2024 में पीएम मोदी के जीतने पर आशंका व्यक्त करते नीतीश कुमार का यह वीडियो पुराना है….

False Political

देश में 13 मई को लोकसभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान हुआ। इसी बीच मीडिया से बात करते हुए नीतीश कुमार का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किया जा रहा है। वायरल वीडियो में वो कहते नजर आ रहे हैं कि जो चौदह में आए, वो चौबीस में रह पाएंगे की नहीं ये मैं नहीं कह सकता। वीडियो को शेयर करते हुए यूजर्स दावा कर रहे हैं कि मौजूदा लोकसभा चुनाव के दौरान नीतीश कुमार ने 2024 में नरेंद्र मोदी की जीत पर शक जाहिर किया है। इस वीडियो के जरिए यूजर्स तंज कस रहे हैं कि नीतीश कुमार फिर से बीजेपी का साथ छोड़ने की कोशिश में हैं। 

वायरल वीडियो के साथ यूजर ने लिखा है- जो चौदह में आए, वो चौबीस में रह पाएंगे की नही रह पाएंगे ये मैं नहीं कह सकता– नीतीश कुमार। चच्चा फिर से पलटी मारने की पूरी तैयारी में हैं। हवा का रुख पता चल चुका है।

फेसबुकआर्काइव 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

पड़ताल की शुरुआत में हमने वायरल वीडियो के बारे में जानने के लिए अलग- अलग की-वर्ड का इस्तेमाल किया। परिणाम में वायरल वीडियो हमें एबीपी न्यूज के यूट्यूब  चैनल पर मिला । ये खबर 10 अगस्त 2022 की है। इससे ये स्पष्ट होता है कि वायरल वीडियो एक साल पुराना है। वीडियो का हालिया लोकसभा चुनाव से कोई संबंध नहीं है।  इस वीडियो में वायरल वीडियो का लंबा वर्जन मौजूद है। 

वायरल वीडियो को चैनल के 18.50 मिनट से देखा जा सकता है।

प्रकाशित खबर के अनुसार 2022 में शपथ ग्रहण के बाद नीतीश कुमार ने जब राजभवन में मीडिया कर्मियों से बात करते हुए नीतीश कुमार ने इशारों इशारों में बीजेपी पर हमला किया, और एक सवाल के जवाब में यहां तक कह दिया कि “14 में जो आए वो 24 तक रह पाएंगे या नहीं इसके बारे में कुछ नहीं कह सकते”।  उन्होंने उस वक़्त 2024 में नरेंद्र मोदी की जीत पर शक जाहिर किया था।

मिली जानकारी की मदद लेते हुए आगे की जांच करने पर वायरल वीडियो की खबर हमें यहां, यहां और यहां पर भी मिली। 

खबर के मुताबिक नीतीश कुमार 8वीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद जब मीडिया से बात किए तो  नीतीश कुमार ने कहा, ‘जो 2014 में आए थे क्या वे 2024 में भी आएंगे? मैं चाहता हूं कि सभी विपक्षी दल 2024 के लिए एकजुट हों।’ एनडीए का साथ छोड़ने के बाद बिहार सीएम ने बिना नाम लिए नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर हमला बोला। नीतीश ने कहा, ‘जिन लोगों को लगता है कि विपक्ष खत्म हो जाएगा तो हम लोग भी तो आ ही गए विपक्ष में। जितना करना है वो लोग करते रहें न।’

नीतीश कुमार फिर से बीजेपी के साथ- 

बता दें 2005 से अब तक हुए सारे ही चुनावों के नतीजे मिसाल हैं।  2013 में बीजेपी को छोड़ दिये तब भी 2015 में महागठबंधन के नेता के रूप में चुनाव जीत गये। 2017 में महागठबंधन छोड़कर 2020 में एनडीए के नेता के रूप में चुनाव जीतने में सफल रहे।   2020 के चुनाव नतीजे आने के बाद, फिर 2022 में नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ गठबंधन तोड़ राजद के साथ दोबारा से सरकार बनाई।  हालांकि, यह गठबंधन भी ज्यादा दिन नहीं चला और 2023 में नीतीश कुमार फिर से भाजपा के साथ हो गए। वर्तमान में जदयू और भाजपा मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं। 

निष्कर्ष- तथ्य-जांच के बाद हमने पाया कि, वायरल वीडियो अगस्त 2022 का है, जब नीतीश कुमार ने भाजपा का साथ छोड़ राजद (राष्ट्रीय जनता दल) के साथ जुड़ गए थे। वायरल वीडियो को मौजूदा लोकसभा चुनाव से जोड़ कर भ्रम फैलाया जा रहा है।  

Avatar

Title:2024 में पीएम मोदी के जीतने पर आशंका व्यक्त करते नीतीश कुमार का यह वीडियो पुराना है….

Fact Check By: Sarita Samal 

Result: False

Leave a Reply