पाकिस्तान के स्कूल की तस्वीर को भारत का बता कर गलत दावे से साझा किया जा रहा है।

False International

कीचड़ में बैठकर पढ़ाई कर रहे बच्‍चों की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रही है। जो काफी मन को विचलित कर देने वाली है। देखा जा सकता है कि तस्वीर में कुछ बच्चें अपनी कक्षा में न बैठ कर खुले में और कीचड़ में बैठे है। इस तस्वीर को साझा करते हुए यूज़र द्वारा देश के पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए दावा कर रहे हैं कि बदहाली की ये तस्वीर देश के सरकारी स्कूलों की है। तस्वीर पोस्‍ट करते हुए लिखा गया है कि…

देखिए इस तस्वीर को, 8000करोड़ के जहाज में घूमने वाले प्रधानमंत्री के राज्य में दुनिया की सबसे ऊंची 3500 करोड़ की स्टैचू वाले देश में,सनातनी संस्कार शिक्षा आदर्श के घोष काल में। देश के,आपके अपने बच्चों के भविष्य का वर्तमान। विश्वगुरू गर्वित बदलते स्वच्छ भारत का स्कूल। आपको ये नहीं देखना है आंख,दिमाग बंद करके आपको बस मंदिर,मंदिर जपना है।

फेसबुक पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने जांच की शुरुआत में तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज के माध्यम से खोजना शुरू किया। परिणाम में हमें एक्स हैंडल पर ट्वीट के साथ यह तस्वीर दिखाई दी।  जिसे पाकिस्तान के पीटीआई पार्टी की एक महिला सदस्य मुबीना खान के एक्स हैंडल पर 23 मार्च 2016 में साझा किया गया है। इसके साथ ट्वीट में लिखा है मुल्तान जिले के शुजाबाद में एक स्कूल।

मुबीना खान के एक्स हैंडल पर यह तस्वीर पाकिस्तान के एक पत्रकार अब्दुल क़यूम सिद्द्की के तरफ से पोस्ट किया गया था।

इससे हम इतना स्पष्ट हुए कि ये तस्वीर पाकिस्तान की है। अब हमने मिली जानकारी की मदद से आगे बढ़ते हुए अन्य तथ्यों की खोज की।

जहां हमें अब यही तस्‍वीर 2015 को अपलोड मिली। जिसे पाकिस्‍तानी एक्‍स हैंडल SKY KINGS ने 10 जनवरी 2015 को अपने अकाउंट पर शेयर किया था।हालांकि यहां पर कैप्शन उर्दू में था जिसके अनुवाद से यह समझ आया कि तंज कसते हुए  मियाँ साहब तीस साल से पंजाब पर राज कर रहे हैं और लड़कियाँ मेट्रो बस में बैठ कर शिक्षा ले रही हैं लिखा गया है।

पड़ताल के दौरान यही तस्‍वीर सियासत डॉट पीके नाम की एक वेबसाइट पर भी मिली। जिसमें स्कूल को पाकिस्‍तान के पंजाब का बताया गया है। इसे 10 जून 2015 को पोस्‍ट किया गया था।

इससे यह साफ़ होता है कि वायरल तस्वीर पाकिस्तान की है और 2015 की है।

निष्कर्ष 

तथ्यों के जांच से यह पता चलता है कि पाकिस्‍तान की तस्‍वीर को भारत के सरकारी स्कूल की बदहाली के भ्रामक दावे से फैलाया जा रहा है। जो असल में  पाकिस्तान के पंजाब की है।

Avatar

Title:पाकिस्तान के स्कूल की तस्वीर को भारत का बता कर गलत दावे से साझा किया जा रहा है।

Written By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply