दिल्‍ली के सुल्‍तानपुरी क्‍वारंटाइन सेंटर का वीडियो फर्जी दावों से साथ हुआ वाईरल |

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर कोरोनावायरस संक्रमण से संबंधित गलत ख़बरें बढ़ती ही जा रही हैं, ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वाईरल हो रहा है जिसके माध्यम से दावा किया जा रहा है कि सुल्तानपुरी एस ब्लॉक में ४८ पेशेंट कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, जो जमात वाले है | वीडियो में हम पुलिसकर्मीयों के साथ लोगों की एक भीड़ देख सकते है | इसके अलावा बहुत लोगों को हंगामा करते हुए देखा जा सकता है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “सुल्तानपुरी एस ब्लॉक में 48 पेशेंट को रोना के पॉजिटिव मिले हैं जो जमात वाले है |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने इस वायरल वीडियो को ध्‍यान से देखने से की, इसमें एक व्‍यक्ति को यह बोलते हुए सुना जा सकता है कि एक पेशेंट की मौत हो गई है | इस वीडियो में एक एंबुलेंस को भी देखा जा सकता है | वायरल वीडियो में दिख रहे मुख्‍य गेट पर हमने दिल्‍ली लिखा हुआ पाया | इससे यह बात तो साफ हो गई कि वायरल वीडियो दिल्‍ली से ही है |

इस वीडियो को इन्विड टूल के मदद से गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया, जिसके परिणाम में हमें २२ अप्रैल २०२० को यूट्यूब पर अपलोड किया गया एक वीडियो मिला | इस रिपोर्ट के अनुसार सुल्तानपुरी के क्वारंटाइन सेंटर में एक शख्‍स की बीमारी की वजह से मौत हो गई, जिसके बाद जमातियों ने हंगामा किया |

फैक्ट क्रेसेंडो ने रोहिणी के एस.डी.एम नगेन्द्र त्रिपाठी से संपर्क किया जिन्होंने हमें बताया कि

“सुल्तानपुरी स्थित क्वारंटाइन सेंटर में दो जमातियों की हालत खराब हो गई थी | इसके बाद स्वास्थ्यकर्मियों ने दोनों को लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया था | जिसके दौरान एक ८० वर्षीय जमाती की मौत हो गई थी | वह मधुमेह से भी पीड़ित था | सोशल मीडिया पर फैलाई गयी बात केवल एक अफवाह है | सुल्तानपुरी एस ब्लॉक में ४८ पेशेंट कोरोना के पॉजिटिव मिलने वाली बात गलत है | इस क्षेत्र में करीब ६००-७०० जमातियों ने हंगामा किया था |”

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सुल्तानपुरी एस ब्लॉक में ४८ पेशेंट कोरोना के पॉजिटिव मिलने वाली बात गलत है | इस वीडियो के माध्यम से किये गये दावे फर्जी है |

Avatar

Title:दिल्‍ली के सुल्‍तानपुरी क्‍वारंटाइन सेंटर का वीडियो फर्जी दावों से साथ हुआ वाईरल |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •