क्या कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड पर भाजपा की सभा मे १० लाख से भी ज़्यादा लोगों का जनसैलाब उमड़ा था ? जानिये सच |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२५ अप्रैल २०१९ को कृष्णामूर्ति हरिहरन नामक एक फेसबुक यूजर ने एक तस्वीर पोस्ट की | तस्वीर के शीर्षक में लिखा गया है कि बीजेपी की कोलकाता रैली में दो गंजे सिर के सामने यह रेत नहीं है | विशाल ब्रिगेड ग्राउंड पर १० लाख से ज्यादा कार्यकर्ता (कोलकाता पुलिस द्वारा दिया गया आंकड़ा) की भारी भीड़ थी | किसी की बेतहाशा कल्पना से परे की घटना है | पार्क स्ट्रीट से ‘मैडन’ (मेयो रोड) की ओर जाने वाली सड़क पूरी तरह से अवरुद्ध थी | इस तस्वीर के माध्यम से यह दावा किया जा रहा है कि रैली में दिखाई देने वालें गंजे सिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के है तथा भाजपा की रैली में भीड़ की है | दावा किया जा रहा है कि यह रैली बंगाल के ब्रिगेड ग्राउंड पर हुई थी  | यह तस्वीर काफी चर्चा में है व सोशल मीडिया पर तेजी से साझा की जा रही है |

आर्काइव लिंक

तस्वीर में १० लाख लोगों की भीड़ दिखने का दावा थोड़ा अटपटा लगता है | तस्वीर में लोग ऐसे नज़र आ रहे है जैसे की कोई चींटीओं की समूह हो | तस्वीर को देखने से ही लगता है कि इसके साथ कोई छेड़छाड़ की गयी है | इसीलिए हमने सच्चाई जानने की कोशिश की |

संशोधन से पता चलता है की…

जाँच की शुरुआत हमने तस्वीर का स्क्रीनशॉट लेकर गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने से की जिसके परिणाम में हमें मिलती-जुलती कोई तस्वीर नहीं मिली | इसके बाद तस्वीर को हमने आधा क्रॉप करके रिवर्स इमेज सर्च किया | परिणाम से हमें साझा की गयी तस्वीर से मिलती-जुलती एक तस्वीर रेडिट के वेबसाइट पर मिली |

रेडिट के वेबसाइट ने एक ऐसी ही तस्वीर अपलोड की जिसमें मोदी और अमित शाह के सिर और बैठने का पोजीशन समान हैं, लेकिन  भीड़ बिल्कुल अलग है | तस्वीर ३१ दिसंबर २०१७ की थी, जब अमित शाह और नरेंद्र मोदी को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के शपथ ग्रहण समारोह में एक मंच में बैठे हुए देखा जा सकता है | भीड़ के पास रेडिट छवि में भारतीय ध्वज के साथ कुछ तंबू दिखाई दे रहे हैं | इस तस्वीर में हमें चींटी जैसे लोगों की समूह नहीं दिखाई देता है |

आर्काइव लिंक

हमने फिर इस शपथ समारोह के बारे मे गूगल मे ढूँढा और हमें २७ दिसम्बर २०१७ को एनडीटीवी द्वारा प्रकाशित खबर मिली जिसमे लिखा गया है कि २७ दिसंबर २०१७ को हिमाचल प्रदेश में बीजेपी के जयराम ठाकुर मुख्यमंत्री के शपथ समारोह संपन्न हुआ | यह समारोह शिमला के “द रिज व्यू पॉइंट” के मैदान में आयोजित किया गया था | इस शपथ समरोह में ५०००० से अधिक लोग मौजूद हुए थे |

आर्काइव लिंक

नरेन्द्र मोदी के अधिकारिक वेबसाइट पर भी हमें यह तस्वीरें मिली | यह तस्वीरें २७ दिसंबर २०१७ को अपलोड की गयी थी | शीर्षक में लिखा गया है कि “हिमाचल प्रदेश सरकार के मंत्रीपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह में पीएम मोदी की मौजूदगी” | खबर में लिखा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश सरकार के मंत्रीपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत की |  जयराम ठाकुर और शपथ लेने वाले सभी लोगों को बधाई देते हुए, प्रधानमंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि टीम अथक परिश्रम करेगी और असाधारण परिश्रम के साथ हिमाचल प्रदेश के लोगों की सेवा करेगी | वेबसाइट पर इस घटना की विडियो व अन्य एंगल से ली गई तस्वीरें उपलब्ध है | नीचे आप इसी घटना की दुसरे एंगल से ली गयी तस्वीरों को देख सकते है |

आर्काइव लिंक

प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से हमें शिमला में मौजूद भीड़ की तस्वीर मिली | यह तस्वीर २७ दिसंबर २०१७ को अपलोड की गई थी |

आर्काइव लिंक

हमें भाजपा लाइव के अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से २७ दिसंबर २०१७ को की गई ट्वीट मिली | ट्वीट में लिखा गया है कि तस्वीरें तब की हैं, जब शाह और मोदी ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के शपथ ग्रहण समारोह में मंच पर बैठे थे |

आर्काइव ट्वीट

२६ दिसंबर २०१७ को एएनआई के अधिकारिक ट्विटर अकाउंट ने भी इस खबर को प्रकाशित किया था | ट्वीट में लिखा गया है कि “शिमला: वीरेंद्र कंवर और विक्रम सिंह ने हिमाचल प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्रियों के रूप में शपथ ली |”

आर्काइव लिंक

नरेन्द्र मोदी के अधिकारिक वेबसाइट से हमें एक यू-ट्यूब विडियो मिला | विडियो ३६ मिनट २५ सेकंड की है | इस विडियो में हम १६ मिनट ३८ सेकंड से पुरे जनता की भीड़ को देख सकते है जो १० लाख से काफ़ी कम नज़र आती है | यह विडियो २७ दिसंबर २०१७ को नरेन्द्र मोदी के अधिकारिक यू-ट्यूब अकाउंट से लाइव दिखाया गया था | विडियो के विवरण में लिखा गया है कि “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिमला के अन्नाडेल में हिमाचल प्रदेश की नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में.. जयराम ठाकुर हिमाचल प्रदेश के नए मुख्यमंत्री बने |”

इसके पश्चात हमने फेसबुक पर साझा की गई तस्वीर व शिमला में हुए मुख्यमंत्री पद ग्रहण की तस्वीरों की तुलना की | हमें यह नज़र आया की मूल तस्वीर में इतनी भीड़ नहीं है जितनी वायरल तस्वीर में दिखाया जा रहा है | इसका यह मतलब होता है की इस तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गयी है |

इसके पश्चात हमने फेसबुक पर कथित कोलकाता में ब्रिगेड ग्राउंड को गूगल मैप्स पर ढूँढा तो हमें पता चला कि यह ग्राउंड १० लाख से अधिक लोगों के लिए काफ़ी बड़ा है | हमें पता चला कि मैदान का क्षेत्र ५ किलोमीटर बड़ा क्षेत्र है जिसका एक हिस्सा ब्रिगेड ग्राउंड है | यह ग्राउंड विक्टोरिया मेमोरियल के सामने से शुरू होता है व पार्क स्ट्रीट से मैदान के तरफ जाने वाला रास्ता मेयो रोड पर खत्म होता है |

इसके पश्चात हमने कोलकाता में हुई नरेन्द्र मोदी की रैली को गूगल पर ढूँढा | हमें ४ अप्रैल २०१९ को द वायर द्वारा प्रकाशित खबर मिली | खबर में लिखा गया है कि ३ अप्रैल २०१९ को ब्रिगेड ग्राउंड में भाजपा की रैली आयोजित की गई थी | इस विशाल ब्रिगेड परेड ग्राउंड को मोदी की रैली में शामिल होने वालों को गर्मी से बचाने के लिए विशाल जर्मन हैंगर का उपयोग किया गया था | खबर के शुरुआत में यह भी लिखा गया है कि ड्यूटी पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों का कहना है कि केवल २ से २.५ लाख लोगों ने इस रैली में भाग लिया, जबकि पार्टी को ६ से ७ लाख लोगों की उम्मीद थी |

आर्काइव लिंक

कोलकाता के स्थानीय न्यूज़ वेबसाइट “एई शोमोय” के वेबसाइट द्वारा ३ अप्रैल २०१९ को प्रकाशित खबर मिली | खबर में लिखा गया है कि “ब्रिगेड में पहली बार भाजपा ने हैंगर का आयोजन करके बैठक किया जिसके बावजूत ब्रिगेड परेड ग्राउंड में ज्यादातर जगह खाली थी |” इस खबर के साथ आधा भरा हुआ ग्राउंड का तस्वीर भी संग्लन किया गया है |

आर्काइव लिंक

निषकर्ष:  तथ्यों की जांच कि पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया | तस्वीर व दावा दोनों ही गलत है |

१) मूल तस्वीर हिमाचल प्रदेश सरकार के मंत्रीपरिषद के समारोह में शपथ ग्रहण करते वक्त प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व भाजपा पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की है | तस्वीर के साथ फोटोशोप का इस्तेमाल करके छेड़छाड़ की गयी है | मूल तस्वीर में वायरल तस्वीर जैसी भीड़ नहीं है |

२) दावों अनुसार भाजपा के कोलकाता में ब्रिगेड ग्राउंड रैली में १० लाख से ऊपर जनता आई थी | परंतु संशोधन से पता चलता है की इस रैली का लगभग २ से २.५ लाख की जनसँख्या थी |

Avatar

Title:क्या कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड पर भाजपा की सभा मे १० लाख से भी ज़्यादा लोगों का जनसैलाब उमड़ा था ? जानिये सच |

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply