आतंकी बासित डार की लाश के नाम पर फर्जी तस्वीर वायरल… 

False Social

बासित डार के नाम पर लाश की वायरल तस्वीर रबर फोम से बनी है, जिसे बनाने वाली कंपनी अमेरिका स्थित ‘डैपर कैडेवर’ है। जो असली इंसान के जैसे दिखने वाली डमी बॉडीज को हॉरर, थ्रिलर शो व हेलोवीन के लिए तैयार करती है।

अभी हाल ही में जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में 4 मई को ऐयरफोर्स के काफिले पर आतंकी हमले में एक जवान शहीद हो गया था । इस घटना के बाद आस- पास के इलाकों में सेना और पुलिस ने तलाशी अभियान चलाया। फिर 7 मई को कुलगाम इलाके में तलाशी के दौरान सेना और आतंकियों में मुठभेड़ की खबर सामने आई।  सेना ने लश्‍कर-ए-तैयबा के कमांडर बासित अहमद डार सहित कुल दो अतंकियों को मार गिराया। इसी क्रम में सोशल मीडिया पर आग से बुरी तरह झुलसी एक लाश की तस्वीर को वायरल किया जा रहा है। विचलित कर देने वाली इस तस्वीर के साथ यूज़र का दावा है कि, ये कुलगाम में सेना के साथ हुए मुठभेड़ में मारे गए 10 लाख के इनामी आतंकी बासित अहमद डार के  लाश की तस्वीर है।  वहीं तस्वीर को इस कैप्शन के साथ वायरल किया गया है…

यह लाश है 10 लाख के इनामी कमांडर बासित डार की , जिसने 3 दिन पहले कश्मीर में एयरफोर्स की गाड़ी पर हमला किया था जिसमे हमारा एक वीर जवान शहीद हो गया था!!  हर #जेहादी आतंकी का अब यही हाल किया जायेगा, अब सोनिया का राज नहीं है जो जैल में बिरयानी मिलेगी ।।  #आंतकवाद #Terrorism

फेसबुक पोस्टआर्काइव पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि….

हमने जांच की शुरुआत में तस्वीर का गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। परिणाम में हमें वायरल तस्वीर ‘डैपर कैडेवर’ नाम की वेबसाइट पर मिली। इसके साथ डिस्क्रिप्शन में लिखा गया था वेरी रियलिस्टिक फीमेल बर्न बॉडी। वेबसाइट पर मौजूद जानकरी के अनुसार वायरल फोटो वाली डमी बॉडी का नाम ‘BURN LUTTRA CADAVER BODY’ है। जिसे ऑनलाइन खरीदने का ऑप्शन दिया गया है। हमने देखा कि वेबसाइट पर इस डमी बॉडी की कई और तस्वीरों को पोस्ट किया गया है , जो वायरल तस्वीर से मिलती जुलती थीं।

आर्काइव

इसके बाद हमने कंपनी की वेबसाइट पर जा कर यह पता लगाया कि ‘डैपर कैडेवर ‘अमेरिका स्थित कंपनी है। जो रबर फोम से शवों को बनाती है। फिर उनका इस्तेमाल हेलोवीन, हॉरर मूवी प्रॉप्स और प्रशिक्षण के समय किया जाता है। वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक कंपनी द्वारा बनाई गईं असली इंसान के जैसे दिखने वाली डमी बॉडीज कई हॉरर और थ्रिलर टीवी शोज में देखी जा चुकी हैं।

आर्काइव

हमें पड़ताल के दौरान कंपनी की सोशल साइटों जैसे फेसबुक (आर्काइव) और इंस्टग्राम (आर्काइव) पर वोही वायरल तस्वीर जनवरी 2018 में शेयर की हुई मिली। तस्वीर के साथ दिए गए कैप्शन में लिखा है, गोल्डन ग्लोब्स विजेताओं और नामांकितों को बधाई, विशेषकर थ्री बिलबोर्ड्स को। बर्न लुट्रा फिल्म में चित्रित अपराध स्थल का मुख्य भाग था। इस वर्ष दृढ़ता की ऐसी कहानी को जीतते देखना बहुत अच्छा है। हमें इस प्रोजेक्ट में लाने के लिए प्रॉप्स में रोमेन को धन्यवाद। यदि आपने पहले से नहीं देखा है, तो शो में ओपरा और गुइलेर्मो डेल टोरो के भाषण देखें।

हम पूरी तरह स्पष्ट हुए कि यह तस्वीर डमी बॉडी है जिसका नाम बर्न लुट्रा है, और इसे फिल्म में किसी क्राइम सीन पर दिखाने के लिए इस्तेमाल किया गया है।

निष्कर्ष 

तथ्यों के जांच के पश्चात हमने वायरल तस्वीर के विषय में यह पाया है कि, मारे गए आतंकी बासित अहमद डार की तस्वीर के नाम पर फर्जी तस्वीर फैलाई गयी है। असल में तस्वीर रबर फोम से बने शव की है, जिसे डैपर कैडेवर नाम की एक अमेरिकन कंपनी ने बनाया है। 

Avatar

Title:आतंकी बासित डार की लाश के नाम पर फर्जी तस्वीर वायरल…

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply