वीडियो में दिख रहे दंपति रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष विजयपत सिंघानिया और उनकी पत्नी नहीं है।

False Social

इंटरनेट पर एक बहुचर्चित वीडियो जिसमें आप एक बुजुर्ग पति-पत्नी को गाना गाते हुये देख सकते है, इस वीडियो को  साझा कर ये दावा किया जा रहा है कि ये बुजुर्ग पति-पत्नी रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष विजयपत सिंघानिया व उनकी पत्नी है, इस वीडियो के साथ एक भावपूर्ण नसीहत भी दी जा रही है कि कैसे ये दंपति जो कि कभी भारत के सबसे अमीर कपल्स मे से एक थे को उनके बेटे द्वारा बिज़नेस से निकाल देने के बाद भी ये दोनों सादगी से एक मामूली होटल के कमरे में जीवन का आनंद लेते हुये गाना गा रहे हैं। 

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

विजयपत सिंघानिया(पूर्व अध्यक्ष रेमंड्स) और उनकी पत्नी, एक गाना गा रहे है और संगीत के बिना आनन्द ले रहे है अपने होटल के कमरे में, उन्हें (उनके बेटे द्वारा साम्राज्य से बाहर निकालने के बाद,जो उनके द्वारा बनाया गया था! देखिए कपल के बीच की केमिस्ट्री। जिंदगी का मजा लीजिए जो छोटी है ओर इसे मीठा बनाइये….कभी भारत के सबसे अमीर कपल्स मे से एक थे! अब वो आमने -सामने की जिंदगी जीते हैं! जीवन भर की सिख जिंदगी हर हाल में कितनी खूबसूरत है।“

(शब्दश:)

फेसबुक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे दंपति रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष विजयपत सिंघानिया और उनकी पत्नी नहीं है। यह पाकिस्तान के कराची में स्थित एक फिल्म निर्माता के रिश्तेदार है, और ये दोनों पति-पत्नी नहीं है।

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को इनवीड- वी वैरिफाइ टूल के माध्यम से गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च कर की। हमें यही वीडियो माहेरा उमर नामक एक यूट्यूब चैनल पर 5 मार्च 2021 को अपलोड किया हुआ मिला। इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है, जाने वो कैसे लोग थे – जमशेद उमर की प्यार भरी याद में।“

 इसके नीचे दी गयी जानकारी में लिखा है, “लगभग आठ साल पहले मेरे चाचा जमशेद उमर और रिश्तेदार शमा हुसैन ने एक शाम हमारे घर पर एक प्यारा गीत गाया था। मूल गीत हेमंत कुमार द्वारा 1957 में गुरु दत्त द्वारा निर्देशित फिल्म प्यासा में गाया गया था और संगीत निर्देशक एसडी बर्मन थे। साहिर लुधियानवी के बोल।“

आर्काइव लिंक

उपरोक्त प्राप्त जानकारी से ये प्रतीत होता है कि वीडियो में दिख रहे दंपति माहेरा उमर नामक एक लड़की के रिश्तेदार है।

हमने जाँच के दौरान माहेरा उमर नामक इस लड़की के बारे में जानने की कोशिश की। उनके सोशल मीडिया अकाउंट से हमें ये पता चला है कि वह कराची में स्थित एक फिल्म निर्माता है।

जाँच को आगे बढ़ाते हुये हमें माहेरा उमर के इंस्टाग्राम पर ये वीडियो इस वर्ष 20 जुलाई को प्रसारित किया हुआ मिला। इसके साथ उन्होंने इस वीडियो के बारे में जानकारी देते हुये एक स्पष्टीकरण भी जारी किया है ।

“लगभग आठ साल पहले मेरे चाचा जमशेद उमर और मेरी रिश्तेदार शमा हुसैन ने एक शाम हमारे घर पर एक प्यारा युगल गीत गाया था। मूल गीत हेमंत कुमार द्वारा 1957 में गुरु दत्त द्वारा निर्देशित फिल्म प्यासा में गाया गया था और संगीत निर्देशक एसडी बर्मन थे। साहिर लुधियानवी के बोल।

यह वीडियो सबसे पहले तब वायरल हुआ जब भारत में किसी ने इसे फेसबुक पर अपलोड किया। लोगों ने मेरे चाचा और मेरी रिश्तेदार के बारे में कहानियां बनाईं, उन्हें एक जोड़ा समझकर, जबकि वास्तव में वे सिर्फ चचेरे भाई- बहन के रूप में संबंधित हैं। कहानियों में से एक यह थी कि वीडियो में दिख रहे जमशेद उमर, विजयपत सिंघानिया है, जिन्हें उनके ही बेटे ने घर से निकाल दिया था। 

हाल ही में, इस वीडियो का एक अपडेटेड वर्जन टिकटॉक और इंस्टाग्राम पर वायरल हो रहा है। लोगों की मांग पर मैंने यह वीडियो अपलोड किया है। जमशेद उमर की प्यार भरी याद में, जिनका इस साल की शुरुआत में निधन हो गया।“ (शब्दश:) 

इसके पश्चात हमने विजयपत सिंघानिया और उनकी पत्नी की तस्वीर का शोध इंटरनेट पर किया। हमें उनकी तस्वीर गेट्टी इमेजेज पर 26 नवंबर 2005 को अपलोड की हुई मिली। उस तस्वीर में आप विजयपत सिंघानिया, वर्तमान में रेमन्ड लि. के अध्यक्ष और विजयपत सिंघानिया के बेटे गौतम सिंघानिया और विजयपत सिंघानिया की पत्नी को देख सकते है। इस तस्वीर के कैपशन में लिखा है, “उद्योगपति विजयपत सिंघानिया अपनी पत्नी और बेटे गौतम के साथ महालक्ष्मी रेस कोर्स में एक गर्म हवा के गुब्बारे में 69,980 फीट की रिकॉर्ड ऊंचाई तक पहुंचने के बाद जश्न मनाते हुए।“ 

इसके पश्चात फैक्ट क्रेसेंडो ने उपरोक्त तस्वीर की जाँच की। इस तस्वीर में दी गयी जानकारी के मुताबिक यह तस्वीर विकास खोत नामक एक फोटोग्राफर ने ली है। हमने उनसे संपर्क किया व इस बात की पुष्टि करने की कोशिश की कि इस तस्वीर में दिख रही महिला विजयपत सिंघानिया की पत्नी है या नहीं। उन्होंने हमें बताया कि, “वह रेमन्ड लि. द्वारा आयोजित किया गया एक इवेंट था। उनके पी.आर ने हमें बताया था कि तस्वीर में दिख रहे लोग विजयपत सिंघानिया, उनकी पत्नी और उनके बेटे गौतम सिंघानिया है। इस जानकारी के आधार पर ही हमने तस्वीर के साथ दिया कैपशन लिखा था।“

फिर हमने इस बाद की पुष्टि रेमन्ड लि. के रोहित खन्ना से भी की। उन्होंने हमें स्पष्ट रूप से बताया कि, “तस्वीर में दिख रही महिला विजयपत सिंघानिया की पत्नी है।“  

इसके बाद हमने रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष विजयपत सिंघानिया व उनकी पत्नी और वीडियो में दिख रहे युगल जोड़े की तस्वीर का तुलनात्मक विश्लेषण किया। आप नीचे दी गयी तस्वीर में उन दोनों में फर्क देख सकते है।

रेमन्ड लि. के कॉर्पोरेट मीडिया और संचार के प्रमुख रोहित खन्ना ने हमें यह भी बताया कि, “वायरल हो रहा वीडियो पूरी तरह से भ्रामक है और गलत दावे के साथ फैलाया जा रहा है। हम इसका पूरी तरह से खंडन करते हैं क्योंकि वीडियो में दिखाए गए लोग रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष डॉ. विजयपत सिंघानिया या उनकी पत्नी नहीं हैं। उक्त वीडियो को झूठी पहचान बनाने के लिए प्रसारित किया जा रहा है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। इस वीडियो में दिख रहे लोग रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष विजयपत सिंघानिया और उनकी पत्नी नहीं है। यह पाकिस्तान के कराची में स्थित एक फिल्म निर्माता के रिश्तेदार है। वीडियो में दिख रहा युगल पती-पत्नी नहीं है।

UPDATE: फैक्ट क्रेसेंडो ने कराची स्थित फिल्म निर्माता माहेरा उमर से संपर्क किया व इस बात की पुष्टि की कि क्या वीडियो में दिख रहे लोग उनके रिश्तेदार है। उन्होंने हमें बताया कि, “वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे दोनो लोग मेरे रिश्तेदार है। ये दोनों भाई-बहन है व पती-पत्नी नहीं है। ये वीडियो मैंने कराची स्थित मेरे घर पर शूट किया था।

तालिबान के अफ़ग़ानिस्तान पर कब्ज़े से संबंधित अन्य फैक्ट चेक को आप नीचे पढ़ सकते है|

Avatar

Title:वीडियो में दिख रहे दंपति रेमन्ड लि. के पूर्व अध्यक्ष विजयपत सिंघानिया और उनकी पत्नी नहीं है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •