मधुमेह के इलाज पर बोलते राष्ट्रपति मुर्मू, यूपी सीएम और अंजना ओम कश्यप का वायरल वीडियो एडिटेड है……

False Social

सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और न्यूज एंकर अंजना ओम कश्यप का एक मर्ज किया हुआ वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में इन सभी को डायबिटीज बीमारी के इलाज को लेकर सलाह देते सुना जा सकता है। पोस्ट में एक दवा खाने से डायबिटीज छूमंतर हो जाने की बात कही जा रही है। 

वायरल वीडियो के साथ यूजर ने लिखा है- एक महान वैज्ञानिक ने एक नवाचारी दवा बनाई है जो कोशिकात्मक स्तर पर मधुमेह को समाप्त करती है दवा कुछ भी समय में खत्म हो सकती है। साइट पर जल्दी जाइए!

फेसबुकआर्काइव 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

पहला वीडियो क्लिप-

पड़ताल की शुरुआत में हमने वायरल वीडियो में दिख रहे पहले वीडियो के बारे में खोजना शुरू किया। हमने देखा कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू  पार्लियामेंट में कुछ कह  रही हैं, वहीं एक ही फ्रेम में स्मृति ईरानी भी ताली बजाते नजर आ रहीं हैं। इस वीडियो के कुछ स्क्रीनशॉट्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें परिणाम में पूरा वीडियो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यूट्यूब चैनल पर मिला। 

जानकारी के अनुसार ये वीडियो राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह का था। इस वीडियो में वायरल वाला हिस्सा 1 घंटा 32 सेकंड पर देखा जा सकता है। असली क्लिप में राष्ट्रपति मुर्मू सभा में मौजूद सभी लोगों का अभिवादन कर रहीं है।

जांच में आगे हमने वायरल वीडियो और हमें मिले वीडियो का विश्लेषण किया। जिसमें साफ देखा जा सकता है मूल वीडियो को एडिट कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। 

दूसरा वीडियो क्लिप- 

जांच में आगे हमने वायरल पोस्ट के दूसरे वीडियो को गूगल में सर्च करना शुरु किया। न्यूज एंकर अंजना ओम कश्यप वाले हिस्से को ठीक से देखने पर साफ़ देखा जा सकता है कि वीडियो एडिटेड है। अगर आप इसे ध्यान से देखें, तो आपको साफ पता लग जाएगा कि अंजना के होठों का मूवमेंट, ऑडियो से बिल्कुल मेल नहीं खा रहा, साफ समझ में आता है कि फर्जी ऑडियो को अलग से जोड़ा गया है। 

इसके अलावा न्यूज एंकर अंजना ओम कश्यप के साथ एक अन्य शख्स का भी वीडियो देखा जा सकता है। गूगल सर्च करने पर पता चला कि वीडियो में जिस शख्स को डॉ. अविनाश मिश्रा बताया गया है, वो असल में ‘हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ’ में कार्यरत प्रोफेसर व सर्जन डॉ. अतुल गवांडे हैं।

रिवर्स सर्च  करने पर हमें डॉ. अतुल का ये वीडियो ‘सीएनबीसी टीवी’ के यूट्यूब चैनल पर 2 मार्च, 2021 को अपलोड किया गया है। इसमें डॉ. अतुल, कोरानाकाल के दौरान सरकार द्वारा रेस्टोरेंट वगैरह खोलने को लेकर अपने विचार रख रहे थे। निम्न में वीडियो देखें। 

तीसरा वीडियो क्लिप-

तीसरी क्लिप में योगी आदित्यनाथ को देखा जा सकता है। जांच करने पर पूरा वीडियो हमें आज तक के यूट्यूब चैनल पर 16 जनवरी 2024 को अपलोड मिला। इस इंटरव्यू में उन्होंने कहीं भी डायबिटीज की उस कथित दवा के बारे में बात नहीं की जो वायरल क्लिप में दिख रही है। इसके अलावा वीडियो में योगी आदित्यनाथ का लिप्सिंग वीडियो ऑडियो को मैच नहीं कर रहा है।

आगे हमने वायरल वीडियो और हमें मिले वीडियो का विश्लेषण किया। जिसमें साफ देखा जा सकता है कि मूल वीडियो को एडिट कर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। 

वीडियो में एक मरीज के साथ योगी आदित्यनाथ  (आर्काइव) की  तस्वीर है। पड़ताल में हमें पता चला कि ये तस्वीर 4 जुलाई 2021 की है। जब उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती थे और मौजूदा सीएम योगी आदित्यनाथ उन्हें देखने गए थे।

निष्कर्ष- तथ्य-जांच के बाद हमने पाया कि, मधुमेह के इलाज को लेकर बोलते राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और न्यूज एंकर अंजना ओम कश्यप के नाम से वायरल पोस्ट एडिटेड है। 

Avatar

Title:मधुमेह के इलाज पर बोलते राष्ट्रपति मुर्मू, यूपी सीएम और अंजना ओम कश्यप का वायरल वीडियो एडिटेड है……

Fact Check By: Sarita Samal 

Result: False

Leave a Reply