विश्व हिन्दू परिषद् के वरिष्ठ नेता के वीडियो को नसीरुद्दीन शाह के परिजनों का बता फैलाया जा रहा है |

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के विरोध प्रदर्शनों में छात्रों पर सरकार द्वारा बल प्रयोग के इस्तेमाल पर कई हस्तियों द्वरा अपने विचार स्पष्ट रूप से रखें गयें हैं, ऐसे ही एक बॉलीवुड दिग्गज जो अपने मुखर व्यक्तित्व के लिये जाने जातें हैं को वर्तमान में CAA पर अपने बयान के चलते सोशल मीडिया पर काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है, बॉलीवुड की इस हस्ती का नाम नसीरुद्दीन शाह है व वर्तमान में इंटरनेट पर एक वायरल वीडियो का दावा है कि वीडियो में बयान दे रहा शख्स नसीरुद्दीन शाह के भाई रिजवान अहमद है, जो CAA का समर्थन कर रहे है | वीडियो में, इस शख्स को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि किसी भी मुसलमान को भारत में कभी भी कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ा है और उन्हें वर्षों तक सर्वोच्च पदों पर रखा गया है | 

इस वीडियो में हम वक्ता को यह सवाल पूछते हुए भी सुन सकते है कि “प्रधान मंत्री और गृह मंत्री लगातार यह कहते रहे कि यह कानून केवल घुसपैठियों के लिए है | जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं, क्या वे चाहते हैं कि हम पाकिस्तान से आने वाले सभी आतंकवादियों को नागरिकता दें?”

इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि रिज़वान अहमद (नसीरुद्दीन शाह का भाई) का ये वीडियो सुनने वाला है कि जिसने इतनी सच्चाई से बोला है जो आज तक किसी ने नहीं बोला |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को बारीकी से देखने से की, हमें वीडियो में यूथ मीडिया का ब्रांड लोगो नज़र आया | हमने यूट्यूब पर यूथ मीडिया के चैनल पर जाकर इस वीडियो को ढूँढा, जिसके परिणाम में हमें २ जनवरी २०२० को अपलोड किया गया वीडियो मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “आईआईटी कानपुर में आज लगे नारे,क्या देश का माहौल ख़राब किया जा रहा है? IIT-Kanpur Faiz poem News today |”

फैक्ट क्रेस्सन्डो ने यूथ मीडिया के चैनल से संपर्क किया, उन्होंने हमें बताया कि “वह नसीरुद्दीन शाह के भाई नहीं हैं। वह अयोध्या के महाराज जी हैं जो नई दिल्ली के जंतर मंतर पर सी.ए.ए के समर्थन में आए थे | उनसे IIT कानपुर में होने वाले विरोध से संबंधित प्रश्न पूछा गया जिसके उत्तर में उन्होंने हमें सम्बंधित बाईट दी थी|”

तद्पश्चात हमने इस वीडियो को फेसबुक पर ढूँढा, फेसबुक पर हमें येही वीडियो एक दुसरे शीर्षक के साथ मिला | इस फेसबुक वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “आचार्य धर्मेन्द्र- VHP CAA के विरुद्ध प्रदर्शन और ओवैसी भाइयों के बारें में बात कर रहे है | 

इसके पश्चात हमने आचार्य धर्मेन्द्र- VHP के बारें में गूगल पर ढूँढा तो हमें उनके कुछ अन्य इंटरव्यों के वीडियो प्राप्त हुये जहाँ उनका परिचय विश्व हिन्दू परिषद् के नेता आचार्य धर्मेन्द्र के रूप में किया गया है | वायरल वीडियो में दिखाये गये व्यक्ति और नीचे दिए गये वीडियो में वक्ता एक ही आदमी है, जिनका नाम आचार्य धर्मेन्द्र है |

हमें टाइम्स नाउ द्वारा प्रसारित एक बुलेटिन मिला जिसमें रिजवान अहमद को चित्रित किया गया था और उन्हें सबसे दाहिने कोने में पैनलिस्टों के बीच देखा जा सकता है (भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के बगल में) |

आर्काइव लिंक 

नीचे आप विश्व हिन्दू परिषद् के वरिष्ठ नेता आचार्य धर्मेन्द्र और अभिनेता नसीरुद्दीन शाह के भाई रिजवान अहमद की तस्वीरों का तुलनात्मक विश्लेषण देख सकते है | इससे यह स्पष्ट है की वायरल वीडियो में दिखाए गये वक्ता अभिनेता नसीरुद्दीन शाह के भाई रिजवान अहमद नही है | 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | वीडियो में दिखाए गये व्यक्ति अभिनेता नसीरुद्दीन शाह के भाई रिजवान अहमद नही है बल्कि विश्व हिन्दू परिषद् के वरिष्ठ नेता आचार्य धर्मेन्द्र है |

Avatar

Title:विश्व हिन्दू परिषद् के वरिष्ठ नेता के वीडियो को नसीरुद्दीन शाह के परिजनों का बता फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •