२०१९ में पेरिस से तुनिशिया जा रही एक फ्लाइट में घटी घटना को गलत सन्दर्भ के साथ वायरल किया जा रहा है |

False International
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पैगंबर मोहम्मद के एक स्केच को लेकर फ्रांस में हुई एक शिक्षक की हत्या व तदनंतर फ्रांस के राष्ट्रपति की “फ्री स्पीच” की टिप्पणी के पश्चात फ्रांस के साथ साथ कई अन्य देशों में मुस्लिम समुदाय द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है, इन प्रदर्शनों के चलते सोशल मीडिया पर फ्रांस से संबंधित कई गलत तस्वीरें और वीडियो फैलाये जा रहें है, फैक्ट क्रेसेंडो ने पूर्व में भी इस प्रकरण से सम्बंधित कई फेक वीडियो व तस्वीरों का अनुसंधान कर लोगों तक सच्चाई पहुँचायी है, इसी श्रृंखला में सोशल मीडिया पर वर्तमान में एक वीडियो को साझा करते हुए दावा किया जा रहा है की वीडियो फ्रांसीसी पुलिस द्वारा एक मुस्लिम व्यक्ति को गिरफ्तार करने का है, ये मुस्लिम व्यक्ति हवाईज़हाज़ के अन्दर अल्लाह हु अकबर कह रहा था जिसके चलते इसे जबरन हवाईज़हाज़ से घसीटते हुए बहार निकाला गया | 
सोशल मंचो पर वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि 

फ्रांस पुलिस को सूचना मिली कि एक व्यक्ति फ्लाइट में बैठे-बैठे अल्लाह हू अकबर कह रहा है | पुलिस आई लातों जूतों से कूटा और फ्लाइट में से कुत्ते की तरह घसीटते हुए उतार कर ले गए | हम लोग किसी फ्लाइट में बैठ कर बोले हर-हर महादेव तो पायलट भी बोलेगा हर हर महादेव |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसन्धान से पता चलता है कि..

वायरल वीडियो पिछले साल का है जब पेरिस से तुनिशिया जाने वाली फ्लाइट जो कि हवा में थी  में एक मुस्लिम व्यक्ति को कॉकपिट के बाहर बैठकर प्रार्थना करने से रोका गया था, जिसके बाद उसने उत्पात मचाते हुये अल्लाह हु अकबर के नारे लगाये व जबरन कॉकपिट में घुसने की कोशिश की |

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को ध्यान से देखने से की जिसके परिणामस्वरुप हमें नज़र आया कि वीडियो में किसी ने भी मास्क नही पहना है जिससे यह प्रतीत होता है कि यह वीडियो वर्तमान का नही है |

इन्विड वी वेरीफाई टूल के मदद से रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें यह वीडियो मिरर यूके की वेबसाइट पर २५ जनवरी २०१९ को मिला | खबर के अनुसार एक त्रंसेवियन विमान को अपना रास्ता बदलना पड़ा क्योंकि विमान के एक यात्री ने ‘अल्लाह हु अकबर’ के नारे लगाए और कॉकपिट में जाने की कोशिश की | 

आर्काइव लिंक

अधिक जाँच करने पर डेलीमेल यूके द्वारा २५ जनवरी २०१९ को प्रकाशित खबर मिली, इस खबर के अनुसार यह फ्लाइट पेरिस से तुनिशिया जा रही थी जिसे इस तुनिसिआई व्यक्ति की हरकत के चलते बीच रस्ते में फ्रांस स्थित नाईस नामक एक शहर में इमरजेंसी लैंडिंग कर रोका गया था | रिपोर्ट के अनुसार गड़बड़ी तब हुई जब आदमी को कॉकपिट के बहार प्रार्थना करने से रोक दिया गया था जिसके पश्चात उसने अल्लाह हूँ अकबर के नारे लगाए | 

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो पछले साल का है जब पेरिस से तुनिशिया जाने वाली फ्लाइट पर एक मुस्लिम व्यक्ति को कॉकपिट के बहार बैठकर प्रार्थना करने से रोका गया था जिसके चलते वो व्यक्ति उत्तेजित हो गया व विमान में स्तिथ क्रू के साथ हाथापाई करने लगा |

Avatar

Title:२०१९ में पेरिस से तुनिशिया जा रही एक फ्लाइट में घटी घटना को गलत सन्दर्भ के साथ वायरल किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •