यह घटना तब की है जब साल 2020 के जुलाई महीने में इजिप्ट के काहिरा स्थित एक पेट्रोलियम पाइपलाइन में लीक के कारण आग लग गई थी। 

False International

तेल पाइपलाइन में लगी आग का पुराना वीडियो इजिप्ट के विमान हादसे का बताकर गलत दावे से वायरल…

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि इजिप्ट के काहिरा एयरपोर्ट पर प्लेन लैंडिंग के दौरान एक हादसा हुआ और इसमें लगभग 15000 लोगों की जान चली गई। वीडियो में विस्फोट के बाद चारों तरफ धुंआ फैला हुआ देखा जा सकता है। जिसकी वजह से आस-पास अफरा-तफरी का माहौल है, और लोग इधर से उधर भाग रहे हैं। वायरल वीडियो को इस कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है कि….

बहुत बुरी और भयावह खबर इजिप्ट (मिस्र ) ‌राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर भयानक हादसा, प्लेन लेंडिंग के वक्त क्रैश हो गया आग का समुद्र बहुत तेजी से फैला और दो हजार लोगों को जिंदा जलने की आशंका।

फेसबुक पोस्टआर्काइव पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने वीडियो की पड़ताल के लिए सबसे पहले इजिप्ट में प्लेन क्रैश से संबंधित मीडिया रिपोर्ट्स की तलाश की, लेकिन हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली जो वायरल दावे की पुष्टि कर सके। 

फिर हमने आगे की जांच शुरू करने के लिए तस्वीर ले कर रिवर्स इमेज सर्च किया। परिणाम में हमें इजिप्ट टुडे की वेबसाइट पर एक रिपोर्ट मिली, जो 15 जुलाई 2020 का है। बताया गया है कि इस्माइलिया डेजर्ट रोड पर पेट्रोलियम पाइपलाइन में हुए विस्फोट के बाद मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया है। विस्फोट के चलते हुआ यह हादसा पाइपलाइन के रिसाव के कारण हुआ था। जिस पर मिस्र के अटॉर्नी जनरल हमादा अल-सावी ने घटना की जांच के आदेश दिए। हादसे में कई लोग घायल हुए और लगभग 12 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

हमने देखा कि 14 जुलाई 2020 की गल्फ न्यूज और 15 जुलाई 2020 की स्काई न्यूज की रिपोर्ट में वायरल वीडियो से मिलती-जुलती तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया था। खबर के अनुसार, मिस्र के काहिरा में तेल पाइपलाइन में विस्फोट के कारण आग लगने से कई लोग घायल हो गए थें।

खोज के दौरान हमें इजिप्ट में हुई इस घटना से संबंधित ग्लोबल न्यूज के यूट्यूब चैनल पर यही वीडियो अपलोड किया हुआ मिला। इसके साथ डिस्क्रिप्शन में बताया गया था कि मिस्र की कच्चे तेल की पाइपलाइन में भीषण आग लग गई, जिसमें कम से कम 12 लोग घायल हो गए थें। पेट्रोलियम मंत्रालय की तरफ से दिए गए बयान के मुताबिक सड़क पर चलती कारों से निकली चिंगारी के कारण पाइप से रिस रहे कच्चे तेल में आग लग गई थी। हालांकि घटना के तुरंत बाद पाइपलाइन के वाल्व बंद कर दिए गए और आग पर काबू पा लिया गया था। 

द टेलीग्राफ के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर भी घटना से संबंधित एक वीडियो रिपोर्ट को हम देख सकते हैं। 

इसलिए स्पष्ट तौर से यह कहा जा सकता है कि वायरल वीडियो का विमान हादसे से कोई संबंध नहीं है। 

निष्कर्ष 

तथ्यों के जांच से यह पता चलता है कि वायरल वीडियो साल 2020 का है, जब इजिप्ट के काहिरा में एक पेट्रोलियम पाइपलाइन में लीक के चलते आग लग गई थी। इसका विमान हादसे से कोई संबंध नहीं है। 

Avatar

Title:यह घटना तब की है जब साल 2020 के जुलाई महीने में इजिप्ट के काहिरा स्थित एक पेट्रोलियम पाइपलाइन में लीक के कारण आग लग गई थी।

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply