क्या इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने किसान आंदोलनों के समर्थन में अपना भारत दौरा रद्द किया? जानिये सच…

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इस वर्ष 26 जनवरी को भारत सरकार द्वारा गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया गया था, परंतु उन्होंने उनके इस दौरे को इंग्लैंड में अनियंत्रित कोरोनावायरस के नये संक्रमण के चलते रद्द कर दिया। इस खबर के चलते सोशल मंचो पर एक खबर वायरल हो रही है, जिसके मुताबिक देश और दुनिया भर में हो रहे किसान आंदोलनों के समर्थन में उन्होंने उनके भारत आने की योजना को रद्द कर दिया है।

पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

किसान आंदोलन की अंतरराष्ट्रीय मंच पर बड़ी जीत ब्रिटेन के पी.एम ने गणतंत्र दिवस पर होने वाला भारतीय दौरा रद्द किया।“

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Boris Johnson cancelled India visit linked to farmers' protest2.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही खबर सरासर गलत है। इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपना भारत दौरा रद्द जरुर किया है, परंतु उसकी वजह किसान आंदोलन नहीं है। इंग्लैंड की वर्तमान कोरोनावायरस संक्रमण की स्थिति के चलते उन्होंने ये दौरा रद्द किया है।

सबसे पहले हमने ये पता करने की कोशिश की कि क्या सच में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत दौरा रद्द किया है, परिणाम में हमें कई समाचार लेख मिले जो इस बात की पुष्टि कर रहे थे। आजतक द्वारा प्रकाशित किये गये समाचार लेख के अनुसार कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन के चलते बोरिस जॉनसन ने अपना भारत दौरा रद्द कर लिया है। लेख में यह भी लिखा है कि, प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने खेद व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात कि वह उन्हें बताया कि कोरोनावायरस का संक्रमण तेज़ी से बढने के कारण उनका ब्रिटेन में रहना ज़रुरी है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Boris Johnson cancelled India visit linked to farmers' protest3.png

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात और शोध करने पर हमें ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के आधिकारिक वैबसाइट पर एक प्रेस रिलीज़ मिला जहाँ उन्होंने प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के भारत दौरे के रद्द होने की सूचना दी व इसका कारण भी दिया है। इस प्रेस रिलीज़ में यह भी लिखा है कि प्रधानमंत्री जॉनसन ने 2021 के पहले भाग में भारत आने की योजना बनायी है। यह प्रेस रिलीज इस वर्ष 5 जनवरी को प्रकाशित की गयी है और उसके शीर्षक में अंग्रेज़ी में लिखा है, “प्रधान मंत्री मोदी के साथ पीएम का कॉल: 5 जनवरी 2021।” 

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Boris Johnson cancelled India visit linked to farmers' protest.png

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात उस प्रधानमंत्री की वैबसाइट को अधिक खंगालने के बाद हमें एक और प्रेस रिलीज़ मिली जिसमें ब्रिटेन में घोषित किये गये लॉकडाउन की सूचना दी गयी है। यह प्रेस रिलीज इस वर्ष 4 जनवरी को प्रकाशित की गयी है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Boris Johnson cancelled India visit linked to farmers' protest1.png

आर्काइव लिंक 

उपरोक्त लॉकडाउन की सूचना से ये स्पष्ट होता है कि ब्रिटेन में कोरोनावायरस के नये स्ट्रेन का संक्रमण चरम पर है जिसके कारण प्रधानमंत्री को लॉकडाउन की घोषणा करनी पड़ी।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया है कि उपरोक्त दावा गलत है। इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपना भारत दौरा रद्द जरुर किया है, परंतु उसकी वजह किसान आंदोलन नहीं है। इंग्लैंड में बढ़ते कोरोनावायरस संक्रमण के चलते उन्होंने ये दौरा रद्द किया है। 

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय एक काल्पनिक चरित्र हैं और इनका कोई वास्तविक अस्तित्व नहीं है!

२. वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा के वीडियो को कैप्टेन दीपक वी साठे का बता फैलाया जा रहा है |

३. क्या अमिताभ बच्चन कोरोनावायरस संक्रमण से मुक्त होने के बाद दरगाह गये थे ? जानिये सत्य..

Avatar

Title:क्या इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने किसान आंदोलनों के समर्थन में अपना भारत दौरा रद्द किया? जानिये सच…

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •