हरियाणा में आम आदमी पार्टी के खिलाफ प्रचार कर रहे किसानों के वीडियो को गुजरात का बता वायरल किया जा रहा है।

False Political

यह वीडियो गुजरात का नहीं है। यह हरियाणा के खैरमपुर का वीडियो है।

एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। उसमें कुछ लोग स्पीकर के माध्यम से लोगों को आम आदमी पार्टी को पोट नहीं देने का आग्रह कर रहे है। वे कह रहे है कि पंजाब में उन्होंने आम आदमी पार्टी को वोट देकर गलती कर दी। 

उनका दावा है कि आप ने चुनाव के समय झुठे वादे कर लोगों से वोट लिये है। इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है पंजाब के सिख समुदाय के लोग आम आदमी पार्टी व अरविंद केजरीवाल के खिलाफ प्रचार करने के लिये गुजरात पहुंचे है। 

वायरल हो रहे पोस्ट में यूज़र ने लिखा है, “गुजरात में घूम-घूम कर केजरीवाल के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं पंजाब के सिख समुदाय के लोग। केजरीवाल के खिलाफ प्रचार करने पंजाब से गुजरात पहुंचे सिख समुदाय के लोग।“

फेसबुक 

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने इस वीडियो ठीक से देखा। इसमें हमें 0.46 मिनट पर एक बोर्ड देखने को मिला। हमने देखा कि उसपर खैरमपुर लिखा हुआ था। आप नीचे दी गयी तस्वीर में देख सकते है।

फिर हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च कर इस बात का पता लगाया कि खैरमपुर कहा है। हमने पाया कि खैरमपुर हरियाणा के हिसार जिले के आदमपुर तहसील में स्थित है। इस वीडियो में आगे हमने हरियाणा और आदमपुर का नाम भी सुना है। हमने एक शख्स को एक रिपोर्टर को इंटरव्यू देते हुये सुना है कि वह हरियाणा की जनता से आप आदमा पार्टी को वोट न देनें का आग्रह कर रहा है। इससे हमने अनुमान लगाया कि यह वीडियो हरियाणा का है। 

फिर हमने इसको ध्यान में रखते हुये फेसबुक पर कीवर्ड सर्च किया। तो हमें 1 नवंबर को IBN24 News Haryana नामक एक फेसबुक पेज पर इसी घटना का एक लाइव वीडियो प्रसारित किया हुआ मिला। इसमें एक रिपोर्टर इस घटना की रिपोर्टिंग करता हुआ दिख रहा है। इस वीडियो के साथ दी गयी जानकारी में बताया गया है कि आदमपुर के खैरमपुर में पंजाब से पूर्व सैनिक आम आदमी पार्टी का विरोध करने आये है। उनका कहना है कि आप को छोड़कर किसी को भी वोट दें परंतु आप को नहीं। 

आर्काइव लिंक

इसमें लोग कह रहे है कि पंजाब में किसान, मजदूर, विद्यार्थी, पूर्व फौजी, सभी परेशान है। युवकों और युवतियों को नशे की बुरी लत लग चुकी है। आम आदमी पार्टी ने राज्य को नशा मुक्त करने का वादा किया था परंतु उन्होंने वादा पूरा नहीं किया।

आपको बता दें कि इस वीडियो में हमें वही रिपोर्टर दिखा जो वायरल वीडियो में है। और दोनों भी वीडियो में रिपोर्टर और एक शख्स के बीच हो रही बातचीत दिखायी गयी है। आप नीचे दिये गये तुलनात्मक वीडियो में देख सकते है।

इससे हम कह सकते है कि दोनों भी वीडियो एक ही जगह और घटना के है। IBN24 News Haryana के वीडियो में रिपोर्टर ने शुरूवात में ही बताया है कि वह आदमपुर विधानसभा के खैरमपुर गांव से रिपोर्टिंग कर रहा है। उसने यह भी बताया है कि आदमपुर में चल रहे उपचुनाव में पंजाब से पूर्व सैनिक आम आदमी पार्टी का विरोध करने आये है।

इसके बाद हमने IBN24 News Haryana के दफ्तर में बबली नामक एक पत्रकार से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि “वायरल वीडियो हरियाणा के खैरमपुर का ही है। इसमें दिख रहा रिपोर्टर हमारे न्यूज़ चैनल का ही है। आदमपुर में 3 नवंबर को विधानसभा सीट के उप-चुनाव हुये थे, यह वीडियो उस दौरान का ही है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। यह वीडियो गुजरात का नहीं बल्की हरियाणा के खैरमपुर का है।

Avatar

Title:हरियाणा में आम आदमी पार्टी के खिलाफ प्रचार कर रहे किसानों के वीडियो को गुजरात का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Samiksha Khandelwal 

Result: False

Leave a Reply