क्या बुर्ज खलीफा पर भगवान राम की तस्वीर को दिखाया? फेक पोस्ट का जानिए पूरा सच

Altered Communal

बुर्ज़ खलीफा की मीनार पर राम भगवान् की तस्वीर एडिटेड है।

अभी हाल ही में रामनवी के अवसर पर देशभर के कई राज्यों से हिंसा को दर्शाती ख़बरें सामने आयीं, जिन्हें मीडिया के साथ सोशल मंचों के जरिये दिखाया गया। रामनवमी से जुड़ी कई पोस्ट और वीडियो को सोशल मीडिया यूज़र ने कई अलग अलग दावों के साथ वायरल किया है। इसी कड़ी में दुबई स्तिथ बुर्ज़ खलीफा के टॉवर पर श्री राम की लगी हुई एक तस्वीर सोशल मीडिया पर प्रचारित की जा रही है। इस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि राम नवमी के अवसर पर बुर्ज खलीफा पर भगवन राम की तस्वीर लगाई गयी| 


वायरल पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है की “दुबई के बुर्ज खलीफा पे भगवान श्री राम जी का 3D इमेज। इस्लामिक राष्ट्र को भी पता है भगवान श्री राम जी का महत्त्व। सिर्फ भारत के जाहिलों को पता नहीं है.”
इस पोस्ट को ट्विटर पर भी ट्विटर यूज़र द्वारा साझा किया गया है।

फेसबुक पोस्ट | ट्विटर पोस्ट

अनुसन्धान से पता चलता है की…

हमने सबसे पहले गूगल पर जा कर सम्बंधित कीवर्ड्स टाइप कर के ये पता लगाने की कोशिश की गयी क्या बुर्ज़ खलीफा पे भगवान राम की तस्वीर को लगाया है|  क्यूंकि अगर ऐसा कुछ हुआ होता तो ये खबर मीडिया रिपोर्ट्स में होती मगर हमें ऐसी कोई रिपोर्ट्स नहीं मिली। 

इसके बाद हमने तस्वीर को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च किया जिसके परिणाम से हमे आईस्टॉक नाम की एक वेबसाइट पर बुर्ज खलीफ़ा की वोही तस्वीर मिला| इस वेबसाइट के कैप्शन में लिखा गया है कि “दुबई, संयुक्त अरब अमीरात – 28 दिसंबर, 2015: बुर्ज खलीफा टावर का रात का दृश्य। बुर्ज खलीफा दुनिया की सबसे ऊंची संरचना है (828 मीटर)”

इसमें भगवान राम की तस्वीर नहीं थी। 

नीचे आप वायरल हो रही तस्वीर और मूल तस्वीर के बीच की तुलनात्मक तस्वीर को देख सकते है, जिसमें दोनों के बीच के अंतर को देखा जा सकता है।

दोनों तस्वीरों को ध्यान से देखने के बाद ये समझ में आता है की आईस्टॉक वाली मूल तस्वीर में अलग से भगवन राम की तस्वीर को डिजीटल एडिटिंग की मदद से जोड़ा गया है। 

इसके अलावा फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम के बुर्ज ख़लीफ़ा के आधिकारिक सोशल मीडिया पेजों पर ये वायरल तस्वीर को ढूँढा, परन्तु हमें ऐसी कोई भी पोस्ट नहीं मिली जिससे ये साबित हो सके कि गगनचुंबी इमारत पर 30 मार्च को रामनवमी के उत्सव पर भगवान राम की चित्र प्रदर्शित की गयी थी। 

निष्कर्ष-

उपरोक्त तथ्यों की जांच के पश्चात् ये स्पष्ट होता है की यूज़र द्वारा पोस्ट के साथ किया गया दावा पूरी तरह से गलत है। बुर्ज़ खलीफा की मीनार पर भगवान राम की चित्र प्रदर्शित नहीं की गयी थी। चित्र डिजिटली एडिटेड है।

Avatar

Title:क्या बुर्ज खलीफा पर भगवान राम की तस्वीर को दिखाया? फेक पोस्ट का जानिए पूरा सच

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: Altered