क्या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोनिया गांधी के पैर छुए ?

False National Political
  • 7
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    7
    Shares

३ अप्रैल २०१९ को फेसबुक के ‘हम तो अखिलेश यादव के साथ है…और आप’ नामक पेज पर  दीपक कुमार नामक यूजर द्वारा साझा की गई यह पोस्ट काफी चर्चा में है | पोस्ट में एक फोटो साझा किया है जिसमे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के पैर छूते नजर आ रहे है | पोस्ट के टेक्स्ट में लिखा गया है की – अपने बेटे से कहो 72 हजार और 22 लाख नौकरी के बारे में ना बोले नहीं तो मेरा क्या होगा गुजरात जाना पड़ेगा वहां की जनता भी अब जुमले में नहीं फसती | फैक्ट चेक किये जाने तक इस पोस्ट को २५०० से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिल चुकी थी | फोटो देखने के बाद यह साफ़ लगता है कि यह सही फोटो नहीं है | तो आइये जानते है इसकी सच्चाई |

ARCHIVE POST

दुसरे सोशल प्लेटफ़ॉर्म पर ढूंढने से हमें ट्वीटर पर इस सन्दर्भ में एक ट्वीट भी मिला |

ARCHIVE TWEET

संशोधन से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने पोस्ट की इस फोटो का स्क्रीन शॉट लेकर रिवर्स इमेज सर्च किया तो गूगल, यांडेक्स तथा टिनआय पर हमें अलग अलग तस्वीरें मिली |

गूगल रिवर्स इमेज सर्च से हमें यह पता चला की वास्तव में नरेन्द्र मोदी सोनिया गांधी के नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण अडवाणी के पैर छू रहे है | आप नीचे के स्क्रीन शॉट पर सर्च रिजल्ट्स देख सकते है |

यांडेक्स में रिवर्स इमेज सर्च करने के बाद हमें जो रिजल्ट मिले वह भी आप नीचे की स्क्रीन शॉट पर देख सकते है |

इसी तरह टिन आय रिवर्स इमेज सर्च के रिजल्ट्स भी आप नीचे की स्क्रीन शॉट पर देख पायेंगे |

इन तीनों रिवर्स इमेज सर्च से हमें पता चलता है कि नरेन्द्र मोदी ने सोनिया गांधी के नहीं बल्कि लालकृष्ण अडवाणी के पैर छुए थे |

यह बात और पुख्ता तरीके से जानने के लिए हमने गूगल पर सम्बंधित की वर्ड्स के साथ सर्च किया तो हमें वह वाकया भी पता चला जब नरेन्द्र मोदी ने अडवाणी को चरण स्पर्श किया था | यह घटना २५ सितम्बर २०१३ की मध्य प्रदेश के भोपाल शहर की है | तब मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव हो रहे थे और २५ सितम्बर को पार्टी ने भोपाल में एक बड़ी रैली का आयोजन किया था | उस समय तक भारतीय जनता पार्टी ने नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया था | रैली की शुरुआत में ही नरेन्द्र मोदी ने अडवाणी के पैर छुए, लेकिन अडवाणी ने उन्हें अनदेखा कर दिया था | इसके बाद यह फोटो और अडवाणी का मोदी को अनदेखा कर देना काफी चर्चा का विषय बना रहा |

NDTV ने इस रैली का एक विडियो यू-ट्यूब पर अपलोड किया था | नीचे आप इस विडियो को देख सकते है |

ARCHIVE NDTV

समाचार चैनल आज तक ने भी इस घटना पर एक खबर की थी |

ARCHIVE AAJTAK

गौर करने वाली और एक बात और भी है की मूल फोटो के साथ छेडछाड कर नरेन्द मोदी को इसके पहले भी AIMIM के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी तथा सऊदी अरब के राजा सलमान इनके पैर भी छूते हुए दिखाया गया है, जो आप नीचे की स्क्रीन शॉट पर देख सकते है |  

आइये दोनों फोटो की तुलना से हम अब यह भी जान लेते है कि कैसे मूल फोटो के साथ छेडछाड की गई है |

जांच का परिणाम :  इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में साझा किया गया फोटो सरासर गलत है तथा छेडछाड किया गया है | नरेन्द मोदी ने सोनिया गांधी के नहीं बल्कि लालकृष्ण अडवाणी के पैर छुए थे |

Avatar

Title:क्या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोनिया गांधी के पैर छुए ?

Fact Check By: Rajesh Pillewar 

Result: False


  • 7
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    7
    Shares