क्या रुबिका लियाकत ने मुस्लिमों के खिलाफ दिया विवादित बयान ? जानिये सच |

False National Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१ जून २०१९ को फेसबुक पर ‘हिन्दुत्व की हुंकार मोदी की दहाड़’ नामक एक पेज पर एक पोस्ट साझा किया गया है | पोस्ट मे विख्यात पत्रकार रुबिका लियाकत की तस्वीर के साथ एक विवादित बयान साझा किया गया है | तस्वीर के साथ लिखा है – “मंदिर में रमजान इफ्तार और नमाज़ का आयोजन तो हमेशा होता हैं | लेकिन मुसलमानों ने आज तक एक भी मस्जिद में नवरात्री पूजा का आयोजन नहीं किया | मुझे शर्म आती हैं, क्या ये सेक्युलरिजम का ठेका सिर्क हिंदू भाइयों ने लिया हैं ? – रुबिका लियाकत” | पोस्ट में लिखा है कि – “रुबिका लियाकत को जान से मारने की धमकी दे रहे मुसलमान !” इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि ‘रुबिका लियाकत ने उपरोक्त विवादित बयान दिया कि, मस्जिदों में नवरात्री पूजा का आयोजन क्यों नहीं होता, जिसकी वजह से मुसलमान उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहें है |’ क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले रुबिका लियाकत के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर जाकर इस बारे मे ढूंढने की कोशिश की | हमें मिले परिणाम को आप नीचे देख सकतें है |

TwitterPost | ArchivedLink

३ जून २०१९ को रुबिका लियाकत ने उपरोक्त पोस्ट मे किये गए दावे को नकारा है | ट्वीट में साझा होने वाली तस्वीर व कथित बयान पर उन्होंने इन शब्दों में प्रतिक्रिया दी है – “थोड़ा पढ़ लिख लो ज़बरदस्ती का ज्ञान बाँटने से पहले | होमवर्क शब्द सुना है? कहाँ सुना मुझे एसा कुछ कहते ? किसी ने भी फ़ोटो लगा कर किछ भी लिख दिया और शुरू हो गए ठेकेदार बग़ैर पड़ताल किए |” 

यह ट्वीट रुबिका ने बेबाक अंदाज नामक एक यूजर के किये गए ट्वीट के जबाब मे लिखा | इस व्यक्ति ने उपरोक्त पोस्ट में साझा की गयी तस्वीर को २ जून २०१९ को ट्वीट किया और उसपर लिखा कि, .@RubikaLiyaquat आप अगर इस्लाम को नजदीक से समझी होती तो आज ऐसी बाते नहीं कहती | मेरी समझ में आप का नाम सिर्फ मुस्लिम है | हरकत तो दोजख वाली है | अपनी पब्लिसिटी के लिए इतना गिर जाना शायद ठीक नहीं… खैर अल्लाह आप जैसी औरतो को सही रास्तों पर चलने कि तौफीक़ अता करें। @abbas_nighat

TwitterPost | ArchivedLink

इस संशोधन से यह बात पुख्ता होती है कि उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा महज़ भ्रम पैदा करने के लिए साझा किया जा रहा है |

फिर हमने गूगल पर ‘Rubika Liyaquat quotes on Masjid’ की वर्ड्स से ढूंढा, तो हमें और फैक्ट-चेकर्स द्वारा यह बयान के बारे मे ख़बरें मिली जिसमे उन्होंने भी इस पोस्ट को गलत कहा है |

BoomliveFactCheck | BhaskarhindiFactCheck

जांच का परिणाम : इस संशोधन से हम इस निष्कर्ष पर आते हैं कि उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा ‘रुबिका लियाकत ने उपरोक्त बयान दिया की मस्जिदों में नवरात्री पूजा का आयोजन क्यों नहीं होता |’ ग़लत है | उपरोक्त पोस्ट में साझा तस्वीर के साथ लिखा गया बयान रुबिका लियाकत द्वारा नहीं दिया गया है और इस बात को रुबिका ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर भी नकारा है |

Avatar

Title:क्या रुबिका लियाकत ने मुस्लिमों के खिलाफ दिया विवादित बयान ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 thoughts on “क्या रुबिका लियाकत ने मुस्लिमों के खिलाफ दिया विवादित बयान ? जानिये सच |

Comments are closed.