2019 में कोलकाता में आयोजित रैली की तस्वीर हालिया रामलीला मैदान में  विपक्ष की मेगॉ रैली का बताकर वायरल…

False Political

लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए , अभी हाल ही में  31 मार्च को विपक्षी दलों के I.N.D.I.A अलायंस द्वारा दिल्ली के रामलीला मैदान में एक मेगा रैली का आयोजन किया गया था। इसी संदर्भ  में भारी जनसैलाब को दर्शाती एक तस्वीर  को सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किया जा रहा है। तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि ये रामलीला मैदान में आयोजीत विपक्ष की महारैली का दृश्य है। वहीं यूजर्स तस्वीर को पोस्ट करते हुए मोदी सरकार पर तंज कस रहे हैं। 

वायरल वीडियो के साथ यूजर ने लिखा है- रामलीला मैदान एलायंस रैली में आज के दृश्य, मोदी तो गयो

ट्वीटरआर्काइव

अनुसंधान से पता चलता है कि…

पड़ताल की शुरुआत में हमने तस्वीर का रिवर्स इमेज सर्च किया। जिसके परिणाम में वायरल तस्वीर हमें एक ट्विटर अकाउंट में अपलोड किया हुआ मिला। तस्वीर को 7 मार्च 2021 में अपलोड किया गया है। इससे ये तो साफ है कि ये तस्वीर पुरानी है और इसका हालिया चुनावी रैली से कोई संबंध नहीं है।

पोस्ट के कैप्शन में लिखा है- बंगाल में मोदी सागर..

आर्काइव

आगे अधिक सर्च करने पर हमें ये वायरल तस्वीर कई मीडिया रिपोर्टस में मिली। पीपल्स डिस्पैच (आर्काइव), पीपल्स डेमोक्रेसी(आर्काइव) और सोशल न्यूज़(आर्काइव) वेबसाइट में वायरल तस्वीर फ़रवरी 2019 में प्रकाशित की गई है। 

प्रकाशित रिपोर्टस के अनुसार 3 फ़रवरी 2019 को कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान में वामपंथी नेतृत्व में रैली आयोजित की गई थी। इस  रैली में हजारों वाम दलों के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया था।  रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार और राज्य में टीएमसी के नेतृत्व वाली सरकार के ख़िलाफ़ रैली आयोजित की गई थी। 


इसके अलवा हमें ये तस्वीर अलामी स्टॉक इमेज में मिला।  यहां पर दी गई जानकारी के अनुसार यह लेफ्ट ब्रिगेड (सीपीआई) की 3 फरवरी 2019 में आयोजित रैली की तस्वीर है।

मिली जानकारी की मदद लेते हुए, आगे की जांच में हमें सीपीआई (एम) पश्चिम बंगाल का एक ट्वीट मिला। 10 जून 2020 को किए गए इस ट्वीट में  वायरल तस्वीर के साथ जानकारी दी गई है कि ‘कोलकाता में 2019 की बिरगेड रैली का एक विहंगम दृश्य। इसका मतलब है कि तस्वीर असल में 2019 की बैठक की है।

आर्काइव

निष्कर्ष- तथ्य-जांच के बाद हमने पाया कि, पश्चिम बंगाल के कोलकाता में 2019 में आयोजित वाम मोर्चा रैली की ये तस्वीर है। जिसे फर्जी दावे से वायरल किया जा रहा है। इस तस्वीर का दिल्ली के रामलिला मैदान में हालिया आयोजीत विपक्ष की महारैली से कोई संबंध नहीं है।

Avatar

Title:2019 में कोलकाता में आयोजित रैली की तस्वीर हालिया रामलीला मैदान में विपक्ष की मेगॉ रैली का बताकर वायरल…

Fact Check By: Sarita Samal 

Result: False

Leave a Reply