क्या कमल नाथ ने कहा ‘राहुल गांधी’ भगवान शिव के अवतार है ? जानिये सच |

False National Political
  • 19
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    19
    Shares

यह चित्र हमने Khaskhabar.com से प्रतिनिधित्व के लिए लिया है |

तेज़ी से साझा हो रहे एक फेसबुक पोस्ट में यह दावा किया गया है कि, कमल नाथ ने कहा ‘राहुल गांधी’ भगवान शिव के अवतार है और नीचे लिखा गया है कि, ‘तभी किसी ने कहा जहर देकर चेक कर लो क्योंकि बाद में सबूत मांगते है लोग’ | वैसे देखा जाए तो मजाक के तौर पर यह पोस्ट किया गया है, जिसका सन्दर्भ बालाकोट एयर स्ट्राइक में आतंकवादी मारे जाने के सबूत मांगने से है | लेकिन चूँकि कमल नाथ यह मध्य प्रदेश के एक कद्दावर कांग्रेस नेता है और प्रदेश के विद्यमान मुख्यमंत्री भी है, उनके बारे में इस तरह कि बात फैलाये जाने के तथ्य कि जांच करना हमें आवश्यक लगा | यूँ देखा जाए तो २०१७ से ही राहुल गाँधी को कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा पोस्टर्स के जरिये कभी भगवान शिव का तो कभी भगवान राम का अवतार बताया गया है | कमल नाथ के बारे में यह दावा इसी सन्दर्भ में किया गया है | तो आइये देखते हैं क्या है सच |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:  

FacebookPost | ArchivedLink

१४ मार्च २०१९ से फैक्ट चेक किये जाने तक इस पोस्ट को ५,७०० बार से भी ज़्यादा साझा किया गया है |

तथ्यों की जांच:

गूगल पर जब हमने इस बात कि खोज की तब हमें पता चला कि २०१७ से हर साल राहुल गांधी को अलग अलग भगवान के अवतार के रूप में पोस्टर्स के माध्यम से दर्शाया गया है | यह भी पता चलता है की अमूमन इस तरह के पोस्टर्स पार्टी के ग्राउंड लेवल के कार्यकर्ता लगाया करते है |  

मसलन, दिसंबर २०१७ को उत्तर प्रदेश चुनाव के समय जो पोस्टर उभरे थे उनमे राहुल गांधी को शिव अवतार, परशुराम के वंशज और यहां तक की अर्जुन अवतार के रूप में भी चित्रित किया गया था | इस विषय पर Opindia नामक एक न्यूज़ वेबसाइट ने एक खबर प्रकाशित कि थी, जो आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर पढ़ सकते है |

नीचे दिए गए पोस्टर्स के चित्र देखने पर यह स्पष्ट होता है कि पोस्टर्स प्रकाशित करने वाले प्रदेश के कोई बड़े नेता नहीं है, बल्कि ग्राउंड लेवल पर काम करने वाले कार्यकर्ता है और यह भी स्पष्ट होता है कि कमल नाथ का नाम कोई भी पोस्टर पर नहीं है |

पोस्टर पर दिए नाम है जगदीश शर्मा, अनिल ठक्कर, हसीब अहमद, त्रिभुवन तिवारी, श्रीश चन्द्र दुबे, कादिर भाई और अभय शुक्ला |  

Opindia | ArchivedLink

दिसंबर २०१७ को अलाहाबाद में कांग्रेसिओं द्वारा राहुल गाँधी को नीलकंठ का अवतार भी बताया गया है |

यह पोस्टर लगाने के बाद हिंदी न्यूज़ १८ ने एक लोकल कांग्रेस नेता से साक्षात्कार किया था जो आप नीचे कि लिंक पर देख सकते है | विडियो में आप देख सकतें हैं कि बोलने वाले व्यक्ति का नाम ‘अभय अवस्थी’ है, जो एक कांग्रेस नेता हैं | टाइम्स ऑफ़ इंडिया अख़बार ने भी यह खबर प्रकाशित की थी, जो आप दूसरी लिंक पर पढ़ सकते है |

Hindi.news18.com | ArchivedLinkTOI | ArchivedLink

इसके बाद जनवरी २०१८ को उत्तर प्रदेश में राहुल गांधी को राम अवतार और पीएम मोदी को रावण के रूप में दर्शाने वाले पोस्टर लगाये गए थे | ट्विटर पर ANI UP ने अमेठी में लगे एक पोस्टर का चित्र साझा किया है |

ANI UP द्वारा किये गए ट्वीट मे भी जिस पोस्टर का चित्र दिया गया है, उसमे भी नाम ‘अभय शुक्ला’ लिखा गया है |

TwitterPost | ArchivedLink

इस विषय पर Opindia नामक एक न्यूज़ वेबसाइट ने भी एक खबर प्रकाशित कि थी, जो आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर पढ़ सकते है |

Opindia | ArchivedLink

CNN-News18 द्वारा २९ जनवरी २०१९ को एक ख़बर में राहुल गाँधी को भगवान का अवतार दर्शाने वाले पोस्टर्स का वर्णन किया गया है और बिहार ब्यूरो प्रमुख ‘प्रभाकर’ से साक्षात्कार भी किया गया है | इस ख़बर में भी कहीं भी कमल नाथ का या उनके द्वारा कहे गए उपरोक्त कथित दावे का उल्लेख नहीं आया है |

इस ख़बर को टाइम्स नाउ न्यूज़ ने भी कवर किया है | पूरी खबर पढ़ने के लिए निचे दिए लिंक पर क्लिक करें |

Timesnownews | ArchivedLink

इसके बाद और अधिक संशोधन करने पर जिस प्रदेश से कमल नाथ है, उस मध्य प्रदेश राज्य में प्रकाशित पोस्टर्स भी हमें मिले, जो कि आप नीचे की स्क्रीन शॉट्स पर देख सकते है | खबरें पढने के लिए नीचे कि लिंक पर क्लीक करे |

Opindia | ArchivedLink

Indiatoday | ArchivedLink

हर पोस्टर पर सिर्फ़ राहुल गाँधी को भगवान राम के रूप मे या भगवान शिव के अवतार मे रूप में दर्शाया गया है | मगर कहीं भी यह बात कमल नाथ द्वारा कही गई, यह स्पष्ट नहीं होता है, जैसा कि उपरोक्त पोस्ट में दावा किया गया है |

हमने मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता अभय दुबे से बात की | उन्होंने कहा, “किया गया दावा गलत है | कमल नाथ सरकार ने हमेशा सुशासन पर ध्यान केंद्रित किया है | कमल नाथजी ने कभी भी ऐसा कोई दावा नहीं किया है | विपक्षी पार्टी के लोगों ने हमेशा सरकार को बदनाम करने की कोशिश की है | यह दावा सरासर गलत है |”

निष्कर्ष : ग़लत

तथ्यों की जांच करने पर हम इस बात की पुष्टि करते हैं कि चुनाव प्रचार के लिए राहुल गांधी को विभिन्न भगवान के अवतार या वंशज तो दर्शाया गया है, मगर यह दावा गलत है कि कमल नाथ ने कहा ‘राहुल गांधी’ भगवान शिव के अवतार है | इस तरह के पोस्टर्स पार्टी के ग्राउंड लेवल के कार्यकर्ताओं द्वारा लगाये गए है, न कि किसी राज्य स्तर के नेता द्वारा | अतः यह पोस्ट गलत है |

Avatar

Title:क्या कमल नाथ ने कहा ‘राहुल गांधी’ भगवान शिव के अवतार है ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  • 19
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    19
    Shares