बीजेपी की रैली का बताकर शेयर किया जा रहा वीडियो असल में जेजेपी रैली का है, दावा गलत…..

False Political

साल के अंत में राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में अब बड़े नेताओं की सभाओं में भीड़ के बड़े मायने निकले जा रहे हैं।  कुछ दिन पहले पीएम नरेंद्र मोदी की जयपुर के दादिया में हुई ‘परिवर्तन संकल्प महासभा’ में लाखों की भीड़ दिखी। अब इसी से जोड़ते हुए एक वीडियो शेयर किया जा रहा है। वीडियो में कुछ महिलाओं को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उन्हें खाटू श्याम जी के दर्शन के बहाने रैली में भीड़ जुटाने के लिए लाया गया है। अब कुछ यूजर्स इस वीडियो को बीजेपी की रैली का बताकर शेयर कर रहे हैं।

वायरल वीडियो के साथ यूजर ने लिखा है – भाजपा वाले क्या ऐसे राजस्थान चुनाव जीतोगे…?पहले तो वँहा के एक मंदिर में तुम्हारे मोदी जी ने 21/-रु चंदा देकर पहले ही अपनी और भाजपा पार्टी की भद्द पिटवा दी…..अब ये लो मोदी की रैली में खाटू श्याम जी के दर्शन करवाने के नाम पर लोगो को जबरदस्ती रैली का हिस्सा बनाते हो…

फेसबुकआर्काइव 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए सबसे पहले वीडियो के स्क्रीनशॉट को गूगल इमेज सर्च करने पर वायरल वीडियो हमें ‘एचआर 20 न्यूज इंडिया’ के फेसबुक पेज पर मिला। जिसे 25 सितंबर 2023 में देखा जा सकता है।  इसमें एक शीर्षक लिखा देखा जा सकता है कि जो इसी न्यूज़ चैनल का है । “जेजेपी की रैली में फर्जी भीड़ जमा। ताऊ देवीलाल के जन्मदिन का सम्मान या अपमान| सालासर और खाटू श्याम के नाम पर बुलाई भीड़।” 

स्पष्टीकरण के लिए हमने एचआर 20 न्यूज इंडिया’ से संपर्क किया। उन्होंने हमें स्पष्ट किया कि वायरल वायरल दावा गलत है। वीडियो बीजेपी का नहीं बल्कि जेजेपी की रैली का है।

सर्च के दौरान वायरल वीडियो से जुड़ी रिपोर्ट ‘कॉमन न्यूज 11’ नाम के यूट्यूब चैनल पर भी मिला। 25 सितंबर 2023 को अपलोड वीडियो में वायरल वीडियो को शुरुआत से लेकर एक मिनट 55 सेकंड के बीच में देखा जा सकता है। खबर के शीर्षक में लिखा गया है- JJP की रैली में खाटू श्याम बाबा के नाम पर बुलाई भीड़। जनता हुई परेशान।

महिलाओं ने जेजेपी पर लगाए थे गंभीर आरोप-

इसके अलावा दैनिक भास्कर में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक “पूर्व उप प्रधानमंत्री देवीलाल की जंयती पर राजस्थान के सीकर में हुई जेजेपी की रैली को लेकर अंबाला में सियासी घमासान मच गया है। कुछ महिलाओं ने जेजेपी पर खाटू श्याम के दर्शन करने के बहाने रैली में लाए जाने के आरोप लगाए हैं। 

दरअसल, एक सोशल मीडिया चैनल पर बलदेव नगर व मॉडल टाउन निवासी मीनू व पंकज शर्मा समेत अन्य महिलाओं ने प्रतिक्रिया देते हुए जेजेपी पर गुमराह करने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि उन्हें खाटू श्याम और सालासर धाम के फ्री दर्शन कराने के नाम पर झूठ बोलकर रैली में लेकर गए। उन्होंने आरोप लगाया था कि जेजेपी नेत्री राजेश ने 100-100 रुपए प्रति व्यक्ति के खर्च पर खाटू श्याम जी और सालासर धाम ले जाने की बात कही थी।

वहीं, जेजेपी की महिला विंग ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए सफाई दी है। पार्टी की महिला प्रधान सरबजीत कौर ने कहा कि अपोजिशन उनके विस्तार से बौखला चुका है, जिस कारण उन्हें बदनाम किया जा रहा है। यह लोगों की आस्था के साथ खिलवाड़ नहीं बल्कि विरोधी और उनके चेले-चपटों की सोची समझी चाल है। हमने ये जरूर कहा था कि समय रहा तो खाटू श्याम दर्शन जरूर कराएंगे, वो कराए भी हैं।

निष्कर्ष- तथ्य-जांच के बाद, हमने पाया कि बीजेपी की रैली का बताकर शेयर किया जा रहा वीडियो असल में जेजीपी रैली का है। जिसे गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। वायरल वीडियो सितंबर 2023 में राजस्थान के सीकर में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) द्वारा चौधरी देवीलाल की जयंती पर आयोजित की गई रैली का है। 

Avatar

Title:बीजेपी की रैली का बताकर शेयर किया जा रहा वीडियो असल में जेजेपी रैली का है, दावा गलत…..

Written By: Sarita Samal 

Result: False