अमरिका ने कहा की मोदी अगर दोबारा भारत के प्रधानमंत्री नहीं बने तो भारत को होंगे ये पांच बड़े नुकसान, क्या यह सच है?

False Headline International Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१२ फरवरी २०१९ को पहली बार फेसबुक पर साझा की गई लाइव बवाल की यह खबर काफी चर्चा में रही | खबर की हैडलाइन में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अगर फिर से भारत के प्रधानमंत्री नहीं बनते है तो भारत को पांच बड़े नुकसान उठाने पड सकते है | खबर कहती है की अमरिका स्थित दुनिया के सबसे बड़े ब्रोकरेज हाउस सीएलएसए ने यह चेतावनी जारी की है | लेकिन खबर पढने के बाद इस बात की पुष्टि नहीं होती है |

ArchivePost  

इस संशोधन में हमने ये जानने की कोशिश कि है की क्या वाकई अमरिका ने ऐसा कहा है और यह सीएलएसए वास्तव में क्या है | सीएलएसए की वेबसाइट से जानकारी मिलती है की यह आशिया की एक बड़ी ब्रोकरेज एवं निवेश कंपनी है जो गैरी कुल तथा जिम वॉकर इन दो पूर्व पत्रकारों ने १९८६ में स्थापित की जिसका मुख्यालय हांगकांग में है |    

ArchivePost

सीएलएसए का Linkedin-CLSA भी है | यहाँ भी हमें यह जानकारी मिलती है की यह आशिया की एक बड़ी ब्रोकरेज एवं निवेश कंपनी है जो कि एक प्राइवेट कंपनी है और हेडक्वाटर हांगकांग में है |

विकिपीडिया से जानकारी लेने पर भी इन्ही सब बातों की पुष्टि होती है |    

ArchivePost
फेसबुक पर भी इस कंपनी का अपना पेज है | उसके अपने फोलोअर्स है |   

संशोधन से यह पता चलता है की…
सीएलएसए एक प्रायवेट कंपनी है जो की हांगकांग से अपना कामकाज संभालती है | अमरिका सरकार से उसका न तो कोई ताल्लुक है न ही वह अमरिका सरकार की कोई आधिकारिक प्रतिनिधि के तौर पर काम करती है | अमरिका में उसकी एक शाखा जरुर है, पर मुख्यालय हांगकांग है |और उनके अमेरिका के ऑफिस व अमेरिका सरकार के बीच में कोई सम्बन्ध नहीं है|

जांच का परिणाम :  इससे ये स्पष्ट होता है कि खबर की हैडलाइन में जो कहा गया है की अमरिका ने उक्त चेतावनी जारी की है, गलत साबित होता है | अतः यह मामला गलत शीर्षक का बनता है |  

Misleading Title: अमरिका ने कहा की मोदी अगर दोबारा भारत के प्रधानमंत्री नहीं बने तो भारत को होंगे ये पांच बड़े नुकसान, क्या यह सच है?
Fact Check By: Rajesh Pillewar 
Result: False Headline (यह शीर्षक गलत है )

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •