यम्प्तोमाटिक  कोरोनावायरस मामलो के होम क्वारंटाइन के लिए रिवाईसड की गई गाइडलाइन मिली, जिसके अनुसार “६० वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग जिन्हें को-मॉर्बिड कंडीशन है जैसे कि मधुमेह, हृदय रोग, क्रोनिक फेफड़े / यकृत / गुर्दे की बीमारी, सेरेब्रो-वैस्कुलर रोग आदि, को केवल चिकित्सा अधिकारी द्वारा उचित जाँच के बाद केवल होम क्वारंटाइन की अनुमति दी जानी चाहिए |”

फैक्ट क्रेसेंडो ने नानावटी हॉस्पिटल के पी.आर डिपार्टमेंट से संपर्क किया जिन्होंने हमें बताया कि “अमिताभ बच्चन को चिकित्सकीय सलाह के तहत अस्पताल में भर्ती कराया गया है |”

तद्पश्चात हम रेडियंट लाइफ केयर प्राइवेट लिमिटेड के वेबसाइट पर गए, जिनके आधिकारिक वेबसाइट पर हमें  स्पष्ट रूप से संगठन के बोर्ड सदस्यों के नाम की सूचि मिली जिसमे अमिताभ बच्चन का नाम सूचीबद्ध नहीं है | नीचे आप रेडियंट कंपनी की पूरी लीडरशिप टीम के नाम देख सकते है :

Abhay Soi- Chairman and Managing Director
Dilip Bidani- Group Chief Financial Officer 

Pritipal Singh- Director – Infrastructure

 Prachi Singh- Company Secretary & Head – Legal & Secretarial 

Dr. Sanjay Mehta- Unit Head & Vice President 

Sandeep Verma Head – Finance & Accounts 

Amit Kumar GM – Sales & Marketing 

Parul Chhabra- AGM (Head)- Corporate Communications and Marketing 

Manpreet Sohal-Director and Chief Operating Officer 

Dr. Deepak Patkar- Director Medical Services, Head, Department of Imaging 

Deepak Samant- Chief Financial Officer 

Prashant Pikle -Vice President: Materials & Supply Chain Management

इसके अलावा, हम मिनिस्ट्री ऑफ़ कारपोरेट अफेयर (MCA) की वेबसाइट पर गए जो कंपनी अधिनियम, १९५६, २०१३ और अन्य संबद्ध अधिनियमों, बिल और नियमों के माध्यम से भारत में कारपोरेट मामलों को नियंत्रित करती है,  यहाँ ढूँढने पर स्पष्ट रूप से पता चलता है कि अमिताभ बच्चन रेडिएंट लाइफ केयर प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक नहीं हैं |

डायरेक्टर आइडेंटिफिकेशन पिन क्या है ?

यह एक विशिष्ट पहचान संख्या है जो किसी व्यक्ति को दी जाती है, जो किसी कंपनी का मौजूदा निदेशक है या कंपनी अधिनियम, १९५६ की धारा २६६ ए और २६६ बी के अनुसार कंपनी के निदेशक के रूप में नियुक्त होने का इरादा रखता है (२००६ के संशोधित अधिनियम २३) |

इसके आलावा नानावटी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल ने ट्विटर पर अमिताभ बच्चन के हॉस्पिटल की तारीफ करते हुए फर्जी वीडियो से संबंधित स्पष्टीकरण जारी किया है | अस्पताल के बयान के अनुसार, २३ अप्रैल २०२० को अमिताभ बच्चन ने अस्पताल को पीपीई किट दान की थी ये तब था जब नानावती अस्पताल ने एक समर्पित COVID-19 सुविधा बनया था |

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | अमिताभ बच्चन को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल दावे गलत है,वे रेडियंट लाइफ केयर प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक नहीं है और  ना ही बोर्ड मेम्बर है | साथ ही उन्हें डॉक्टर के सलाह पर नानावटी हॉस्पिटल में एडमिट किया गया है | 

Avatar

Title:अमिताभ बच्चन के नानावटी अस्पताल में एडमिट होने को लेकर फैलाई गई अफवाएं |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply