FAKE: ओवैसी हमला करनेवाले आरोपी के नाम से भाजपा नेता के पीआरओ की गलत तस्वीर वायरल

Elections False Political

इस तस्वीर में दिख रहा शख्स सचिन नहीं, बल्की भाजपा नेता भुपेंद्र सिंह चौधरी के पीआरओ नितेश सिंह तोमर है। 

यूपी में विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार कर रहे एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर गोलियां चलाई गई। इस हमले के बाद हापुड पुलिस ने सचिन पंडित और शुभम नाम दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था। 

सोशल मीडिया पर अब आरोपी सचिन नाम से एक शख्स की तस्वीर वायरल हो रही जो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ दिखाई देता है। 

वायरल हो रहे पोस्ट में यूज़र ने लिखा है, “आखिर हर अपराध के पीछे भाजपा ही क्यों? ये वही सचिन है जिसने ओवैसी पर गोली चलाई ये प्रायोजित है या संयोग जो भाजपा के मुख्य एजेंडा में है? बीजेपी के लिए डरना स्वाभाविक है क्योंकि जिस तरह से जनता ने इनको खदेड़ने का काम शुरू किया है वो किसी से छिपा नहीं है।“

फेसबुक|आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस तस्वीर की जांच हमने गूगल रीवर्स इमेज सर्च करके की तो परिणाम में हमें ये तस्वीर नितेश सिंह तोमर नामक एक ट्वीटर हैंडल पर 4 फरवरी को प्रकाशित मिली।

नितेश ने उस ट्वीट में खुलास किया है कि वायरल तस्वीर उनकी है और वो कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी के पीआरओ है। इस ट्वीट में यूपी पुलिस को टैग करके इस पर कार्रवाई करने मांग भी की गई है।

आर्काइव लिंक


READ ALSO: CLIPPED VIDEO: क्या रवि किशन ने मुख्यमंत्री योगी से ये कहा- गोरखपुर में प्रचार करेंगे तो बेइज्जती होगी 


फिर हमने नितेश सिंह तोमर से संपर्क किया। उन्होंने बताया कि, “ये मेरी तस्वीर है और मेरा नाम सचिन नहीं, बल्की नितेश सिंह तोमर है। मेरा आरोपी सचिन से कोई संबन्ध नहीं है। मैं भाजपा मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी का पीआरओ हूं। यह तस्वीर साल 2017 में हुए एक सम्मान समारोह की है। मुझे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सम्मानित किया था। जिन लोगों ने भी यह तस्वीर गलत दावे के साथ शेयर की है मैं उन सबको लिगल नोटिस भेज रहा है।“

ANI के ट्विट में आरोपी सचिन और शुभम की तस्वीरें दी गई है। और उसमें यह जानकारी दी हुई है कि असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर गोली चलाने वाले दो आरोपियों को हापुड़ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

आर्काइव लिंक

आप नीचे दिये गये तुलनात्मक तस्वीर में नितेश सिंह तोमर और सचिन में अंतर देख सकते है।


Read Also: स्मृति ईरानी ने नहीं कहा उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार बनेगी


आपको बता दें कि 3 फरवरी को असदुद्दीन ओवैसी उत्तर प्रदेश के मेरठ से दिल्ली के लिये निकल रहे थे, तभी अचानक एक टोल नाके पर दो लोगों ने उनकी गाड़ी पर गोलियां चला दी। दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और 14 दिन के लिये हिरासत में भेज दिया हैं। 

निष्कर्ष: तथ्यों की जांच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रही तस्वीर के साथ किया गया दावा गलत है। इस तस्वीर में दिख रहा शख्स आरोपी सचिन नहीं है। यह उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी के पीआरओ नितेश सिंह तोमर की तस्वीर है।

Avatar

Title:FAKE: ओवैसी हमला करनेवाले आरोपी के नाम से भाजपा नेता के पीआरओ की गलत तस्वीर वायरल

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False