ये वीडियो २३ अगस्त २०१९ का गुजरात जामनगर से है जहाँ महिलाओं द्वारा तलवारबाजी कौशल का प्रदर्शन किया गया था |

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नागरिकता संशोधन अधिनियम(CAA) का विरोध भारत के कई हिस्सों में व्यापक रूप से हो रहा है, इन विरोधों अलग अलग जगहों में पिछले कई दिनों से लगातार २४x७ प्रदर्शन चल रहा है | प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने दिल्ली के शाहीन बाग़ और लखनऊ के घंटाघर को नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के खिलाफ प्रदर्शनों का केंद्र बिंदु बना दिया है, जिसके चलते सोशल मंचो पर शाहीन बाग़ और घंटाघर को लेकर कई भ्रामक व गलत लेख, वीडियो व फोटो अकसर डालीं जा रहीं है, ऐसा ही एक पोस्ट जिसमे हजारों राजपूत औरतों को हाथ में तलवार लिए नारे लगाते हुए सुना जा सकता है को इस दावे के साथ फैलाया जा रहा है कि यह महिलाएं शाहीन बाग़ और घंटाघर की मुसलमान औरतों के खिलाफ तलवार लेकर प्रदर्शन कर रही है | इस दावे से ऐसा भी प्रतीत होता है की वीडियो में दिखाए गये राजपूत महिलाएं CAA और NRC के समर्थन में खड़ी हैं |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “शाहीन बाग और घंटाघर की मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ खड़ी हुई कट्टर हिंदू राजपूताना महिलाएं…!! जय भवानी” 

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

यह वीडियो फेसबुक पर भी काफी तेजी से साझा किया जा रहा है |

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने यूट्यूब पर अलग अलग कीवर्ड्स की मदद से इस वीडियो को ढूँढने से की, जिसके परिणाम में हमें २३ अगस्त २०१९ को अपलोड किया गया वीडियो मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “गुजरात मे 2000 से ज्यादा #क्षत्राणियों ने एक साथ तलवार बाजी करके #विश्व_रिकॉर्ड बनाया गुजरात” 

इस वीडियो का ३० सेकंड का लम्बा वर्शन एक अन्य यूट्यूब चैनल ने २५ अगस्त २०१९ को प्रकाशित किया है | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि ” गुजरात मे 2000 से ज्यादा राजपूत बहनों ने एक साथ तलवार बाजी करके विश्व रिकॉर्ड बनाया गुजरात राजपूत सम” |

इसके पश्चात हमने इस वीडियो द्वारा दिए गये जानकारी से सम्बंधित कीवर्ड्स को गूगल पर ढूँढा, जिसके परिणाम में हमें २३ अगस्त २०१९ को टाइम्स ऑफ़ इंडिया द्वारा प्रकाशित एक खबर मिली | इस खबर के शीर्षक में लिखा गया है कि “२००० राजपूत महिलाओं ने जामनगर में अपने तलवार कौशल का प्रदर्शन किया, विश्व रिकॉर्ड बनाया |”

खबर के अनुसार राजपूत समुदाय की २००० से अधिक महिलाओं ने गुजरात के जामनगर में अपनी तलवारबजी कौशल का प्रदर्शन करते हुए विश्व रिकॉर्ड बनाया | महिलाओं ने धरोल के भूचर मोरी में अपने कौशल का प्रदर्शन किया |

आर्काइव लिंक 

इसके आलावा हमें VTv गुजराती न्यूज़ एंड बियॉन्ड के यूट्यूब चैनल द्वारा प्रकाशित खबर मिली | इस वीडियो के अनुसार जामनगर में, तलवार रास खेलने वाली दो हजार महिलाओं ने रिकॉर्ड बनाया | 

इस खबर को गुजराती में दिव्या भास्कर ने भी प्रकाशित किया है | 

आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से ये स्पष्ट होता है कि उपरोक्त वायरल वीडियो के साथ शाहीन बाग़ और घंटाघर में CAA और NRC के विरोध प्रदर्शन कर रही मुसलमान महिलाओं का कोई संबंध नही है |

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | यह वीडियो २३ अगस्त २०१९ को जामनगर में महिलाओं द्वारा तलवारबाजी कौशल के प्रदर्शन का है | इस वीडियो के साथ शाहीन बाग़ में CAA का विरोध कर रही महिलाओं का कोई संबंध नही है | 

Avatar

Title:ये वीडियो २३ अगस्त २०१९ का गुजरात जामनगर से है जहाँ महिलाओं द्वारा तलवारबाजी कौशल का प्रदर्शन किया गया था |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1 thought on “ये वीडियो २३ अगस्त २०१९ का गुजरात जामनगर से है जहाँ महिलाओं द्वारा तलवारबाजी कौशल का प्रदर्शन किया गया था |

  1. मैंने इस वीडियो को फेसबुक के एक पेज पर देखा था और डाउनलोड कर सेंट किया। भुल-चूक के लिए मैं क्षमा प्रार्थी हूँ।

Comments are closed.