क्या कनिमोझी के घर पर पड़ा आयकर छापा और मिले १३५ करोड़ रूपए ? जानिये सच |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

यह चित्र हमने Scroll से प्रतिनिधित्व के लिए लिया है |

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट काफ़ी साझा की जा रही है जिसमे दावा किया जा रहा है कि आज का कनिमोई (राज्य सभा सदस्य) कांड जिसमे 135 करोड़ बरामद हुए …’ कितनी सच्चाई है इस दावे में, आइये देखते हैं |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:  

FacebookPost | ArchivedLink

तथ्यों की जांच:

हमने जांच की शुरुवात एम. के. कनिमोझी पर लगाए उपरोक्त दावे को ढूंढकर की | जब गूगल मे हमने आयकर विभाग द्वारा छापे के बारे में ढूँढा तो हमें NDTV और TOI द्वारा प्रकाशित ख़बरें मिली, जिसमे मंगलवार, १६ अप्रैल २०१९ को रात के ०८:३० बजे उनके तुतीकोरिन शहर में कुरिनजी नगर वाले घर में अचानक आयकर छापा पड़ने के बारे मे ख़बर थी |

ख़बर के अनुसार आईटी विभाग को ग़लत गुप्त सूचना (टिप) मिली थी कि कनिमोझी के घर के उपरी मंजिल पर कालाधन छुपा रखा है | मगर २ घंटे तक पूरा घर तलाशने के बाद भी उन्हें कुछ हासिल ना हुआ |

NDTVPost | ArchivedLink

TOIPost | ArchivedLink

NDTV द्वारा प्रसारित ख़बर का विडियो नीचे देखिये |

इस ख़बर से इस बात की पुष्टि तो हो गयी कि कनिमोझी के घर से कोई भी कालाधन बरामद नहीं हुआ, मगर उपरोक्त पोस्ट मे दिखाये जाने वाला धन कहाँ बरामद हुआ यह जानने के लिए हमने उपरोक्त पोस्ट के चित्र को गूगल मे रिवर्स इमेज सर्च और यांडेक्स मे इमेज सर्च किया |

इस सर्च से हमें १० दिसम्बर २०१६ की ख़बरें मिली, जिसमे लिखा था की नोटबंदी के दौरान आयकर विभाग ने कर्नाटक, हैदराबाद, चेन्नई और वेल्लोर में छापे डाले और उन्हें ढेर सारे नए नोट व सोना बरामद हुआ था |

TOIPost | ArchivedLink

ThehinduPost | ArchivedLink

ConnectgujaratPost | ArchivedLink

इन ख़बरों में दर्शाया गया चित्र उपरोक्त चित्र से मेल खाता है | इससे यह बात की पुष्टि होती है कि, १० दिसम्बर २०१६ में नोटबंदी के दौरान आयकर विभाग द्वारा की गई कार्रवाई की तस्वीरें, कनिमोझी के घर मे १६ अप्रैल २०१९ को पड़े छापे के साथ जोड़कर भ्रामक रूप से साझा की जा रही है | नीचे आप उपरोक्त पोस्ट मे दिया फोटो और विभिन्न ख़बरों मे प्रकाशित फोटो की तुलना देख सकते हैं |

निष्कर्ष : ग़लत

हमारे द्वारा तथ्यों की जांच से यह बात साफ़ होती है कि उपरोक्त पोस्ट मे दर्शाए जाने वाले चित्र के साथ किया गया दावा कि ‘आज का कनिमोई (राज्य सभा सदस्य) कांड जिसमे 135 करोड़ बरामद हुए …’ ग़लत है | उपरोक्त चित्र १० दिसम्बर २०१६ में नोटबंदी के दौरान आयकर विभाग द्वारा की गई कार्रवाई में बरामद पैसों की तस्वीर है और १६ अप्रैल २०१९ को कनिमोझी के घर पर पड़े छापे में आयकर विभाग को कोई भी कालाधन बरामद नहीं हुआ था |

Avatar

Title:क्या कनिमोझी के घर पर पड़ा आयकर छापा और मिले १३५ करोड़ रूपए ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •