क्या लॉकडाउन के बीच मध्य प्रदेश में भा.ज.पा कार्यकर्ताओं द्वारा एक मुसलमान युवक को पीटा गया ?

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मौजूदा देशव्यापी लॉकडाउन से सम्बंधित एक वायरल वीडियो सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में है, वीडियो में कुछ लोगों एक व्यक्ति को पीटते हुए देखा जा सकता है | इस वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि लॉकडाउन के दौरान मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (B.J.P) के कार्यकर्ताओं द्वारा एक मुस्लिम युवक को पीटा जा रहा हैं |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “देखिए कैसे लॉकडाउन के दौरान मध्य प्रदेश में बीजेपी के गुंडे मुस्लिम युवक को प्रताड़ित कर रहे हैं |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता है कि..

जाँच कि शुरुवात हमने इस वीडियो को इन्विड टूल की मदद से गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने से की, जिसके परिणाम में हमें १८ अप्रैल २०२० को NDTV इंडिया के यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया एक बुलेटिन मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “Madhya Pradesh के Devas में सफाई कर्मचारी पर कुल्हाड़ी से हमला |”

इस न्यूज़ रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना मध्य प्रदेश के देवास जिले में हुई है | रिपोर्टर के अनुसार “कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही इस जंग में सबसे बड़ी भूमिका अगर किसी की है तो वह हैं कोरोना वॉरियर्स। डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के साथ इस लड़ाई में अगर कोई सबसे ज्यादा खतरा झेल रहा है तो वह हैं सफाईकर्मी |” इन सब के बीच मध्य प्रदेश के देवास जिले से एक खबर आ रही है जहाँ एक सफाई कर्मचारी पर कुल्हाड़ी से हमला किया गया है | हमले में वह गंभीर रूप से घायल हुआ है | इस घटना के बारें में पुलिस जांच कर रही है |

फैक्ट क्रेसेंडो ने मामले के बारें में अधिक जानकारी के लिए खातेगांव पुलिस स्टेशन के प्रभारी एस एस मुकाती से संपर्क किया, उन्होंने हमें बताया कि

“यह घटना १७ अप्रैल २०२० को खातेगांव में सफाई कर्मचारी पर हुए हमले से संबंधित है | इस सफाई कर्मचारी पर स्थानीय लोगों ने हमला किया था | जिसके पश्चात हमने चार लोगों को गिरफ्तार किया है और वे सब अभी जेल में है, और न ही इनमे से कोई भा.ज.पा का कार्यकर्त्ता है और न ही इस हमले के पीछे भा.ज.पा का कोई हाथ है| इस घटना को स्थानीय लोगों ने अंजाम दिया था | साथ ही यह सफाई कर्मचारी हिन्दू है | इस घटना के साथ संप्रदायिकता का कोई संबंध नही है | सपष्ट रहे कि इस घटना को अंजाम देने में किसी भी राजनितिक दल का कोई हाथ हमारी जाँच में सामने नहीं आया है | पीड़ित को उपचार के पश्चात अस्पताल से घर भेज दिया गया है और वे स्वस्थ है |”

निष्कर्ष: तथ्यों के जांच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | मध्य प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा मुस्लिम युवक की पिटाई के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो वास्तव में देवास जिले में सफाई कर्मचारियों पर स्थानीय लड़कों द्वारा हमले की घटना से संबंधित है | इस घटना के साथ संप्रदायिकता या किसी राजनितिक दल का कोई संबंध नही है |

Avatar

Title:क्या लॉकडाउन के बीच मध्य प्रदेश में भा.ज.पा कार्यकर्ताओं द्वारा एक मुसलमान युवक को पीटा गया ?

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •