इस वीडियो में रो रही महिला यासीन मलिक की पत्नी नहीं है, जानिये इस दावे का सच

False Social

यह वीडियो पाकिस्तान के इस्लामाबाद में हुई गोलाबारी से संबन्धित है। इसमें दिख रही महिला वहाँ की एक स्थानीय निवासी है।

एक कश्मीरी अलगाववादी नेता यासीन मलिक को हाल ही में आपराधिक साजिश और राज्य के खिलाफ युद्ध छेड़ने के आरोप में आजीवन कारावास की सजा सुनाई गयी। इसके बाद एक महिला को आक्रोषित होकर रोने का वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि ये महिला यासीन मलिक की पत्नी है और वो भारत को कोस रही है।

वायरल हो रहे पोस्ट में यूज़र ने लिखा है, “रोती बिलखती और भारत को कोसती यासीन मलिक की अभागी पत्नी पाकिस्तान से। ये दर्द देख पीड़ित परिवार समेत समस्त राष्ट्रवादि भारतीयों के कलेजे को आज अपार ठंडक मिली है। और तेजी से रो बीबी मजा आ रहा है।“

फेसबुक

आर्काइव लिंक


Read Also: FACT-CHECK: जापान में स्थित माउंट फूजी का वीडियो कैलाश पर्वत के नाम से वायरल 


अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस वीडियो को हमने गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। परिणाम में हमें यही वीडियो 26 मई को पाकिस्तान न्यूज़ के यूट्यूब चैनल पर प्रसारित किया हुआ मिला। इसके साथ दी गयी जानकारी के अनुसार यह इस्लामाबाद का वीडियो है। वहाँ के डी-चौक पर गोलाबारी हुई थी। 

आर्काइव लिंक

फेसबुक पर कीवर्ड सर्च करने पर हमें यह वीडियो पी.टी.आई इस्लामाबाद के फेसबुक पेज पर 26 मई को शेयर किया हुआ मिला। उसके साथ दी भी यही जानकारी दी गयी है। 

इस वीडियो को और भी यूज़र्स ने फेसबुक व यूट्यूब पर पोस्ट किया है, पर कही भी यासीन मलिक व उनकी पत्नी का कोई ज़िक्र नहीं है। 

फैक्ट क्रेसेंडो ने पाकिस्तान में जंग मीडिया के रिपोर्टर “तौसिफ” से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि, “यह वीडियो हाल ही में पी.टी.आई (पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी) के लॉन्ग मार्च का है जहां वर्तमान सरकार ने विरोध कर रहे लोगों पर बल प्रयोग किया है। यह इस्लामाबाद के डी-चौक का वीडियो है जहाँ पुलिस ने लोगों पर आंसू गैस के गोले फेंके है। वहाँ लोग पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के इंतजार में जमा हुये थे। पुलिस ने भीड़ को वहाँ से हटाने के लिये लगभग रात भर गोलाबारी की। वीडियो में दिख रही महिला विरोध कर रहे लोगों में से एक है। इसका यासीन मलिक से कोई संबन्ध नहीं।“

हमने “तौसिफ” से पाकिस्तान में हो रही इस लॉन्ग मार्च के बारे में पूछा। उन्होंने हमें बताया कि इमरान खान ने देश में लॉन्ग मार्च की घोषणा की थी, जो 25 मई से शुरू हुई है। इस वजह से काफी बड़ी संख्या में उनके समर्थक इस्लामाबाद के डी-चौक पर जमा हुये थे। वहाँ वे लोग इमरान खान का इंतजार कर रहे थे। फिर सरकार ने पूरे इलाके में बैरिकेडिंग कर दी और प्रदर्शनकारियों के साथ झड़प हो गयी। उन्होंने भीड़ को तितर-बितर करने के लियेर डंडों, रबर की गोलियों और आंसू गैस के गोले का इस्तेमाल किया। 

आपको बता दें कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने वर्तमान में प्रधानमंत्री शबाज़ शरीफ की सरकार के खिलाफ इस मार्च की घोषणा की है। अप्रैल में इमरान खान को अविश्वास प्रस्ताव द्वारा प्रधान मंत्री के रूप में बाहर कर दिया गया था, जिसे उन्होंने एक साजिश करार किया था। इसलिये वे वर्तमान सरकार को बर्खास्त कर वापस चुनाव करने की मांग कर रहे है।


Read Also: CLIPPED VIDEO: क्या क्वाड समिट में जो बाइडन ने पीएम मोदी को नज़रअंदाज़ किया? 


निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। इसमें दिख रही महिला यासीन मलिक की पत्नी नहीं है। यह पाकिस्तान के इस्लामाबाद में स्थित एक स्थानीय महिला है जो उधर हुई गोलाबारी की वजह से आक्रोशित हो रही है।

Avatar

Title:इस वीडियो में रो रही महिला यासीन मलिक की पत्नी नहीं है, जानिये इस दावे का सच

Fact Check By: Samiksha Khandelwal 

Result: False