पुलवामा आतंकी हमले की मिली सीसीटीवी फुटेज? क्या यह सच है?

False National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यह चित्र हमने India today वेबसाइट से प्रतिनिधित्व हेतु लिया गया है । इस चित्र का निचे दिए लेख के साथ कोई सम्बन्ध नहीं है ।

१६ फरवरी २०१९ को एक विडियो जिसने अपने को पुलवामा से जुड़े होने का दावा कर काफी संकर्षण प्राप्त किया व फेसबुक पर काफ़ी तेजी से साझा किया गया| विडियो की हैडलाइन में कहा गया है कि “पुलवामा आतंकी हमले का CCTV विडियो”| विडियो के द्वारा यह दावा किया गया है कि यह विडियो १४ फरवरी २०१९ पुलवामा आतंकी हमले का है जो सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ है |

आर्काइव लिंक

उपरोक्त विडियो की सच्चाई जानने के लिए हमने विडियो को ‘वॉच-फ्रेम-बाय-फ्रेम’ में डालकर विडियो को अलग अलग फ्रेम में विभाजित कर दिया और उसके बाद रिवर्स इमेज सर्च किया । उसके पश्चात हमने पाया कि यह विडियो २५ अक्टूबर २००७ को पीआईके नामक एक यूट्यूब यूजर के द्वारा अपलोड किया गया था व यह विडियो ईराक पर हुये
विस्फोट का है |  फुटेज को मूल रूप से एक वाहन-जनित तात्कालिक विस्फोटक उपकरण (VBIED) की है जो सितंबर २००७ में हुआ था।

गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमने पाया कि इस वीडियो को अप्रैल २०१७  तक कई यूट्यूब उपयोगकर्ताओं द्वारा अपलोड किया गया है।

गूगल रिवर्स इमेज करने पर हमें कई वेबसाइटस के लिंक मिले, जिसमें वीडियो दिखाया गया है यह ईराक में हुई विस्पोर्ट की घटना है।

वास्तव में, जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर पुलवामा हमले से पहले सीसीटीवी कैमरे नहीं थे। राज्य पुलिस को अब श्रीनगर- सोनमर्ग राजमार्ग और साथ ही जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग को सीसीटीवी निगरानी प्रणाली स्थापित करके सुरक्षित करने का आदेश दिया गया है।

The Indian Express | आर्काइव लिंक

जब हमने विस्फोट की संभावना के बारे में खोज की तो हमने पाया कि यह २ सितंबर २०१९ को हुआ था |

Wikipedia

निष्कर्ष:  उपरोक्त विडियो के तथ्यों की जांच करने पर हमने पाया कि यह विडियो गलत है, क्योंकि यह पुलवामा आतंकी हमला होने के १२ साल पहले का है | यह विडियो १४ फरवरी २०१९ को  कश्मीर में हुए पुलवामा आतंकी हमले का नहीं है, जैसा कि उपरोक्त खबर में दावा किया गया है | यह फुटेज मूल रूप से २००७ को इराक में हुए आईइडी ब्लास्ट का था। इराक में हुए हमले के एक पुराने वीडियो को पुलवामा हमले के सीसीटीवी फुटेज के रूप में साझा किया जा रहा था, जिसमें जम्मू-कश्मीर में लगभग ४० सीआरपीएफ जवान मारे गए थे।

Avatar

Title:पुलवामा आतंकी हमले की मिली सीसीटीवी फुटेज? क्या यह सच है?

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •