यमन के सना में मिलाद उन-नबी के जश्न पर जमा हुई भीड़ को चेचन्या में फ्रांस के खिलाफ प्रदर्शन बता वायरल किया जा रहा है।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

फ्रांस के खिलाफ दुनिया भर में हो रहे प्रदर्शनों से संबन्धित सोशल मंचों पर कई वीडियो व तस्वीरें गलत दावों के साथ वायरल किये जा रहे हैं। फैक्ट क्रेसेंडो ने फ्रांस से संबन्धित ऐसी कई वायरल खबरों की सच्चाई आप तक पहुँचायी है। इसी दौरान एक वीडियो इंटरनेट पर काफी चर्चा में है। इस वीडियो में हजारों की तादाद में लोगों की भीड़ देखी जा सकती है, भीड़ के बीच में हरे रंग का एक बड़ा सा गोल देख सकते है जिसके ऊपर अरबी भाषा में कुछ लिखा हुआ है। वीडियो में थोड़ी देर बाद आपको दायी ओर स्थित एक मस्जिद भी नज़र आएगी। इस वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक यह भीड़ चेचन्या में फ्रांस के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है।

वायरल हो रहे वीडियो के शीर्षक में लिखा है, 

मोहब्बत नबी से ! चेचन्या की आवाम लगाएगी लगाम गुस्ताखिये रसूल को।“

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

 फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहा वीडियो 2019 में यमन के सना में पैगंबर हज़रत मुहम्मद के जन्मदिन के जश्न से है, इसका फ्रांस के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों से कोई संबद्ध नहीं है।

जाँच की शुरूवात हमने इनवीड–वी वैरिफाइ टूल के माध्यम से गूगल रीवर्स इमेज सर्च के ज़रिये की, परिणाम में हमें 2019 में प्रकाशित कुछ समाचार लेख मिले जिनके मुताबिक वायरल हो रहा यह वीडियो यमन देश में पैगंबर मुहम्मद के जन्मोत्सव समारोह पर शूट किया गया था। ए.बी.एन.ए नामक एक न्यूज एजन्सी द्वारा प्रकाशित एक समाचार लेख में हमें वायरल हो रहे वीडियो से समदृश्य तस्वीरें प्रकाशित की गयी मिलीं।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Prohphet Mohammad Birthday5.png

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात और अधिक जाँच करने पर हमें धामर न्यूज़ द्वारा प्रकाशित एक समाचार लेख मिला जिसमें उन्होंने पैगंबर मुहम्मद की जन्मोत्सव समारोह की तस्वीर प्रकाशित की हुई है। यह तस्वीर हम वायरल हो रहे वीडियो में भी देख सकते है। इस समाचार लेख में गौर करने वाली बात यह है कि जो तस्वीर उन्होंने प्रकाशित की है उसपर वायरल हो रहे वीडियो में दिखाया गया लोगो हम देख सकते है। 

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Prohphet Mohammad Birthday1.png

आर्काइव लिंक 

तदनंतर अधिक जाँच के लिए कीवर्ड सर्च करने पर हमें गेट्टी इमेजेज द्वारा प्रसारित ए.एफ.पी टी.वी का एक वीडियो मिला जिसके शीर्षक में लिखा था, 

यमन देश में स्थित सना में पैगंबर मोहम्मद का जन्मदिन मनाया जाता है। यमन और हुथी समर्थक सना में इकट्ठा होकर पैगंबर मोहम्मद का जन्मदिन मनाते है। (ए.एफ.पी टी.वी द्वारा फुटेज प्राप्त करने के माध्यम से)”

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Prohphet Mohammad Birthday2.png

इसके बाद, वीडियो के स्थान की खोज करने पर, हमने पाया कि वायरल वीडियो में देखी गई मस्जिद यमन के साना शहर में अल सालेह मस्जिद है। इसके बाद, हमने अल सालेह मस्जिद का मैप्स द्वारा सड़क दृश्य छवि की खोज की। नीचे आप वायरल वीडियो में देखी गई मस्जिद और यमन में स्थित अल सालेह मस्जिद की तुलनात्मक छवि देख सकते हैं।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Prohphet Mohammad Birthday4.png

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया है कि उपरोक्त दावा गलत पाया है। वायरल हो रहा वीडियो 2019 का यमन के सना में पैंगबर मुहम्मद के जन्मदिन के जश्न का है, इसका फ्रांस के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों से कोई संबद्ध नहीं है।

Avatar

Title:यमन के सना में मिलाद उन-नबी के जश्न पर जमा हुई भीड़ को चेचन्या में फ्रांस के खिलाफ प्रदर्शन बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply